INDvsENG : रोमांचक मुकबाले में पांचवा टेस्ट हारा भारत

इंग्लैंड ने पांचवा टेस्ट जीत कर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 4-1 से जीती. 

INDvsENG : रोमांचक मुकबाले में पांचवा टेस्ट हारा भारत
जेस्म एंडरसन ने टीम इंडिया का आखिरी विकेट लिया. (फोटो :फाइल)
Play

ओवल (लंदन): भारत-इंग्लैंड सीरीज के आखिरी मैच को इंग्लैंड ने रोमांचक अंदाज में जीत लिया है. टीम इंडिया का आखिरी विकेट जेम्स एंडरसन के नाम रहा. एंडरसन ने मोहम्मद शमी को बोल्ड कर इंग्लैड को 118 रनों से जीत दिला दी. टीम इंडिया: 345

भारत का 9वां विकेट रवींद्र जडेजा का गिरा जब सैम कुरैन ने उन्हें विकेटकीपर जॉनी बेयरस्टॉ के हाथों कैच कराया,जडेजा 13 रन बनाकर आउट हुए टीम इंडिया: 345/9

भारत का 8वां विकेट ईशांत शर्मा के रूप में गिरा. ईशांत को सैम कुरैन ने जॉनी बेयरस्टॉ के हाथों कैच आउट कराया. ईशांत 25 गेंद खेल कर 5 रन बना सके थे. इस समय तक मैच के 16 ओवर बाकी थे टीम इंडिया: 336/8

केएल राहुल के आउट होने के बाद ऋषभ पंत भी अपना विकेट ज्यादा देर नहीं बचा सके और आदिल राशिद की गेंद पर मोईन अली के हाथों कैच आउट करा दिया. पंत 114 रन बना कर आउट हुए. टीम इंडिया: 328/7

केेएल राहुल 149 रन के निजी स्कोर पर दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से आउट हो गए. उन्हें आदिल राशिद ने बोल्ड आउट किय. इस समय तक ऋषभ पंत 113 रन बना कर क्रीज पर मौजूद थे. केएल राहुल और पंत ने छठे विकेट के लिए 204 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी  की. वे दोनों चौथी पारी में सबसे बड़ी साझेदारी बनाने से केवल 9 रन से चूक गए. यह रिकॉर्ड अभी भी सुनील गावस्कर और चेतन चौहान के नाम है जिन्होंने ओवल में ही 1979 में 213 रनों की साझेदारी की थी.  टीम इंडिया: 325/6

तीसरे सेशन की शुरुआत में ही ऋषभ पंत ने छक्का लगाकर टीम इंडिया का स्कोर 300 रन के पार कर दिया. उस समय तक पंत 108 और राहुल 142 रन बना कर खेल रहे थे. 

दूसरे सेशन में चाय तक टीम इंडिया ने अपनी स्थिति काफी बेहतर कर ली थी. चायकाल तक ऋषभ पंत 101 रन और केएल राहुल 142 रन बना चुके थे और दोनों ने दूसरे सेशन में टीम इंडिया को कोई भी विकेट गिरने नहीं दिया था. टीम इंडिया: 298/5

 चाय से पहले ही ऋषभ पंत ने अपने करियर का पहला शतक लगाया. इंग्लैंड में शतक लगाने वाले पंत अब पहले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं. पंत ने अपना शतक छक्के से पूरा किया.  पंत ने अपने करियर का पहला रन भी छक्के के साथ ही शुरू किया था. पंत ने 117 गेंदों पर 14 चौके और 3 छक्कों के साथ 101 रन बनाए. 

ऋषभ पंत अब टेस्ट क्रिकेट में पहला शतक लगाने वाले दूसरे नंबर के सबसे युवा भारतीय विकेट बन गए. पंत ने यह शतक 20 साल 342 दिन की उम्र में लगाया था. उनसे आगे अजय रात्रा ने साल 2002 में वेस्टइंडीज के खिलाफ  20 साल 150 दिन की उम्र मेें शतक लगाया था. 

दूसरे सेशन में केएल राहुल और ऋषभ पंत ने टीम इंडिया का स्कोर 65वें ओवर में  250  रन कर दिया. केएल राहुल 178 गेंदों पर 138 रन और ऋषभ पंत 90 गेंदों पर 61 रन बना चुके थे. टीम इंडिया: 250/5

ऋषभ पंत के करियर का पहला अर्धशतक
ऋषभ पंत ने केएल राहुल का साथ देते हुए अपने करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया. ऋषभ ने 78 गेंदों खेल कर पारी के 61वें ओवर में अपना यह अर्धशतक पूरा किया. उनके साथ केेएल राहुल  131 रन बना चुके थे. टीम इंडिया: 232/5

केएल-पंत ने किया भारत को 200 के पार
लंच के बाद केएल राहुल ने ऋषभ पंत के साथ अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी जारी रखी और टीम का स्कोर 200 के पार कर दिया.  केएल 124 रन  बना चुके थे और उनका साथ ऋषभ पंत 33 रन बनाकर बखूबी दे रहे थे. टीम इंडिया: 204/5

लंच ब्रेक तक बने इंडिया के 5 पर 167 रन
लंच ब्रेक तक टीम इंडिया ने पांच विकेट पर 167 रन बना लिए थे. केएल राहुल शतक बना कर क्रीज पर मौजूद थे. वे 108 रन बना चुके थे, उनका साथ ऋषभ पंत 12 रन बनाकर दे रहे थे. 

केएल का 5वां टेस्ट शतक
केएल राहुल ने बेहतरीन बल्लेबाजी का प्रदर्शन करते हुए अपने करियर का  पांचवा शतक पूरा किया. केएल ने 118 गेंदों में 101 रन बनाते हुए टीम इंडिया का स्कोर 152 रन भी कर दिया. राहुल ने अपनी पारी में 16 चौके और एक छक्का लगाया. 

