रेखा : नहीं बन सकीं, जो बनना चाहती थी रेखा : नहीं बन सकीं, जो बनना चाहती थी

सिल्वर स्क्रीन पर 1966 से देश ही नहीं पूरी दुनिया में अपनी अदाकारी से जादू बिखेरने चलाने वाली भानुरेखा गणेशन उर्फ रेखा आज 61 साल की हो गईं हैं। बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा रेखा के बारे में कहा जाता

कटक में क्रिकेट की 'कलंक' कथा कटक में क्रिकेट की 'कलंक' कथा

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए दूसरे टी-20 मैच के दौरान कटक में बदसलूकी का जो नजारा दिखा उसकी जितनी भी आलोचना की जाए वो कम है। यूं तो क्रिकेट हार और जीत का खेल माना जाता रहा है। हालांकि किसी

जन्मदिन पर गांधी को 125 करोड़ का तोहफा जन्मदिन पर गांधी को 125 करोड़ का तोहफा

दो अक्टूबर महात्मा गांधी और लालबहादुर शास्त्री का जन्मदिन मनाया जाता है। पिछले साल देशवाशियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अगुवाई में गांधीजी को उनके 150वीं वर्षगांठ (2019 तक) पर एक तोहफा (स्वच्

आरक्षण: सम्मान या अपमान? आरक्षण: सम्मान या अपमान?

स्वतंत्रता से पहले जब देश पराधीन था तब दासत्व के जीवन का बोध आसानी से हो जाता था। अंग्रेज 'डिवाइड एंड रुल' की नीति अपनाकर भारतवासियों पर 300 वर्ष तक शासन किये। उन्होंने जाति ,धर्म जैसी चीजों को बार

मांस की बिक्री पर संग्राम क्यों?

पिछले कई दिनों से मांस बिक्री को लेकर देश में सियासत गरमा गई है। शायद ऐसा पहली बार होगा जब जैन धर्म के एक धार्मिक पर्व को लेकर कई राज्यों में मांस की बिक्री पर पाबंदी लगाई गई है। सियासत इतनी गरमाई

किसकी राह देख रहा बिहार? किसकी राह देख रहा बिहार?

बिहार प्रारम्भ से ही क्रांति प्रदेश रहा है। संघर्ष के दौर का हर शुभारंभ बिहार की भूमि से होता आया है। परिवर्तन की चिनगारी यहीं से सुलगी है। इस माटी का रंग चाहे जो हो पर यहां से क्रांति की बुलंदी पर

हिन्दी की अमर गाथा हिन्दी की अमर गाथा

बुलंदी का कारवां यूं बनता नहीं, शिखर का मुकद्दर यूं मिलता नहीं, सरज़मीं पर कदम जब बेबाक होंगे, ए लब्ज़ हम तुझ पे कुर्बान होंगे।

झलक देखते वक्त ही झलक का आया ऑफर : नेहा मर्दा झलक देखते वक्त ही झलक का आया ऑफर : नेहा मर्दा

ज़ी टीवी के मशहूर टीवी सीरियल 'डोली अरमानों की' में उर्मी का किरदार निभाकर लाखों दिलों पर छा जाने वाली अभिनेत्री नेहा मर्दा अब अपने डांस से लोगों को दीवाना बनाने आ रही हैं। नेहा कलर्स चैनल पर प्रसा

1965 युद्ध: भारत जबर्दस्त पलटवार करेगा पाक को नहीं थी उम्मीद 1965 युद्ध: भारत जबर्दस्त पलटवार करेगा पाक को नहीं थी उम्मीद

देश इन दिनों 1965 की लड़ाई की स्वर्ण जयंती मना रहा है। मौका खास है तो जश्न भी बनता है। 1965 की लड़ाई का अंत ताशकंद समझौते के रूप में हुआ और रक्षा जानकार बताते हैं कि संघर्षविराम लागू होने के समय भा

भाभी जी की शूटिंग में हम हंसते हंसते गिर जाते हैं: आसिफ शेख भाभी जी की शूटिंग में हम हंसते हंसते गिर जाते हैं: आसिफ शेख

