टीम इंडिया में वापसी के लिए काउंटी क्रिकेट नहीं खेल रहा था : मुरली विजय

सलामी बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर कहा, "इस बार हम अच्छी रणनीति के साथ खेलेंगे. पहले टेस्ट मैच से पहले हमें एक प्रैक्टिस मैच भी खेलना है. ये हमारे लिए काफी अच्छा रहेगा और मुझे आशा है कि टीम के अन्य खिलाड़ियों के लिए भी ये काफी फायदेमंद रहेगा." 

टीम इंडिया में वापसी के लिए काउंटी क्रिकेट नहीं खेल रहा था : मुरली विजय
काउंटी खेलने के दौरान अपनी तकनीक से समझौता नहीं किया : मुरली विजय (फाइल फोटो)

चेन्नई: भारतीय टेस्ट टीम से बाहर किए जाने के बाद एसेक्स के लिए खेलते समय मुरली विजय ने अपना फॉर्म फिर हासिल कर लिया, लेकिन इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि उन्होंने काउंटी खेलने के दौरान अपनी तकनीक में बदलाव नही किया और ना ही भारतीय टीम में फिर जगह पाने के लिए वह काउंटी खेल रहे थे. तमिलनाडु के इस सलामी बल्लेबाज ने इंग्लैंड में पहले दो टेस्ट में 20, 6, 0 और 0 रन बनाए, जिसकी वजह से उन्हें बाहर कर दिया गया था. इसके बाद एसेक्स के लिए खेलते हुए उन्होंने एक शतक और तीन अर्धशतक जड़े. 

मुरली विजय का कहना है कि मैंने कोई बदलाव नहीं किया है. वहां खेलने में मजा आया, क्योंकि खेलना आसान नहीं था. मैं ससेक्स का शुक्रगुजार हूं जिसने यह मौका दिया. वहां का अनुभव मेरे काफी काम आएगा. उन्होंने डिंडिगुल में मध्यप्रदेश के खिलाफ पहले रणजी ट्रॉफी मैच के बाद कहा, ''मैं भारतीय टीम में जगह दोबारा पाने के लिए काउंटी खेलने नहीं गया था. मुझे महसूस हुआ कि अच्छा क्रिकेट खेलने की जरूरत है जिसका मौका वहां मिलेगा.''

भारतीय टेस्ट टीम के ओपनर मुरली विजय पिछले कुछ समय से परीक्षा के दौर से गुजर रहे हैं. इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में वह फ्लॉप साबित रहे. मुरली विजय इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की टीम में शामिल थे, लेकिन केवल दो टेस्ट खेलने के बाद ही उन्हें दूसरे खिलाड़ियों के लिए जगह छोड़नी पड़ी. बीसीसीआई ने यह तय किया कि विजय को काउंटी क्रिकेट खेलना चाहिए. इसके बाद उन्हें ससेक्स क्रिकेट ने अनुबंधित कर लिया. यहां विजय ने कुछ अच्छी पारियां खेलीं. 

उन्होंने फर्स्ट क्लास मैचों में 56, 100, 85, 80 और 2 रनों की पारियां खेलकर फॉर्म में लौटने का संकेत दे दिया था. लिहाजा भारत के लिए अब तक 59 टेस्ट मैच खेल चुके विजय को अब एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए एक बार फिर टेस्ट टीम में शामिल किया है. बता दें कि इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर मुरली विजय ने चार मैचों में 482 रन बनाए थे. इस बार विजय और बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं. वह कहते हैं, ''इस बार हम योजना के अनुरूप पहले टेस्ट से पहले कुछ अभ्यास मैच खेलेंगे. यह आदर्श स्थिति होगी, हमें उम्मीद है कि हमारी टीम बेस्ट प्रदर्शन करेगी.''

इंग्लैंड में गरज रहा मुरली विजय का बल्ला, 3 मैच में बना दिए 300+ रन, टीम में वापसी का दावा ठोका

सलामी बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर कहा, "इस बार हम अच्छी रणनीति के साथ खेलेंगे. पहले टेस्ट मैच से पहले हमें एक प्रैक्टिस मैच भी खेलना है. ये हमारे लिए काफी अच्छा रहेगा और मुझे आशा है कि टीम के अन्य खिलाड़ियों के लिए भी ये काफी फायदेमंद रहेगा." 

ऑस्ट्रेलियन स्पिनर नाथन लियोन और विजय के बीच पहली सीरीज में कड़ा मुकाबला हुआ था. पहले टेस्ट में लियोन ने विजय को 99 रन पर आउट कर दिया था. दूसरे टेस्ट में भी लियोन ने ही उनकी विकेट ली. मुरली विजय ने कहा कि लियोन जैसी क्षमता वाले गेंदबाज को आपको लय में नहीं आने देना चाहिए. हम दोनों के बीच पिछली सीरीज में कड़ा मुकाबला हुआ. इस बार भी मैं उनकी चुनौती स्वीकार करुंगा.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close