हनुमा विहारी शून्य पर हुए आउट
टीम इंडिया का पांचवा विकेट हनुमा विहारी के रूप में गिरा. विहारी को बेन स्टोक्स ने विकेट के पीछे जॉनी बेयरस्टॉ के हाथों कैच आउट कराया. विहारी खाता भी नहीं खोल सके थे. विहारी के आउट होने पर टीम इंडिया का स्कोर 5 विकेट के नुकसान पर 121 रन हो गया था. 

मोईन अली ने रहाणे को किया आउट
इंग्लैंड को पहली सफलता मोईन अली ने अजिंक्य रहाणे को केटन जेनिंग्स के हाथों कैच आउट कराया. रहाणे 106 गेंदों पर 37 रन बनाकर आउट हुए. उनके आउट होने पर टीम इंडिया का स्कोर 4 विेकट के नुकसान पर 120 रन हो गया था. केएल राहुल 73 रन बनाकर खेल रहे थे.  

टीम इंडिया की पारी के 33वें ओवर में सैम कुरैन की दूसरी गेंद पर अजिंक्य रहाणे  ने चौका लगा कर टीम  का स्कोर 100 रन के पार कर दिया. रहाणे 95 गेंदों पर 29 रन बना चुके थे जबकि दूसर छोर पर केएल राहुल 89 गेंदों पर 62 रन बना चुके थे. 

जब टीम इंडिया का स्कोर 97 रन था तब मोईन अली की गेंद पर एलबीडब्ल्यू की अपील को अंपायर कुमार धर्मसेना ने खारिज किया. जो रूट ने इस पर रिव्यू लिया जो इंग्लैंड के खिलाफ गया. इस तरह इंग्लैंड ने अपना एकमात्र बचा रिव्यू गंवा दिया और केएल राहुल अपना विकेट बचा गए. 

दिन के पहले ओवर में ही आखिरी गेंद पर चौका लगाकर केेएल राहुल ने चौका लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया. यह केएल के टेस्ट करियर का 12वां लेकिन उपमहाद्वीप के बाहर उनका पहला अर्धशतक है.केएल ने केवल 57 गेंदों में ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया. रहाणे के साथ उनकी साजेदारी अब 60 रन की हो गई थी.

चौथे दिन के अंत तक लोकेश राहुल और रहाणे (नाबाद 10) क्रीज पर थे. टीम इंडिया इंग्लैंड के दिए 464 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए मैच बचाने के लिए संघर्ष कर रही है.  टीम इंडिया को अभी जीत के लिए पांचवे दिन 406 रन बनाने हैं, जबकि उसके अभी तीन विकेट गिर चुके हैं. अगर टीम इंडिया यह मैच ड्रॉ करने में कामयाब हो गई तो यह उसके लिए जीत से कम उपलब्धि नहीं होगी. 

मैच के चौथे दिन टीम इंडिया अपनी दूसरी पारी की शुरुआत में ही संकट में आ गई जब केवल दो रन के स्कोर पर उसके तीन अहम बल्लेबाज पवेलियन लौट गए. इसके बाद सलामी बल्लेबाज केएल राहुल (नाबाद 46) ने शानदार बल्लेबाजी की और दिन का खत्म होने तक भारत ने मैच की चौथी पारी में तीन विकेट के नुकसान पर 58 रन बना लिए.

मेजबान टीम ने चौथे दिन सोमवार को आठ विकेट पर 423 रन बनाकर अपनी पारी घोषित की, पहली पारी में मिली 40 रनों की बढ़त के आधार पर इंग्लैंड ने भारत को कुल 464 रनों का लक्ष्य दिया. इंग्लैंड के दिए पहाड़ जैसे लक्ष्य का पीछा करते हुए मेहमान टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को एक के निजी स्कोर पर आउट करके भारत को पहला झटका दिया. इसके बाद चेतेश्वर पुजारा बिना खाता खेले पवेलियन लौट गए, पुजारा को आउट करके एंडरसन ने टेस्ट क्रिकेट में कुल 563 विकेट हासिल किए और आस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा की बराबरी कर ली. कप्तान विराट कोहली भी भारतीय पारी को संभाल नहीं पाए और बिना खाता खोले  स्टुअर्ट ब्रॉड की गेंद पर आउट हो गए.

चौथे दिन कुक और रूट के हुआ था इंग्लैंड मजबूत
मेजबान टीम ने तीसरे दिन के अपने स्कोर दो विकेट पर 114 रनों से आगे खेल कर तेजी से रन बनाए. आखिरी मैच खेल रहे एलिस्टर कुक (145) ने कप्तान जोए रूट (125) ने तीसरे विकेट के लिए 259 रनों की साझेदारी कर इंग्लैंड को मजबूत स्थिति में पहुंचाया.

हनुमा विहारी ने लंच के बाद रूट और कुक को आउट किया. तेज गेंदबाजों ने भी धारदार गेंदबाजी की और जॉनी बेयरस्टो (18) एवं जोस बटलर (0) को आउट किया, बेयरस्टो को मोहम्मद शमी जबकि बटलर को रविंद्र जडेजा ने पवेलियन की राह दिखाई. इसके बाद, इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने तेजी से रन बनाए. हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने 37 और सैम कुरेन ने 21 रनों का योगदान दिया, आदिल राशिद 20 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे. 

भारत के लिए इस पारी में हनुमा विहारी और रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि मोहम्मद शमी को दो विकेट मिले. इंग्लैंड इस सीरीज को पहले ही अपने नाम कर चुका है और 3-1 से आगे चल रहा है. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close