उत्तराखंड बीजेपी ने जेपी की जयंती पर मनाया 'लोकतंत्र बचाओ दिवस'

Last Updated: Monday, October 12, 2015 - 18:02
उत्तराखंड बीजेपी ने जेपी की जयंती पर मनाया 'लोकतंत्र बचाओ दिवस'

देहरादून: मुख्य विपक्षी दल बीजेपी ने उत्तराखंड की कांग्रेस सरकार पर अपने विधायकों को झूठे मामलों में फंसाने का आरोप लगाते हुए रविवार को लोकनायक जय प्रकाश नारायण की जयंती 'लोकतंत्र बचाओ दिवस' के रूप में मनायी।

राजधानी (देहरादून) में राज्य मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्रबुद्घि ने कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण ने 1975 में लगे आपातकाल का विरोध किया और लोकतंत्र की बहाली के लिये अपने प्राणों तक की परवाह नहीं की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने देश में परिवारवाद की राजनीति का शिलान्यास किया है और उसकी जनतंत्र में कोई आस्था नहीं है। सहस्रबुद्घि ने कहा कि जनतंत्र और परिवारवाद साथ-साथ नहीं चल सकते और इसलिये लोकनायक की जयंती मनाने के लिये बीजेपी 'लोकतंत्र बचाओ दिवस' मना रही है ।

कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष तीरथ सिंह रावत ने कहा कि आज उत्तराखंड के हालात 1975 के आपातकाल जैसे हो गये हैं जहां न केवल विधायकों को झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है बल्कि उनकी बात तक नहीं सुनी जा रही है।

रावत ने कहा कि रूद्रपुर के विधायक राजकुमार ठुकराल और गदरपुर से विधायक अरविंद पांडे को झूठे मामलों में फंसाया जा रहा है और जब इस संबंध में उनके परिजनों ने मुख्यमंत्री हरीश रावत से बात करनी चाही तो उन्होंने न केवल उससे इंकार कर दिया बल्कि उनके खिलाफ शांति भंग का मामला ओर दर्ज करा दिया।

भाषा



comments powered by Disqus

© 1998-2015 Zee Media Corporation Ltd (An Essel Group Company), All rights reserved.