चीन में 2020 तक तीन गुना बढ़ जाएगी भूतापीय ऊर्जा की खपत

चीन इंजिनीयरिंग अकादमी में अध्यापनरत काओ याओफेंग ने सतत विकास पर हुए एक सम्मेलन के दौरान बताया कि चीन ने बीते वर्ष तापन, बिजली उत्पादन और अन्य जरूरतों के लिए दो करोड़ टन कोयले के बराबर भूतापीय संसाधनों का इस्तेमाल किया।

Updated: Aug 23, 2016, 12:29 AM IST
चीन में 2020 तक तीन गुना बढ़ जाएगी भूतापीय ऊर्जा की खपत

बीजिंग : चीन इंजिनीयरिंग अकादमी में अध्यापनरत काओ याओफेंग ने सतत विकास पर हुए एक सम्मेलन के दौरान बताया कि चीन ने बीते वर्ष तापन, बिजली उत्पादन और अन्य जरूरतों के लिए दो करोड़ टन कोयले के बराबर भूतापीय संसाधनों का इस्तेमाल किया।

काओ ने कहा कि 2020 तक चीन की कुल ऊर्जा खपत का 1.5 फीसदी भूतापीय ऊर्जा से आएगा, जिससे कार्बन डाई ऑक्साइड का उत्सर्जन 17.7 करोड़ टन घट जाएगा।

2014 में चीन में भूतापीय ऊर्जा का सबसे प्रमुख स्रोत 'हॉट ड्राई रॉक' 8600 खरब टन शुद्ध कोयले के बराबर अनुमानित था, जिससे उस वर्ष पूरे चीन में हुई ऊर्जा खपत का 2,60,000 गुनी ऊर्जा का उत्पादन किया जा सकता है।