Whatsapp ने अपने यूजर्स को दिया 'धोखा', अब हुआ ये बड़ा खुलासा

फेसबुक डाटा लीक मामले के बाद अब वॉट्सऐप यूजर्स के लिए बुरी खबर है. डाटा लीक में फेसबुक के घिरने के बाद उसकी स्वामित्व वाली लोकप्रिय मैसेजिंग सर्विस वाट्सएप भी संदेह के घेरे में आ गई है. 

Apr 09, 2018, 13:09 PM IST

फेसबुक डाटा लीक मामले के बाद अब वॉट्सऐप यूजर्स के लिए बुरी खबर है. डाटा लीक में फेसबुक के घिरने के बाद उसकी स्वामित्व वाली लोकप्रिय मैसेजिंग सर्विस वाट्सएप भी संदेह के घेरे में आ गई है. 

1/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

Malwarebytes Lab की रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि ऐप में मैसेज को छिपाने, मैसेज टाइप करने, टेक्सट को पढ़ने और वॉयस क्लिप को छिपाने का भी ऑप्शन है. अभी तक यह नहीं बताया गया है कि ऐप किस तरह काम करता है और किस तरह डाटा एकत्रित करता है. वेबसाइट की रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि यह फेक वॉट्सऐप कहां से आया इसका कोई मतलब नहीं है. उसमें लिखा है गूगल प्ले स्टोर से आप रियल व्हाट्सएप को ही डाउनलोड करें.

2/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

इसके बाद ऐप पर आपको 'Please go to Google Play Store to download latest version' का मैसेज दिखाई देगा. आप इस पर ओके करेंगे तो आप एक दूसरी वेबसाइट पर चले जाएंगे. यहां पर आपको अरबी में कुछ लिखा हुआ दिखाई देगा. यह वेबसाइट उन लोगों के लिए है जो ‘Watts Plus Plus WhatsApp’ डाउनलोड करना चाहते हैं. इस पर यह भी लिखा है कि ऐप लगातार अपडेट हो रहा है.

3/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

एक लिंक के माध्यम से शेयर किया जाने वाला वॉट्सऐप प्लस एक एपीके फाइल के तौर पर आपके मोबाइल में डाउनलोड और इंस्टॉल होता है. इस ऐप में यूआरएल और हैंडल के साथ गोल्ड कलर का एक वॉट्सऐप का लोगो दिखाई देता है. यहां ‘Agree and continue’ पर क्लिक करने पर आपको आउट ऑफ डेट दिखाएगा और आपसे इंस्टॉल और अपडेट करने के लिए कहेगा.

4/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

फेसबुक डाटा लीक मामले के बाद अब वॉट्सऐप यूजर्स के लिए बुरी खबर है. डाटा लीक में फेसबुक के घिरने के बाद उसकी स्वामित्व वाली लोकप्रिय मैसेजिंग सर्विस वाट्सएप भी संदेह के घेरे में आ गई है. मिली खबरों के मुताबिक, सिर्फ फेसबुक ही नहीं बल्कि वॉट्सऐप से भी यूजर्स का डाटा लीक हुआ है. इस विवाद के उठने के बाद वॉट्सऐप ने भी स्वीकार किया है वो यूजर्स का डाटा कलेक्ट करता है. हालांकि, फेसबुक का कहना है कि वे बहुत कम डाटा एकत्र करते हैं और सभी मैसेज शुरू से अंत तक एन्क्रिप्टेड होते हैं. एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप ने यूजर्स को धोखे में रखा है और यह सेफ नहीं है. इससे पहले भी खबरें मिली थीं कि वॉट्सऐप और फेसबुक का इजरायल में एक ही सर्वर है.

5/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

दरअसल, व्हॉट्सऐप में है एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन फीचर के जरिए यूजर्स को डेटा की सिक्योरिटी देता है. यही वजह है कि अब तक व्हॉट्सऐप सेफ माना जाता है. इस फीचर के तहत दो लोगों की चैट, वीडियो और इमेज में तीसरा व्यक्ति सेंधमारी नहीं कर सकता. यानी तीसरे का कोई दखल नहीं होता है. लेकिन ग्रुप चैट करते वक्त एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन को लेकर व्हॉट्सऐप कोई सिक्योरिटी नहीं देता है. ग्रुप चैट करते वक्त हैकर्स यूजर्स की प्राइवेसी में दखलबाजी कर सकते हैं. यानी डेटा चुरा सकते हैं. शोधकर्ताओं ने ऐसा दावा किया है. ऐसे मं दुनियाभर के व्हॉट्सऐप यूजर्स के लिए चिंता की बात है.

 

6/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

व्हॉट्सऐप डेटा सिक्योरिटी के लिहाज से खुद को फेसबुक से अलग बताता है. इसकी वजह है व्हॉट्सऐप का एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन फीचर है. इस सिक्योरिटी फीचर की वजह से दो व्यक्तियों के बीच जो चैट और तस्वीरें साझा होती हैं, उसमें तीसरे का दखल नहीं होता. मगर एक्सपर्ट कहते हैं कि व्हॉट्सऐप से भी आपकी सूचनाएं लीक हो सकती हैं. अब व्हॉट्सऐप ने खुद स्वीकार कर लिया है कि एंड-टू एंड एन्क्रिप्शन फीचर के तहत वो यूजर्स का थोड़ा-बहुत डेटा कलेक्ट करता है.

7/7

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

After Facebook data breach, doubt on WhatsApp privacy features

आपको जानकर हैरानी होगी कि इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप (Whatsapp) से मिलते-जुलते कई फर्जी ऐप भी बाजार में मौजूद हैं. अगर आप ऐसे ऐप को डाउनलोड कर लेते हैं तो ये आपकी निजी जानकारियों को थर्ड पार्टी के साथ शेयर करते हैं. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इंटरनेट पर फर्जी वॉट्सऐप ऐप को देखा गया है. Malwarebytes Lab की रिपोर्ट के अनुसार वॉट्सऐप प्लस (WhatsApp Plus) नाम का यह ऐप यूजर्स की निजी जानकारियां लेकर थर्ड पार्टी को शेयर कर रहा है. कहा जा रहा है कि यह ऐप Android/PUP.Riskware.Wtaspin.GB का एक वेरिएंट है. यह फर्जी वॉट्सऐप रिस्कवेयर है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close