आम बजट 2013-14: मिडिल क्‍लास को राहत नहीं, ज्‍यादा अमीर तबके पर सरचार्ज
केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने 2103-14 के आम बजट में करदाताओं को कोई राहत नहीं दी। इस बार के आम बजट में टैक्स छूट की सीमा 20 हजार तक बढ़ाई गई हैं। 2 लाख 20 हजार तक के आय वालों को कोई टैक्स नहीं अदा करना होगा। जबकि 2.20 से 5 लाख तक की आय वालों को 2 हजार रुपये की छूट दी गई है।
आम बजट 2013-14 की मुख्‍य बातें
वित्‍त मंत्री पी. चिदंबरम ने गुरुवार को वित्‍त वर्ष 2013-14 के लिए आम बजट संसद मे ...
आम बजट: महिलाओं के लिए खुलेंगे सरकारी बैंक
केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम ने गुरुवार को लोकसभा में आम बजट पेश करते हुए क ...
एक्सक्लूसिव
आम बजट : नहीं दिखे बड़े आर्थिक फैसले आम बजट : नहीं दिखे बड़े आर्थिक फैसले
वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के आम बजट से लोगों ने काफी उम्मीदें लगा रखी थीं। मध्यम वर्ग, नौकर ...

बजट से जुड़ी जानकारियां
भारतीय बजट की त्रासदी है कि सरकारी खर्च आमदनी से ज्यादा होता है।
खर्च और आमदनी के इसी अंतर को वित्तीय घाटा या बजटीय घाटा कहा जाता है।
किसी भी उत्पाद के उत्पादन में काम आने वाली वस्तु को उत्पाद कहा कहा जाता है।
निर्यात की अपेक्षा ज्यादा आयात होने पर विदेशी मुद्रा का नुकसान होता है।
राजस्व खर्च -यह सरकारी मंत्रालयों, विभागों और अन्य सेवाओं पर होने वाला खर्च है।
बजट एक्सक्लूसिव
राहत एवं विकास को बढ़ावा देने वाला हो बजट राहत एवं विकास को बढ़ावा देने वाला हो बजट
संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का अंतिम बजट (2013-14) पेश करने की तैयारी में है।
   
आपका मत
क्‍या बजट लोकलुभावन होगा?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
कथन
बजट में आम लोगों को राहत देने की कोशिश रहेगी।
- पी. चिदंबरम

वीडियो