ज़ी स्पेशल

BHU: छेड़खानी का विरोध और पीड़ितशास्त्र की याद

BHU: छेड़खानी का विरोध और पीड़ितशास्त्र की याद

बीएचयू में लड़की को छेड़ा गया. लड़कियों ने अपनी सुरक्षा की मांग की. उस पर घ्यान देने की बजाए प्रशासन ने पीड़ित लड़की को ही अपनी सुरक्षा के लिए सावधानी बरतने की समझाइश दे डाली. जबकि लड़कियां ये मांग कर रही थीं कि विवि परिसर में जहां अंधेरा रहता है वहां रोशनी और सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं. अपनी मांग के लिए वे धरने पर बैठ गईं.

सुविज्ञा जैन | Sep 25, 2017, 07:35 PM IST
डियर जिंदगी :  अपने स्‍वभाव की ओर लौटिए...

डियर जिंदगी : अपने स्‍वभाव की ओर लौटिए...

'बैंक' बैलेंस जिंदगी के लिए बहुत जरूरी साधनों में से एक है, लेकिन वह अंतिम और सबकुछ नहीं है. 'धन' जहां आकर हार जाता है, प्रेम वहीं से अपनी यात्रा पर निकल जाता है.

दयाशंकर मिश्र | Sep 25, 2017, 02:19 PM IST

अन्य ज़ी स्पेशल

BHU: छेड़खानी का विरोध और पीड़ितशास्त्र की याद

BHU: छेड़खानी का विरोध और पीड़ितशास्त्र की याद

बीएचयू में लड़की को छेड़ा गया. लड़कियों ने अपनी सुरक्षा की मांग की. उस पर घ्यान देने की बजाए प्रशासन ने पीड़ित लड़की को ही अपनी सुरक्षा के लिए सावधानी बरतने की समझाइश दे डाली. जबकि लड़कियां ये मांग कर रही थीं कि विवि परिसर में जहां अंधेरा रहता है वहां रोशनी और सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं. अपनी मांग के लिए वे धरने पर बैठ गईं.

सुविज्ञा जैन | Sep 25, 2017, 07:35 PM IST
डियर जिंदगी :  अपने स्‍वभाव की ओर लौटिए...

डियर जिंदगी : अपने स्‍वभाव की ओर लौटिए...

'बैंक' बैलेंस जिंदगी के लिए बहुत जरूरी साधनों में से एक है, लेकिन वह अंतिम और सबकुछ नहीं है. 'धन' जहां आकर हार जाता है, प्रेम वहीं से अपनी यात्रा पर निकल जाता है.

दयाशंकर मिश्र | Sep 25, 2017, 02:19 PM IST
ZEE जानकारी: पाकिस्तान की अंतर्राष्ट्रीय कूटनीतिक आत्महत्या

ZEE जानकारी: पाकिस्तान की अंतर्राष्ट्रीय कूटनीतिक आत्महत्या

विश्लेषण की शुरुआत करने से पहले आपको बचपन की एक बात याद दिलाना चाहता हूं. याद कीजिए, School में या घर पर पढ़ाई के दौरान....अक्सर आपके शिक्षक और माता-पिता ये कहा करते थे...कि किसी भी विषय को दिमाग लगाकर और समझकर पढ़ना चाहिए. पढ़ाई के दौरान किसी भी Subject का रट्टा नहीं मारना चाहिए. क्योंकि...रट्टा मारने की आदत बहुत बुरी होती है.

| Sep 22, 2017, 11:54 PM IST
ZEE जानकारी: पैर चलेंगे तब तक आपकी सांसें चलेगी और आप सेहतमंद रहेंगे

