रूस समर्थक बंदूकधारियों का यूक्रेन में क्रीमिया प्रायद्वीप पर कब्जा

रूस समर्थक बंदूकधारियों ने यूक्रेन के अस्थिर क्रीमिया प्रायद्वीप में संसद और सरकारी इमारतों पर आज कब्जा कर लिया।

अंतिम अपडेट: Feb 27, 2014, 07:00 PM IST

सिंफेरोपोल (यूक्रेन) : रूस समर्थक बंदूकधारियों ने यूक्रेन के अस्थिर क्रीमिया प्रायद्वीप में संसद और सरकारी इमारतों पर आज कब्जा कर लिया। दरअसल कीव में सांसदों ने पश्चिम समर्थक कैबिनेट को स्वीकृति देने की तैयारी कर ली है जिसके विरोध में रूस समर्थक बंदूकधारियों ने क्रीमिया पर कब्जा कर लिया।
यह छापेमारी ऐसे समय हुई है जब एक ही दिन पहले रूप के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन की सीमा के निकट युद्ध अभ्यास का आदेश दिया था। अमेरिका ने कल यूक्रेन की अर्थव्यवस्था को बचाने के लिए एक अरब डॉलर के कर्ज गारंटी का वादा किया। उम्मीद की जा रही है कि इसमें यूरोपीय संघ की ओर से भी 1.5 अरब डॉलर की अतिरिक्त राशि मिलेगी। यूक्रेन के नए शासकों ने कहा है कि देश की तंगहाल अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए उन्हें 35 अरब डॉलर की जरूरत है।
साल 1991 में यूक्रेन की आजादी के बाद यह पहला मौका था जब पिछले दिनों सबसे भीषण रक्तपात हुआ। भारी विरोध प्रदर्शनों और हिंसा के बाद राष्ट्रपति विक्ट यानुकोविच को पद से हटना पड़ा। विपक्षी नेता यूलिया तिमोशेंको के निकट सहयोगी कार्यवाहक प्रधानमंत्री एर्सिनिय यातसेनयुक ने कल यहां 25,000 से अधिक लोगों को संबोधित किया। यह क्षण काफी भावनात्मक था।
उधर, यूक्रेन के कार्यवाहक राष्ट्रपति ओलेकसंद्र तुरचायनोव ने रूसी रक्षा बलों को चेतावनी दी है कि वे क्रिमिया इलाके से अपने नौसैन्य ठिकाने को नहीं छोड़ें। उन्होंने कहा, ‘सीमा के उस पार सैनिक अगर कोई हरकत करते हैं तो इसे सैन्य हमला माना जाएगा।’ यूक्रेन के क्रिमिया इलाके में रूस समर्थक हथियार बंद लोगों ने स्थानीय इमारतों पर कब्जा कर लिया। (एजेंसी)