Investigative News

80% लड़कियां छेड़छाड़ से तंग आकर छोड़ देती हैं पढ़ाई 80% लड़कियां छेड़छाड़ से तंग आकर छोड़ देती हैं पढ़ाई

उत्तर प्रदेश में लड़कियों के स्कूल छोड़ने की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। ज़ी संगम की टीम ने जह इसकी तहकीकात की तो एक चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है। दरअसल, ज़्यादातर लड़कियां एडमिशन लेने के कुछ ही दिनों बाद मनचलों के छेड़छाड़ से परेशान होकर पढ़ाई छोड़ देती हैं। इलाहाबाद के एक सरकारी स्कूल में 80 फीसदी लड़कियों ने छेड़छाड़ की वजह से स्कूल जाना बंद कर दिया। ज़ी संगम की टीम ​इलाहाबाद के हीवेट रोड स्थित सरकारी जूनियर स्कूल में तहकीकात के लिए पहुंची। स्कूल में 63 लड़कियों में से सिर्फ 8 ही लड़कियां स्कूल में आईं थी। जब लड़कियों से इसकी वजह पूछी तो उन्होंने बताया कि मनचलों के छेड़छाड़ की वजह से ज़्यादातर लड़कियां एडमिशन लेने के कुछ दिनों बाद स्कूल आना बंद कर देती हैं। एक​ सर्वे की माने तो एक साल में सूबे के 47 लाख बच्चों ने स्कूल छोड़ा है। स्कूल छोड़ने वाले इन बच्चों की उम्र 6-14 साल है। सर्वे में बताया गया है कि स्कूल छोड़ने वाले बच्चे आठवीं कक्षा भी पास नहीं कर सके। अगर बात इलाहाबाद की करे तो अकेले इलाहाबाद में ही 51 हजार बच्चों ने पढ़ाई से तौबा किया है।



© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.