PAKvsAUS: पाकिस्तानी मूल के खिलाड़ी ने ही तोड़ा पाकिस्तान की जीत का सपना

दुबई टेस्ट में पाकिस्तान के खिलाफ उस्मान ख्वाजा, टीम पेन और ट्रेविस हेड ने ऑस्ट्रेलिया को हार से बचा लिया.

PAKvsAUS: पाकिस्तानी मूल के खिलाड़ी ने ही तोड़ा पाकिस्तान की जीत का सपना
उस्मान ख्वाजा की शतकीय पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया दुबई टेस्ट में हार को टाल सका. (फाइल फोटो)

दुबई: पाकिस्तान के दुबई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट जीतना का सपना एक पाकिस्तानी मूल के खिलाड़ी ने ही तोड़ दिया. इस टेस्ट में सलामी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा (141) की बेहतरीन शतकीय पारी के अलावा, ट्रेविस हेड (72) और कप्तान टिम पेन (नाबाद 61) की संघर्षपूर्ण पारियों के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच पाकिस्तान से जीत छीनते हुए मैच ड्रॉ करा दिया.

पाकिस्तान ने चौथी पारी में ऑस्ट्रेलिया के सामने 462 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था. आस्ट्रलिया ने पांचवें और आखिरी दिन गुरुवार को अपनी दूसरी पारी में आठ ओवरों में 362 रन बनाते हुए मैच को ड्रॉ करा दिया. ऑस्ट्रेलिया ने दिन की शुरुआत तीन विकेट के नुकसान पर 136 रनों के साथ की थी. 

ख्वाजा और हेड की 132 रनों साझेदारी
लग रहा था कि पाकिस्तानी गेंदबाज पांचवें दिन ऑस्ट्रेलिया के बाकी के सात विकेट ले सीरीज में 1-0 की बढ़त ले लेंगे, लेकिन पहले दिन 50 के स्कोर पर नाबाद रहने वाले ख्वाजा और उनके साथ लौटने वाले हेड ने पाकिस्तानी गेंदबाजों की उम्मीद को नेस्तेनाबूद कर दिया. इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 132 रनों की साझेदारी की. 175 गेंद खेलकर पांच चौके मारने वाले हेड 219 के कुल स्कोर पर मोहम्मद हफीज की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए.

उम्मीद बंधी थी पाकिस्तान की
पदार्पण कर रहे मार्नस लाबुसचांजे सिर्भ 13 रनों का योगदान देकर 252 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट लिए. यहां लगा कि ऑस्ट्रेलिया दम तोड़ देगी, लेकिन ख्वाजा को कप्तान का साथ मिला. दोनों ने मिलकर टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचा दिया. इसी बीच यासिर शाह ने ख्वाजा को पवेलियन भेज पाकिस्तान की जीत की उम्मीदों को जिंदा किया. ख्वाजा 331 के कुल स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया के छठे विकेट के रूप में आउट हुए. उन्होंने अपनी जुझारू पारी में 302 गेंदों का सामना करते हुए 11 चौकों की मदद से शतकीय पारी खेली. 

मिशेल स्टार्क (1) भी 333 के कुल स्कोर पर आउट हो गए जिससे मैच में रोमांच आ गया लेकिन कप्तान पेन ने 34 गेंदों में नाबाद पांच रन बनाने वाले नाथन लॉयन की के साथ मिलकर पाकिस्तान को जीत के मुहाने से निराश लौटने का दर्द दिया. पेन ने अपनी नाबाद पारी में 194 गेंदें खेलीं और सिर्फ पांच चौके लगाए. 

चौथे दिन अब्बास ने जगाई थी उम्मीद
चौथे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया संघर्ष करती दिख रही थी. तेज गेंदबाज मोहम्मद अब्बास ने सात गेंद के अंदर तीन विकेट लेकर पाकिस्तान को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में जीत के करीब पहुंचा दिया था. अब्बास ने पहले सलामी बल्लेबाज आरोन फिंच (49) को आउट किया तथा इसके बाद मार्श बंधुओं शॉन और मिशेल को पवेलियन की राह दिखाई जो खाता भी नहीं खोल पाए.

चौथे दिन पाकिस्तान था हावी
चौथे दिन का खेल समाप्त होने पर ऑस्ट्रेलियाई टीम तीन विकेट पर 136 रन बनाकर संघर्ष कर रही थी. पहली पारी में 280 रन की बढ़त हासिल करने वाले पाकिस्तान ने इससे पहले अपनी दूसरी पारी छह विकेट पर 181 रन बनाकर समाप्त घोषित की. ऑस्ट्रेलिया को इस तरह से 462 रन का मुश्किल लक्ष्य मिला. उसे दो मैचों की सीरीज में बढ़त बनाने के लिए अभी 326 रन की जबकि पाकिस्तान को सात विकेट की दरकार थी. 

पहली पारी की तरह गिरने लगे अचानक विकेट
ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में पहली पारी का दोहराव देखने को मिला. पहली पारी में उसकी सलामी जोड़ी ने 142 रन की साझेदारी की लेकिन उसकी टीम ने सभी दस विकेट 60 रन के अंदर गंवा दिए. फिंच और ख्वाजा ने फिर से टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया टीम केवल 202 रन सिमट गई थी. 

(इनपुट आईएएनएस)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close