ZEE जानकारी: पैर चलेंगे तब तक आपकी सांसें चलेगी और आप सेहतमंद रहेंगे

अगला विश्लेषण शुरु करने से पहले..हम आपको 1975 में रिलीज़ हुई हिंदी फिल्म.. शोले का एक Dialogue सुनाना चाहते हैं. फिल्म शोले में गब्बर ने कहा था कि जब तक तेरे पैर चलेंगे.. तब तक उसकी सांस चलेंगी लेकिन The Lancet की एक नयी Study ने इस Dialogue में थोड़ा संशोधन कर दिया है. Study के मुताबिक जब तक आपके पैर चलेंगे तब तक आपकी सांसें चलेगी और आप सेहतमंद रहेंगे.

| Sep 22, 2017, 11:50 PM IST
ZEE जानकारी: दुनिया में रफ्तार बहुत कीमती चीज़ है

ZEE जानकारी: दुनिया में रफ्तार बहुत कीमती चीज़ है

रफ्तार से हमारा और आपका कीमती समय बचता है इसीलिए आज की दुनिया में रफ्तार बहुत कीमती चीज़ है. चीन ने 350 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने वाली Fuxing बुलेट ट्रेन को Launch कर दिया है . ये बुलेट ट्रेन 1 हजार 318 किलोमीटर की दूरी को सिर्फ 4 घंटे और 28 मिनट में तय कर लेती है .पहले बीजिंग और शंघाई के बीच की ये दूरी तय करने में 5 घंटे लगते थे .

| Sep 22, 2017, 11:44 PM IST
समाज के दो परस्पर विरोधी चेहरे

समाज के दो परस्पर विरोधी चेहरे

यहाँ सबसे चिंताजनक पहलू यह नजर आता है कि क्या आधुनिक शिक्षा पद्धति, वैज्ञानिक आविष्कार तथा हमारी उदारवादी धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक प्रणाली हमारी चेतना को तर्कवादी बनाने में असफल रही है?

डॉ. विजय अग्रवाल | Sep 22, 2017, 05:23 PM IST
डियर जिंदगी:  आपने अब तक कितना भुलाया है....

डियर जिंदगी: आपने अब तक कितना भुलाया है....

किसी बच्‍चे और बड़े से एक ही सवाल कीजिए. तुम्‍हें पुराना कितना याद है. बच्‍चा फटाक से कहेगा, ध्‍यान नहीं, भूल गया. यह कहकर वह किसी ओर दौड़ जाएगा. कुछ दिन में यह भी भूल जाएगा कि आपने उससे कुछ पूछा था. दूसरी ओर बड़ा! वह तो अपने याद कि बोरियां दिमाग में लिए बैठा है. उसे सब कुछ याद है! ऐसे लोग जिन्‍हें सब कुछ याद है, वह असल में दिमाग में रद्दी की बोरियां लादे घूम रहे हैं.

दयाशंकर मिश्र | Sep 22, 2017, 04:51 PM IST
मीडिया विमर्श से लुप्‍त होते मूल मुद्दे

मीडिया विमर्श से लुप्‍त होते मूल मुद्दे

हर जरूरी बात की चर्चा करने वाला देश का मीडिया खुद भी इस समय चर्चा में है. विश्व मीडिया भारत की खबरें यहां के मीडिया से ही उठाता है. यानी अपने देश के मीडिया पर विश्व मीडिया की नज़र भी है. इसीलिए हमें सतर्क हो जाना चाहिए कि इस मामले में दुनिया में हमारे मीडिया की कैसी आलोचना हो रही होगी. हालांकि इस मामले में मीडिया रिसर्च या सर्वे बिल्कुल नहीं दिखते.

सुविज्ञा जैन | Sep 22, 2017, 04:17 PM IST
ZEE जानकारी : क्‍यों आता है भूकंप और इससे कितना खतरा है हमें

ZEE जानकारी : क्‍यों आता है भूकंप और इससे कितना खतरा है हमें

Mexico में 19 सितम्बर को 7.1 की तीव्रता का भूकंप आया था. इसमें करीब 250 लोगों की मौत हो चुकी है. और आशंका जताई जा रही है कि मौत का आंकड़ा और बड़ा भी हो सकता है. क्योंकि Rescue Opearation अभी भी जारी है. लेकिन गौर करने वाली बात ये है कि मेक्सिको में इतना बड़ा भूकंप आने के बावजूद करीब 250 लोगों की मौत हुई.अगर वहां के लोग जागरूक ना होते तो मरने वालों की संख्या बहुत ज़्यादा हो सकती थी.

| Sep 22, 2017, 11:47 AM IST
ZEE जानकारी : क्या न्यूज़ चैनल अब अश्लील और हानिकारक हो चुके हैं?

