लंदन टेस्ट में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को 9 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से कब्जा

वेस्टइंडीज सिर्फ 107 रनों का आसान लक्ष्य ही मेजबान टीम के सामने रख पाई थी जिसे इंग्लैंड ने तीसरे दिन ही शनिवार (9 सितंबर) को एक विकेट खोकर हासिल कर लिया.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | अंतिम अपडेट: Sep 10, 2017, 12:53 AM IST
लंदन टेस्ट में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को 9 विकेट से हराया, सीरीज पर 2-1 से कब्जा
दूसरी पारी में इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन ने सात विकेट लिए थे. (PHOTO : ICC/Twitter)

लंदन: तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के आखिरी टेस्ट में इंग्लैंड ने एकतरफा मुकाबले में मेहमान वेस्टइंडीज को नौ विकेट से हराते हुए सीरीज पर 2-1 से कब्जा जमा लिया. इस कम स्कोर वाले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को बड़ी बढ़त लेने से रोक दिया. वेस्टइंडीज सिर्फ 107 रनों का आसान लक्ष्य ही मेजबान टीम के सामने रख पाई थी जिसे इंग्लैंड ने तीसरे दिन ही शनिवार (9 सितंबर) को एक विकेट खोकर हासिल कर लिया. इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को पहली पारी में सिर्फ 123 रनों पर ढेर कर दिया था. इंग्लैंड हालांकि अपनी पहली पारी में भी विशाल स्कोर नहीं बना पाई थी और 194 रनों पर ऑल आउट होकर सिर्फ 71 रनों की बढ़त ले पाने में सफल रही थी.

केमर रोच ने पांच और कप्तान जेसन होल्डर ने चार विकेट लेकर उसकी कमर तोड़ दी थी, लेकिन दूसरी पारी में इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन ने सात विकेट लेकर वेस्टइंडीज को सिर्फ 177 रनों पर ही घुटने टेकने को मजबूर कर दिया जिसके कारण वह 107 रनों का ही लक्ष्य रख पाई. आसान से लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने एलिस्टर कुक (17) के रूप में एकमात्र विकेट खोया. वह 35 के कुल स्कोर पर आउट हुए. उनके जाने के बाद मार्क स्टोनमैन (नाबाद 40) और टॉम वेसले (नाबाद 44) ने 72 रन की नाबाद साझेदारी कर टीम को 9 विकेट से जीत दिलाई. 

एंडरसन ने इससे 2008 में ट्रेंट ब्रिज पर न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने 129 टेस्ट करियर के पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन - 43 रन देकर सात विकेट - को पीछे छोड़ दिया. यह पांचवीं बार है जब लंकाशर के इस 35 वर्षीय स्विंग गेंदबाज ने लॉर्ड्स में टेस्ट पारियों में पांच या इससे ज्यादा विकेट झटके हैं. इंग्लैंड के महान ऑल राउंडर इयान बाथम ने यहां सबसे ज्यादा आठ बार यह कारनामा किया है. यह मैच में दूसरी बार है जब एंडरसन को लॉर्ड्स पर बैठे दर्शकों ने ‘स्टैडिंग ओवेशन’ दिया.

हेडिंग्ले में दो शतक जड़कर वेस्टइंडीज को जीत दिलाकर श्रृंखला 1-1 से बराबर करने में अहम भूमिका निभाने वाले शाई होप 62 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे. शाई होप अपने बेहतर प्रदर्शन की वजह से वेस्टइंडीज के प्लेयर ऑफ द सीरीज चुने गए. होप और सलामी बल्लेबाज कीरन पावेल के 45 रन के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज अच्छी पारी नहीं खेल सका. 

एंडरसन 500 टेस्ट विकेट लेने वाले इंग्लैंड के पहले और दुनिया के छठे गेंदबाज बने

जेम्स एंडरसन शुक्रवार (8 सितंबर) को टेस्ट क्रिकेट में 500 विकेट लेने वाले दुनिया के छठे और इंग्लैंड के पहले गेंदबाज बन गये. इस तेज गेंदबाज ने यह उपलब्धि वेस्टइंडीज के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले जा रहे तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच के दूसरे दिन क्रेग ब्रेथवेट का विकेट लेकर हासिल की. पहली पारी में दो विकेट लेकर एंडरसन ने अपने विकेटों की संख्या 499 पर पहुंचायी थी और शुक्रवार (8 सितंबर) को दूसरी पारी में उन्होंने शुरू में ही इनस्विंगर पर ब्रेथवेट को बोल्ड करके 500वें विकेट का इंतजार लंबा नहीं खिंचने दिया.

एंडरसन से पहले मुथैया मुरलीधरन (800 विकेट), शेन वॉर्न (708), अनिल कुंबले (619), ग्लेन मैकग्रा (563) और कर्टनी वाल्श (519) ने टेस्ट मैचों में 500 से अधिक विकेट लिये. मैकग्रा ने भी 2005 में लॉर्ड्स पर ही यह उपलब्धि हासिल की थी. वाल्श इस मुकाम पर पहुंचने वाले पहले गेंदबाज थे.