4 मैचों में नहीं चले हार्दिक पांड्या, लेकिन जब चले तो 'सुपर से ऊपर'

हार्दिक ने 5वें वनडे में अपने परफॉर्मेंस से एक बार फिर बताया क्यों वह टीम इंडिया के लिए जरूरी हैं.

4 मैचों में नहीं चले हार्दिक पांड्या, लेकिन जब चले तो 'सुपर से ऊपर'
बतौर ऑलराउंडर दक्षिण अफ्रीका में हार्दिक पांड्या फ्लॉप रहे (PIC : BCCI)

नई दिल्ली: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहली बार द्विपक्षीय सीरीज जीतकर भारत ने एक नया इतिहास रच दिया है. भारत ने मंगलवार देर रात सेंट जॉर्ज पार्क में खेले गए पांचवें वनडे मैच में मेजबान दक्षिण अफ्रीका को 73 रनों से हरा दिया. इसी के साथ भारत ने छह वनडे मैचों की सीरीज 4-1 से अपने नाम कर ली. यह भारत की दक्षिण अफ्रीका में पहली वनडे सीरीज जीत है. इससे पहले भारत कभी भी इस देश में वनडे सीरीज नहीं जीत सका था. इस मैच में जीत का सेहरा रोहित शर्मा और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के सिर पर बांधा गया, लेकिन इस मैच में एक और खिलाड़ी था जो इस जीत मुख्य कारणों में से एक था. इस खिलाड़ी का नाम है- हार्दिक पांड्या.

रोहित शर्मा की तरह ही वनडे सीरीज के पहले चार मैचों में फ्लॉप रहने वाले हार्दिक पांड्या ने भी पांचवें मैच में अपना कमाल दिखाया. भारत की इस जीत के हीरो शतक बनाने वाले सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (115) और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव रहे. कुलदीप ने चार विकेट लेकर अपनी टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाई. कुलदीप यादव की गेंदबाजी की हर कोई तारीफ कर रहा है, लेकिन पांचवें वनडे में टीम इंडिया को ब्रेक थ्रू दिलाने का श्रेय हार्दिक पांड्या को ही जाता है. 

बिगड़ रहा टीम का संतुलन, 'कपिल देव' बनना है तो पांड्या को समझनी होगी जिम्मेदारी

भारत ने दक्षिण अफ्रीका द्वारा बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर मेजबान टीम के सामने 275 रनों का लक्ष्य रखा था. मैच में शिखर धवन (34), रोहित शर्मा (115), कप्तान विराट कोहली (36),  अजिंक्य रहाणे (8), श्रेयस अय्यर (30), महेंद्र सिंह धोनी (13), हार्दिक पांड्या (0) रहे. भुवनेश्वर कुमार 19 रन बनाकर नाबाद रहे. उनके साथ कुलदीप दो रनों पर नाबाद लौटे. मैच के दौरान बल्लेबाजी करने उतरे हार्दिक पांड्या गोल्डन डक पर आउट हुए.

हार्दिक पांड्या के आउट होते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया. कभी हार्दिक पांड्या को टीम इंडिया का दूसरा कपिल देव बताने वाले फैन्स ने ही सोशल मीडिया पर उनका खूब मजाक बनाया. किसी ने हार्दिक के नीले बालों को लेकर कमेंट किए तो किसी ने कहा कि इन्हें तो सिर्फ स्टाइल में ही रहना आता है. सोशल मीडिया पर फैन्स ने पांड्या की तुलना इरफान पठान, स्टुअर्ट बिन्नी और शाहिद अफरीदी तक से करने लगे. 

भारत ने दक्षिण अफ्रीका से सीरीज तो छीनी ही, नंबर-1 का ताज भी छीन लिया

लेकिन शायद इस मैच के लिए पांड्या ने खुद को साबित करने के बारे में ठान रखा था. भले ही बल्ले से वह कोई कमाल नहीं दिखा पाए हों, लेकिन गेंदबाजी और फील्डिंग में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया. हार्दिक ने 5वें वनडे में अपने परफॉर्मेंस से एक बार फिर बताया क्यों वह टीम इंडिया के लिए जरूरी हैं. 

डुमिनी-डिविलिर्स को आउट कर दिलाई बड़ी सफलता 
जीरो पर आउट होने की भरपाई हार्दिक पांड्या ने गेंदबाजी और फील्डिंग से पूरी की. हार्दिक पांड्या ने 55 के कुल स्कोर पर ज्यां पॉल ड्यू्मिनी (1) को पवेलियन भेज दिया. इसके बाद मेजबान टीम के सबसे अहम बल्लेबाज अब्राहम डिविलियर्स 6 रन के निजी स्कोर पर पांड्या की गेंद पर विकेट के पीछे धोनी के हाथों लपके गए. उनका विकेट 65 के कुल स्कोर पर गिरा. यह दोनों विकेट दक्षिण अफ्रीका के लिए बेहद अहम थे. चौथे वनडे में एबी डिविलयर्स ने ही अपनी टीम को जीत दिलाई थी. डिविलियर्स के टीम में वापस आने के बाद से मेजबानों का आत्मविश्वास एक बार फिर से बढ़ गया था, लेकिन पांड्या ने डुमिनी और डिविलियर्स को सस्ते में पवेलियन लौटा कर टीम को बड़ी सफलता दिलवाई. 