ZEE जानकारी : क्या न्यूज़ चैनल अब अश्लील और हानिकारक हो चुके हैं?

DNA एक पारिवारिक शो है, और हमें पूरी उम्मीद है कि आप अपने परिवार के साथ बैठकर ही हमारा ये शो देखते हैं. इस शो की ख़बरों और भाषा के चयन के दौरान हम इस बात का विशेष ध्यान रखते हैं कि हमारी ख़बरें और भाषा आपको असहज न कर दे. लेकिन मीडिया में कई ऐसे लोग हैं. जिनके लिए ख़बरों और मनोहर कहानियों के बीच कोई अंतर नहीं है. ख़बरों को कच्चे माल की तरह सस्ती सोच वाली फैक्ट्री में डाला जाता है.

| Sep 22, 2017, 11:19 AM IST
ZEE जानकारी : क्यों करती हैं हमारी सरकारें धर्म का इस्तेमाल समाज को बांटने के लिए

ZEE जानकारी : क्यों करती हैं हमारी सरकारें धर्म का इस्तेमाल समाज को बांटने के लिए

आज से शारदीय नवरात्र शुरू हो गए हैं, आज नवरात्र का पहला दिन था. और आज ही के दिन पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बहुत बड़ा झटका लगा है. आज कलकत्ता हाईकोर्ट ने ममता बनर्जी के उस फैसले को पलट दिया, जिसमें उन्होंने मुहर्रम की वजह से पश्चिम बंगाल में मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी थी.

| Sep 22, 2017, 10:49 AM IST
संकीर्तन: गाती-नाचती प्रार्थनाएं

संकीर्तन: गाती-नाचती प्रार्थनाएं

घर्षण, मिश्रण और प्रदूषण के इस दौर में दुर्भाग्य से जीवन को शांति और संबल देने वाली भक्ति की लोकतांत्रिक चेष्टा भी काफी हद तक प्रभावित हुई है.

विनय उपाध्याय | Sep 21, 2017, 06:17 PM IST
डियर जिंदगी : सपनों की रेल और जीवन की सुगंध...

डियर जिंदगी : सपनों की रेल और जीवन की सुगंध...

हम 'ग्‍लोबल वार्मिंग' की तख्तियां लिए घूम रहे हैं, धरती की चिंता में घुले जा रहे हैं, लेकिन अपनी ही जड़ों से दूर होते जा रहे हैं.

दयाशंकर मिश्र | Sep 21, 2017, 05:12 PM IST
दुनिया में ‘राजाराम पु. जोशियों’ की भारी कमी है...

दुनिया में ‘राजाराम पु. जोशियों’ की भारी कमी है...

लगातार वर्चुअल दुनिया में सिमटते जा रहे हम लोग जो प्रतिक्रिया देने की जल्दी में तो हैं, लेकिन हमारा मानवीय पहलू तुलनात्मक होता जा रहा है.

पंकज रामेंदु | Sep 21, 2017, 03:32 PM IST
ZEE जानकारी: बेअसर होती एंटीबायोटिक दवाएं

ZEE जानकारी: बेअसर होती एंटीबायोटिक दवाएं

अगर आप छोटी-मोटी बीमारियां होने पर Antibiotic दवाएं खा लेते हैं तो हमारी अगली ख़बर आपके काम की हो सकती है...WHO ने आज एक रिपोर्ट जारी की है जिसके मुताबिक बाज़ार में मिलने वाली ज़्यादातर Antibiotic दवाएं बेअसर साबित हो रही हैं.

