थाईलैंडः गुफा में ज़िंदगी और मौत के बीच झूलते वो 18 दिन, भारतीय इंजीनियर की मदद के बाद निकले खिलाड़ी

थाईलैंड की गुफा की थाम लुआंग गुफा में फंसे 12 फुटबॉल खिलाड़ियों और उनके कोच को 18 दिनों के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बाहर निकाल लिया गया है. 

Jul 11, 2018, 13:14 PM IST

थाईलैंड की गुफा की थाम लुआंग गुफा में फंसे 12 फुटबॉल खिलाड़ियों और उनके कोच को 18 दिनों के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बाहर निकाल लिया गया है. 

1/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

थाईलैंड की गुफा की थाम लुआंग गुफा में फंसे 12 फुटबॉल खिलाड़ियों और उनके कोच को 18 दिनों के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बाहर निकाल लिया गया है. लगातार होने वाली बारिश के कारण गुफा में आई बाढ़ के कारण नौसेना को शुरुआत में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. 

 

2/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

थाईलैंड की नौसेना ने गोताखारों के साथ मिलकर यह अभियान चलाया और पहले-दूसरे दिन 4-4 लड़कों को बाहर निकलाने में कामयाब रही. वहीं, तीसरे और चौथे दिन सेना ने सेना ने गोताखोरों की मदद से चार लड़कों और उनके कोच को बाहर निकाला. खास बात ये है कि इस ऑपरेशन में महाराष्ट्र के सांगली जिले के किर्लोस्कर ब्रदर्स लिमिटेड कंपनी के डिजाइनिंग इंजीनियर प्रसाद कुलकर्णी ने अहम भूमिका निभाई है.

3/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

इसके बाद सेना ने तीसरे दिन बाकि बचे खिलाड़ियों को सुरक्षित निकाला. 11 से 16 वर्ष की आयु के 12 फुटबॉल खिलाड़ी अपने कोच के साथ 23 जून को इस गुफा में घूमने गए थे जब अचानक आई तेज़ बारिश के चलते ये सभी वहां फंस गए थे. 

 

4/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

लोक स्वास्थ्य निरीक्षक थांगचाई लेर्टविलाईरतानापांग ने बुधवार को कहा कि बीते तीन दिन में 12 बच्चों और उनके कोच को बचाया गया, उन सभी ने गुफा में रहने के दौरान अपना अच्छी तरह से ध्यान रखा. उन्होंने कहा कि मंगलवार शाम चार बच्चों और उनके कोच को अस्पताल में लाया गया था. उनमें से एक को फेफड़ों में थोड़ा संक्रमण है.

5/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

अंतर्राष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस दिन बच्चे अपने कोच के साथ गुफा में घुसे थे. उसी दिन देर शाम को जब वह वापस नहीं लौटे थे, तो कुछ अभिभावकों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. जिसके बाद पुलिस ने गुफा के पास बच्चों के जूते और फुटबॉल मिले.

 

6/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

बच्चों की तलाश में सेना के कुछ जवान गुफा में प्रवेश करते हैं और उसके बाद उन्हें इस बात की पुष्टि हो जाती है कि सभी बच्चे सुरक्षित हैं और गुफा के अंदर ही है. कई दिनों तक ऑपरेशन चलाने के बाद सेना को घुप्प अंधेरी पानी से भरी और बेहद संकरे रास्तों वाली इस गुफा से बच्चों को सुरक्षित निकालने में कामयाब हो गई. 

7/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

सील ने एक फेसबुक पोस्ट में बताया, ‘‘सभी 12 ‘वाइल्ड बोर्स’ और प्रशिक्षक को गुफा से निकाल लिया गया है.’’ इसमें यह भी कहा गया कि सभी सुरक्षित हैं. वाइल्ड बोर्स इन फुटबाल खिलाड़ियों की टीम का नाम है. थाई सील एवं विदेशी गोताखोरों ने गुफा में शेष बचे चार लड़कों और उनके 25 वर्षीय प्रशिक्षक को आज अपराह्न में निकाल पाने में सफलता हासिल की. 

 

8/8

police rescue operation complete in Tham Luang cave

police rescue operation complete in Tham Luang cave

बचाव दल के प्रमुख नारोंगसाक ओसोतानाकोर्न ने बताया कि एक चिकित्सक तथा तीन थाई नौसेना के गोताखोर भी बाद में गुफा से निकल आये. ये चारों गुफा से सबसे बाद में बाहर आये.  इन लोगों ने नौ अंधकारमय दिन गुफा में बिताये. इसके बाद दो ब्रिटिश गोताखोर इन तक पहुंचने में कामयाब हुए. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close