एंड टीवी पर प्रसारित होने वाला कॉमेडी शो 'भाभी जी घर पर हैं' घर-घर लोगों द्वारा इतना पसंद किया जा रहा है कि इस सीरियल के हर किरदार से लोगों को प्यार हो गया है। फिर

....तो कभी एकजुट नहीं हो पाएगा जनता परिवार ....तो कभी एकजुट नहीं हो पाएगा जनता परिवार

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए 30 अगस्त को महागठबंधन की पटना के गांधी मैदान में 'स्वाभिमान रैली' हो रही है। इस रैली से पहले जनता परिवार में किचकिच शुरु हो गई। सीट बंटवारे से नाराज होकर जनता परिवार के

भारत की सॉफ्ट स्टेट की छवि और प्रधानमंत्री मोदी भारत की सॉफ्ट स्टेट की छवि और प्रधानमंत्री मोदी

क्या भारत पाकिस्तान में बनी अपनी सॉफ्ट स्टेट की छवि तोड़ पायेगा,? शायद नहीं, शायद हाँ। नहीं इसलिए कि यह छवि भारत की संस्कृति बन गयी है। हां!

भोले की ‘अर्धकाशी’ माउंटआबू, शिव के विविध शिवालयों की नगरी भोले की ‘अर्धकाशी’ माउंटआबू, शिव के विविध शिवालयों की नगरी

राजस्थान का इकलौता हिल स्टेशन माउंटआबू खुद को राजस्थान के पांच पसंदीदा टूरिस्ट स्पॉट के रूप में खुद को शुमार करता है। लेकिन स्कंद पुराण के मुताबिक यह आध्यात्मिक नगरी भगवान शंकर की उपनगरी भी है इसलि

पाकिस्तान से कैसे निपटे भारत? पाकिस्तान से कैसे निपटे भारत?

केंद में मई 2014 में राजग की सरकार बनने के बाद ऐसा लगा था कि पाकिस्तान के साथ बातचीत को लेकर भारत सरकार की नीतियों में बदलाव देखने को मिलेगा। पाकिस्तान की ओर से होने वाली उकसावे की कार्रवाई चाहे वह

डा. अब्‍दुल कलाम: परमाणुवीर तुम्‍हें सलाम... डा. अब्‍दुल कलाम: परमाणुवीर तुम्‍हें सलाम...

ऊंचे सपने देखकर उन्हें साकार करने का सबक सिखाने वाले पूर्व राष्ट्रपति डा.

सरस बनारस सरस बनारस

मैं अपना नाम नहीं बताउंगा। सिर्फ अपने बारे में बताउंगा और आप मुझे पहचान लेंगे। आजकल वैसे तो मेरा नाम हर जुबां पर है जिससे दिल बाग- बाग रहता है। मेरे कई नाम हैं कई पहचान है, कई खासियत है। विश्वप्रसि

भारत की दरियादिली की कद्र करे पाकिस्तान भारत की दरियादिली की कद्र करे पाकिस्तान

पाकिस्तान एक बार फिर अपने वादे से मुकर गया है। उफा में जारी संयुक्त बयान से उसका यू-टर्न लेना इस बात का पुख्ता संकेत है कि भारत के साथ शांतिपूर्ण रिश्ते बनाने की उसकी मंशा नहीं है। करीब एक साल पहले

जिंदगी पर भारी बेलगाम रफ्तार जिंदगी पर भारी बेलगाम रफ्तार

सड़कें देश के लिए विकास का प्रतीक होती है। तो दूसरी तरफ हमारे देश की अर्थव्यवस्था पर एक खराब दशा हमेशा मंडराती है जिसका जुड़ाव हमारे देश की सड़कों से ही है। देश में सड़कों के अभाव और अच्छी सड़कें न

अस्सी पर ‘सुबह-ए-बनारस’ अस्सी पर ‘सुबह-ए-बनारस’

दशाश्वमेध घाट और गंगा आरती के विहंगम और मनमोहक दृश्यों वाली काशी आखिर अचानक अपनी खालिस देसी गालियों के लिए खबरों में कैसे आ गई? दशाश्वमेध और अस्सी के बीच का फ़ासला बमुश्किल पांच किलोमीटर का होगा लेकिन यहां तक आते आते पूरी की पूरी संस्कृति आखिर कैसे बदल जाती है?



लाइव स्कोर कार्ड