| Sep 20, 2017, 11:51 PM IST
ZEE जानकारी: ट्रंप ने कह दिया, अबकी बार, आर या पार

ZEE जानकारी: ट्रंप ने कह दिया, अबकी बार, आर या पार

आपने हिन्दी फिल्मों में अक्सर Hero को एक Dialogue मारते हुए सुना होगा...कि वो खलनायकों को चुन-चुन कर मारेगा. इन दिनों अंतर्राष्ट्रीय कूटनीति की दुनिया में भी कुछ ऐसे ही हालात पैदा हो गए हैं. अमेरिका के राष्ट्रपति Donald Trump आजकल North Korea के तानाशाह. किम जोंग उन... को चुन-चुन कर मारने की धमकियां दे रहे हैं. और इसी के साथ दुनिया में तनाव बढ़ गया है.

| Sep 20, 2017, 11:46 PM IST
ZEE जानकारी: रोहिंग्या मुसलमानों को हर तरह की मदद देने वाले लोगों का पर्दाफाश

ZEE जानकारी: रोहिंग्या मुसलमानों को हर तरह की मदद देने वाले लोगों का पर्दाफाश

रोहिंग्या शरणार्थी म्यांमार से भागकर बांग्लादेश आ रहे हैं. और बांग्लादेश में उनकी अच्छी खासी जनसंख्या है. हालांकि ये अलग बात है कि अब बांग्लादेश भी ये कह रहा है कि रोहिंग्या शरणार्थी उनके लिए खतरा हो सकते हैं. 1978 में म्यांमार की सरकार ने देशभर में Operation Dragon King चलाया तो लाखों की संख्या रोहिंग्या शरणार्थी बांग्लादेश चले गए.

| Sep 20, 2017, 11:38 PM IST
डियर जिंदगी : कितना परिवर्तन आया है, आपके जीवन में!

डियर जिंदगी : कितना परिवर्तन आया है, आपके जीवन में!

हम ज्‍यादातर जिंदगी में खुद ही हारते हैं. अपनी वजहों से. खुद से. बार-बार. हर बार. और तब तक हारते रहते हैं, जब तक यकीन न कर लें कि हम खुद ही हार रहे हैं

दयाशंकर मिश्र | Sep 20, 2017, 03:10 PM IST
ZEE जानकारी: अंडरवर्ल्ड, राजनीति और Real Estate से जुड़े लोगों का Nexus

ZEE जानकारी: अंडरवर्ल्ड, राजनीति और Real Estate से जुड़े लोगों का Nexus

अगर आपको इस बात का पता चले कि भारत में मौजूद कोई व्यक्ति, दाऊद इब्राहिम का बिज़नेस पार्टनर है तो आप उस आदमी को किस नज़रिये से देखेंगे ? ज़ाहिर है ऐसे आदमी पर आपको गुस्सा आएगा.. और आप उसे अंडरवर्ल्ड का हिस्सा ही मानेंगे. हमारे देश में ऐसे कई लोग हैं... जो Business Partnership के लिए दाऊद इब्राहिम से हाथ मिलाना चाहते हैं...ये लोग राजनीति और रियल एस्टेट से जुड़े हुए हैं..

| Sep 19, 2017, 11:38 PM IST
ZEE जानकारीः School Bus और Van एक Reality Check

ZEE जानकारीः School Bus और Van एक Reality Check

आपको बताते हैं कि ख़बरों की दुनिया में डर और जानकारी के बीच क्या फर्क होता है ?पिछले कुछ दिनों से देश के ज़्यादातर माता-पिता डरे हुए हैं. स्कूल में 7 साल के एक बच्चे की हत्या के बाद ये डर... देश के हर परिवार को परेशान कर रहा हैं. लोग जैसे ही इस डर से उबरने की कोशिश करते हैं.... वैसे ही हमारा मीडिया प्रद्युम्न की मौत से जुड़ा नया खुलासा करके.. उन्हें और डरा देता है.

| Sep 19, 2017, 11:23 PM IST