U-19 Tournament: फ्रांस से हारा भारत लेकिन कोच टीम के प्रदर्शन से खुश

चार देशों के अंडर 19 टूर्नामेंट में भारत की फ्रांस के हाथों हार के बाद भारतीय कोच का कहना है कि वे टीम के प्रदर्शन से संतुष्ट हैं. 

U-19 Tournament: फ्रांस से हारा भारत लेकिन कोच टीम के प्रदर्शन से खुश
भारतीय अंडर 19 टीम चार देशों के टूर्नामेंट में अपनी सभी मैच हार गई थी. (फोटो : @IndianFootball/Twitter)

नई दिल्ली: भारतीय अंडर 19 फुटबाल टीम मौकों का फायदा नहीं उठा सकी और क्रोएशिया में चल रहे चार देशों के टूर्नामेंट में उसे फ्रांस की अंडर 19 टीम ने 2-0 से हरा दिया. इस टूर्नामेंट में भारत की सभी मैचों में हार के बावजूद टीम के कोच उसके प्रदर्शन से काफी संतुष्ट हैं. उनका मानना है कि  भारतीय टीम अपने से काफी बेहतर रैंकिंग वाली टीमों के खिलाफ बढ़िया प्रदर्शन किया. 

भारतीय गोलकीपर प्रभसुखन गिल ने आठवें मिनट में फ्रांस की कोशिश को नाकाम कर दिया लेकिन 18वें मिनट में फ्रांसीसी टीम ने बढ़त बना ली. भारत को 34वें मिनट में बराबरी का मौका मिला लेकिन अनिकेत जाधव बाक्स के भीतर बोरिस सिंह से गेंद मिलने के बावजूद गोल नहीं कर सके. गोलकीपर गिल ने 44वें मिनट में फ्रांस का एक और शर्तिया गोल बचाया. दूसरे हाफ में अनिकेत को 65वें मिनट में एक मौका और मिला लेकिन उनका शाट क्रासबार से टकरा गया. फ्रांस ने 73वें मिनट में दूसरा गोल करके जीत दर्ज की. 

भारत को क्रोएशिया ने 5-0 और स्लोवेनिया ने 1-0 से हराया. अब भारतीय टीम सर्बिया की अंडर 19 टीम से 13 और 17 सितंबर को दोस्ताना मैच खेलने सर्बिया जाएगी. 

टूर्नामेंट में टीम के प्रदर्शन से खुश हैं भारत के कोच
फ्रांस की अंडर-19 विश्व चैम्पियंस की युवा टीम के खिलाफ मिली हार के बाद भारत की अंडर-19 टीम के मुख्य कोच फ्लोएड पिंटो ने कहा कि उनकी टीम ने फ्रांस के खिलाफ अवसर हासिल किए थे. पिंटो ने कहा कि वह चार देशों के टूर्नामेंट में अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश हैं और ऐसे कड़े प्रतिस्पर्धियों के खिलाफ मैच टीम के विकास में मददगार हैं. 

मैच के बाद कोच पिंटो ने कहा, "इस मैच में अधिकतर समय तक मेरी टीम के खिलाड़ियों ने प्रतिद्वंद्वी टीम को कड़ी प्रतिस्पर्धा दी. फ्रांस की इस टीम में शामिल कुछ खिलाड़ी फ्रेंच लीग-1 और उच्च स्तरीय अकादमियों के लिए खेल चुके हैं. हमारे खिलाड़ियों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया. उन्होंने साबित किया कि वह अपनी विरोधी टीम के खिलाड़ियों जितनी ही काबिलियत रखते हैं."

पिंटो ने कहा, "यहां तक कि इस मैच में हमने अपने अवसर बनाए थे. अनिकेत की ओर से 25 यार्ड से किया गया गोल सफल हो सकता था. ऐसे मैचों में हमारा डिफेंस सबसे अधिक मायने रखता है. फ्रांस की ओर से किए गए दो गोल हमारी ओर से की गई छोटी-छोटी गलतियों का कारण थे. हमें इन गलतियों पर काम करना होगा."
(इनपुट भाषा/आईएएनएस)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close