Hardik Pandya, India vs South Africa

पांड्या ने किया अमला को रनआउट और पलट गया मैच का पासा
क्रिकेट में फील्डिंग कितनी महत्वपूर्ण है यह बात हर कोई जानता है. मैदान पर खिलाड़ियों की शानदार फील्डिंग मैच का रुख किस तरह से पलट सकती है, इसके कई उदाहरण हम देख चुके हैं. पोर्ट एलिजाबेथ में पांचवें वनडे में यह नजारा एक बार फिर से दिखाई पड़ा. मैच नाजुक मोड़ पर था. हाशिम अमला रफ्ता-रफ्ता टीम को जीत की ओर ले जा रहे थे, लेकिन हार्दिक पांड्या की एक शानदार थ्रो ने हाशि अमला को रन आउट कर दिया. दोनों बल्लेबाजों के बीच जरा-सी गलतफहमी हुई और इसका फायदा उठाकर पांड्या ने सीधे थ्रो से अमला को पवेलियन भेज दिया. पांचवें वनडे का यही टर्निंग प्वाइंट था. अमला ने 91 गेंदों पर 71 रन बनाए. अमला के रन आउट होने के बाद टीम अफ्रीका दबाव बर्दाश्त नहीं कर पाई और 201 रन पर ढेर हो गई. 

Hardik Pandya, India vs South Africa

हालांकि, पांड्या ने अपनी शानदार गेंदबाजी से डुमिनी और डिविलियर्स को आउट कर टीम इंडिया का जीत का मार्ग प्रशस्त कर दिया था, लेकिन एक छोर पर अमला टीम की बागडोर थामे हुए थे. वह केवल लूज गेंद पर शॉट लगा रहे थे. अपना 34वां अर्धशतक बनाने अमला ने रनों की रफ्तार बढ़ाने की कोशिश की. जब अमला और हेनरिक क्लासेन के बीच साझेदारी पनप रही थी ठीक उसी समय पांड्या ने अमला को एक डायरेक्ट थ्रो पर रन आउट कर दिया. इसके बाद भारत को ज्यादा परेशानी नहीं हुई. विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने नया इतिहास रच दिया-दक्षिण अफ्रीका में पहली वन डे सीरीज जीतने का. 

एक हाथ से कैच पकड़ पांड्या ने सबको चौंकाया
मैच के दौरान एक बार फिर से हार्दिक पांड्या ने अपने शानदार कैच से सभी को हैरान कर दिया. अमला को डायरेक्ट थ्रो से आउट करके पांड्या शानदार फील्डिंग का एक ट्रेलर पहले ही दिखा चुके थे. इसके बाद उन्होंने तबरेज शम्सी का शानदार कैच लपककर पूरी फिल्म दिखाई. यह कैच इतना शानदार था कि एक पल को पूरे स्टेडियम खामोश हो गया. अब तय हो गया था कि दक्षिण अफ्रीका सीरीज हारने की तरफ बढ़ रही है.तबरेज शम्सी को कुलदीप ने खाता भी नहीं खोलने दिया और दक्षिण अफ्रीका को नौवां झटका दिया.

Hardik Pandya, India vs South Africa

42वां ओवर चल रहा था. कुलदीप यादव गेंदबाजी कर रहे थे. तबरेज शम्सी ने लंबा शॉट लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद शिखर धवन की तरफ पहुंची. इस बीच अचानक वहां हार्दिक पांड्या पहुंच गए और उन्होंने एक हाथ से शम्सी का कैच लपक लिया. यह इस मैच का सबसे शानदार कैच था. पांड्या का यह कैच देखकर स्टेडियम में मौजूद हर शख्स हैरान रह गया और इस कैच पर कप्तान विराट कोहली भी खुद को हंसने से नहीं रोक पाए. 

बतौर ऑलराउंडर दक्षिण अफ्रीका में फ्लॉप रहे हार्दिक पांड्या
दक्षिण अफ्रीका दौरे पर अब तक अधिकतर भारतीय खिलाड़ी फ्लॉप ही रहे हैं. कप्तान विराट कोहली और स्पिनर्स युजवेंद्र चहल-कुलदीप यादव ही वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन कर पाए हैं. हार्दिक पांड्या बतौर ऑलराउंडर यहां नाकाम रहे. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गई टेस्ट मैच सीरीज के पहले मैच को छोड़ दें तो उनका परफॉर्मेंस काफी खराब रहा. पहले टेस्ट की पहली पारी में तो 93 रन बनाए. इसके बाद पिछली 9 पारियों में वह महज 53 रन ही बना पाए हैं.  वनडे सीरीज की 4 पारियों में हार्दिक पांड्या ने 8.66 की औसत से 26 रन ही बनाए हैं.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close