INDvsSA : पहले दिन का खेल खत्म, अफ्रीका ने 269 रनों पर खोए 6 विकेट

पहले टेस्ट में हार के बाद तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में टीम इंडिया 1-0 से पिछड़ गई है. अब निगाहें दूसरे टेस्ट मैच पर हैं.

INDvsSA : पहले दिन का खेल खत्म, अफ्रीका ने 269 रनों पर खोए 6 विकेट
दूसरे टेस्ट में पहले दिन दोनों कामयाबी आर अश्विन को मिलीं. फोटो : बीसीसीआई

नई दिल्ली : केपटाउन के बाद सेंचुरियन में भी दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी चुनी. दक्षिण अफ्रीका के सलामी बल्लेबाजों ने सधी हुई शुरुआत की. पहले सत्र में टीम ने बिना विकेट खोए 78 रन बना लिए. पहले दिन का खेल खत्म होने तक मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने 90 ओवर में 6 विकेट खोकर 269 रन बनाए. दिन का खेल जब खत्म हुआ उस समय क्रीज पर कप्तान फाफ डु प्लेसिस 25 और केशव महाराज 10 रन बनाकर खेल रहे हैं.

इससे पहले लंच के बाद टीम इंडिया को पहली सफलता आर अश्विन ने दिलाई. उन्होंने सलामी बल्लेेबाज डीन एल्गर को 31 रन पर मुरली विजय के हाथों कैच करा दिया. लंच से पहले एडेन मार्करम ने अपनी हाफ सेंचुरी पूरी करते हुए 51 रन बनाए. उन्होंने पहले एल्गर और बाद में अमला के साथ साझेदारी निभाई. दक्षिण अफ्रीका को सबसे बड़ा झटका 48वें ओवर में अश्विन ने दिया. उन्होंने एडेन मार्करम को 94 रन के स्कोर पर आउट कर दिया. इसके बाद टीम इंडिया को तीसरी कामयाबी इशांत ने एबी डिविलियर्स के रूप में दिलाई. 81 और 82 ओवर में दक्षिण अफ्रीका को लगातार दो झटके लगे. पहले हाशिम अमला रन आउट हुए फिर अश्विन ने क्विंटन डिकॉक को बिना खाता खोले वापस भेज दिया.

पांचवां झटका दक्षिण अफ्रीका को वेर्नोन फिलेंडर के रन आउट के रूप में लगा. जब दिन का खेल खत्म होने की ओर बढ़ रहा था, उस समय दक्षिण अफ्रीका ने एक बाद एक तीन विकेट खो दिए.  इसमें दो खिलाड़ी रन आउट हुए. दक्षिण अफ्रीका इस समय 6 विकेट के  नुकसान पर 260 रन बना चुका है. इससे पहले टी टाइम तक दक्षिण अफ्रीका ने 2 विकेट के नुकसान पर 182 रन बनाए. टी के बाद हाशिम अमला और डिविलियर्स ने पारी को संभाला. दोनों के बीच चाय के बाद 50 रन की साझेदारी हुई. टीम इंडिया को पहले दिन दो सत्रों में दो कामयाबियां सिर्फ आर अश्विन के हाथ लगीं. टी के बाद 20 रन पर खेल रहे एबी डिविलियर्स को इशांत शर्मा ने बोल्ड कर दिया.

टीम इंडिया ने प्लेइंग 11 में तीन बदलाव किए हैं. शिखर धवन की जगह केएल राहुल को जगह दी गई है. ऋद्धिमान साहा की जगह पार्थिव पटेल को जगह दी गई है. सबसे ज्यादा चौंकाने वाला बदलाव भुवनेश्वर कुमार के रूप में देखने को मिला है. भुवी की जगह ईशांत शर्मा को जगह दी गई है. अजिंक्य रहाणे को फिर से टीम में जगह नहीं मिल पाई है.

ishant sharma

पहला सत्र : दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के नाम रहा, SA : 78 रन
टॉस जीतकर अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी चुनी. दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने कहा, इस पिच का इतिहास रहा है कि यहां पहला दिन विकेट धीमा रहता है. उनका ये फैसला दोनों सलामी बल्लेबाजों ने काफ हद तक सही भी साबित किया. पहले सेशन में टीम ने बिना विकेट खोए 78 रन बना लिए. टीम इंडिया की ओर गेंदबाजी की शुरुआत दूसरा टेस्ट मैच खेल रहे जसप्रीत बुमराह ने की. टीम में भुवनेश्वर की जगह चुने गए इशांत शर्मा ने 8 ओवर में 15 रन दिए. हालांकि उन्हें कोई सफलता नहीं मिली. पहले सेशन में टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने भले रन कम दिए, लेकिन उन्हें कोई कामयाबी भी हासिल नहीं हुई.

कहा जा रहा है कि सेंचुरियन की परिस्थितियां स्विंग गेंदबाजी के अनुकूल नहीं हैं. ऐसे में भुवनेश्वर कुमार की जगह इशांत शर्मा को जगह दी गई है. हालांकि पहले मैच में भुवी ने छह विकेट लिये और अपनी बल्लेबाजी से भी प्रभावित किया. विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल और कर्नाटक के केएल राहुल का अंतिम एकादश में जगह मिली है. पटेल को साहा की तुलना में बेहतर बल्लेबाज माना जाता है. साहा के चोटिल होने पर पार्थिव को इंग्लैंड के खिलाफ तीन टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला था जिसमें उन्होंने 195 रन बनाये थे.

स्वामी विवेकानंद को ऐसे याद किया टीम इंडिया में रहे इस विस्फोटक बल्लेबाज ने

टीम प्रबंधन के फैसले से अवगत बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘टीम प्रबंधन का मानना है कि उसे बल्लेबाजी को मजबूत करने की जरूरत है. अब तक 23 टेस्ट मैचों में 878 रन बनाने के अलावा उनका (पार्थिव) प्रथम श्रेणी रिकार्ड बेजोड़ है. उन्होंने 10,000 से अधिक रन और 26 शतक लगाये हैं. टीम प्रबंधन इसे नजरअंदाज नहीं कर सकता.’ पार्थिव को साहा की तुलना में बैकफुट का बेहतर खिलाड़ी माना जाता है.

virat kohli

जहां तक धवन का सवाल है तो टीम प्रबंधन का मानना है कि बायें हाथ का यह बल्लेबाज मुंबई, दिल्ली या कोलंबो में बेहतर विकल्प हो सकता है लेकिन ब्रिस्बेन, हैडिंग्ले या केपटाउन में नहीं. दूसरी तरफ से राहुल ने अब तक 21 टेस्ट मैचों में 44.62 की औसत से 1428 रन बनाये हैं जिसमें चार शतक और दस अर्धशतक शामिल हैं.

भारत : विराट कोहली ( कप्तान) , मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, हार्दिक पंड्या, आर अश्विन, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, पार्थिव पटेल.

दक्षिण अफ्रीका : फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), डीन एल्गर, एडेन मार्करम, हाशिम अमला, क्विंटन डिकाक, केशव महाराज, मोर्ने मोर्कल, वेर्नोन फिलैंडर, कागिसो रबाडा, लुंगी एंगिडि.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close