अर्जुन तेंदुलकर: पहले टीम इंडिया को प्रैक्टिस कराई, अब लॉर्ड्स ग्राउंड स्टाफ की मदद

अर्जुन तेंदुलकर लॉर्ड्स टेस्ट से पहले टीम इंडिया को नेट प्रैक्टिस कराते दिखे थे, अब वे लॉर्ड्स ग्राउंड स्टाफ की मदद करते दिखे हैं. 

अर्जुन तेंदुलकर: पहले टीम इंडिया को प्रैक्टिस कराई, अब लॉर्ड्स ग्राउंड स्टाफ की मदद
अर्जुन तेंदुलकर लॉर्ड्स में ग्राउंड स्टाफ की मदद करते दिखाई दिए . (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : लॉर्ड्स में भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में बारिश लगातार खलल डाल रही है. बारिश की वजह से पहले दिन का खेल शुरू होना तो दूर टॉस भी न हो सका. दूसरे दिन भी 10 ओवर का भी खेल नहीं हो सका. इस बीच दिग्गज भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर इन दिनों लंदन के लॉर्ड्स मैदान में ग्राउंड स्टाफ की मदद करते नजर आए.

अर्जुन तेंदुलकर इन दिनों लॉर्डस में हैं और पहले टीम इंडिया को नेट प्रैक्टिस कराते भी नजर आए थे. अर्जुन बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं और अर्जुन ने हाल ही में श्रीलंका के खिलाफ अंडर-19 क्रिकेट में पदार्पण किया था, जहां उन्होंने अपना पहला विकेट लिया था.  हालाकि इस सीरीज में वे कोई खास कमाल नहीं कर पाए थे. अर्जुन ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को गेंदबाजी करवाई.

अर्जुन ने की ग्राउंड स्टाफ की मदद
लॉर्डस क्रिकेट ग्राउंड ने शुक्रवार को अपने आधिकारिक ट्विटर पर एक तस्वीर पोस्ट की है जिसमें लिखा गया, "अर्जुन तेंदुलकर न सिर्फ एमसीसी यंग क्रिकेटर्स के साथ हाल ही में ट्रेनिंग कर रहे थे, बल्कि वह हमारे ग्राउंड स्टाफ की मदद भी कर रहे हैं."

अर्जुन मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) के साथ लॉर्डस मैदान में अभ्यास भी करते हैं. उन्होंने ने दूसरे टेस्ट से पहले भारतीय बल्लेबाजों को अभ्यास कराने में हिस्सा लिया था.  इस दौरान टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री भी उनकी गेंदबाजी को देखते रहे. बता दें कि इंग्लैंड के युवा गेंदबाज सैम कुरैन पिछले टेस्ट मैच में काफी सफल रहे थे. बाएं हाथ के इस गेंदबाज के सामने भारतीय बल्लेबाज परेशान नजर आए थे. ऐसे में टीम को एक ऐसे गेंदबाज की जरुरत थी जो टीम को बाएं हाथ की गेंदबाजी का अभ्यास करवा सके, इसलिए अर्जुन तेंदुलकर की मदद ली गई. 

भारत और इंग्लैंड की टीमें इस समय लॉर्डस मैदान पर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच खेल रही हैं. बारिश के लगातार व्यवधान होने से दूसरे दिन शुरू हो सका खेल केवल 9.3 ओवर का ही हो सका था. टॉस जीतकर इंग्लैंड ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. 

पहले मुरली विजय हुए शून्य पर आउट
मैच के पहले ही ओवर की पांचवी गेंद एंडरसन ने फुल लेंथ की डाली जो कि लेग स्टंप की ओर जाती लग रही थी. मुरली विजय ने भी इस हिसाब से गेंद खेलने की कोशिश की लेकिन यह गेंद ही आउट स्विंग हो गई और विजय इस गेंद को पूरी तरह से मिस कर गए और क्लीन बोल्ड हो गए. मुरली अपना खाता भी नहीं खोल सके और पहले ओवर खत्म होने से पहले ही भारत को स्कोर बिना खाता खुले ही एक विकेट हो गया. 

केएल राहुल भी हुए एंडरसन के हुए शिकार
इसके बाद 6 ओवर तक भारत को स्कोर एक विकेट के नुकसान पर 10 रन हो गया था. 7वें  ओवर की पहली गेंद पर जेम्स एंडरसन ने एक बेहतरीन आउटस्विंग डाली जिसने उनके बल्ले का किनारा लिया और सीधे, बड़ी ही आसानी से विकेट कीपर जॉनी बेयरस्टॉ के हाथ में चली गई.  केवल 10 के स्कोर पर 2 विकेट गिर जाने के बाद इंग्लैंड के गेंदबाजों की गेंदों में जबरदस्त स्विंग मूवमेंट दिखाई दे रहा था. पुजारा भी इन गेंदों के आगे सहज नजर नहीं आ रहे थे. कभी गेंद इन स्विंग होकर उन्हें छका रही थी तो कभी आउट स्विंग को अंदाजा उनको नहीं लग रहा था. इसके बाद वे सेल्फ रन आउट हो गए.

पुजारा के आउट होने के बाद शुरू नहीं हो सका मैच
पाइंट की तरफ हलका सा गेंद को धकेल कर पुजारा रन लेने के इरादे से आगे बढ़े. विराट भी पहले तो आगे बढ़ते दिखे फिर वे वापस भी पलट गए, लेकिन तब तक पुजारा काफी आगे आ गए थे और इससे पहले वे लौट पाते, ओली पोप ने दौड़कर विकेट के पास पहुंचकर आराम से  गिल्लियां बिखेर दी. इसके बाद मैच बारिश की वजह से रुका तो वापस शुरू नहीं हो सका.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close