कॉमनवेल्थ गेम्स की क्लोजिंग सेरेमनी रही इतनी फीकी कि इन्हें मांगनी पड़ी माफी

आयोजन समिति के प्रमुख ने इस आलोचना को स्वीकार किया है कि लंबे भाषण के कारण दर्शक स्टेडियम से जा रहे थे जबकि प्रसारण में खिलाड़ियों को अधिक तवज्जो नहीं मिली.

कॉमनवेल्थ गेम्स की क्लोजिंग सेरेमनी रही इतनी फीकी कि इन्हें मांगनी पड़ी माफी

गोल्ड कोस्ट : गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स के प्रमुख पीटर बीटी स्वीकार किया है कि आयोजकों ने रविवार के समापन समारोह को नीरस बना दिया. उन्होंने इस आलोचना को स्वीकार किया है कि लंबे भाषण के कारण दर्शक स्टेडियम से जा रहे थे जबकि प्रसारण में खिलाड़ियों को अधिक तवज्जो नहीं मिली. आयोजन समिति के अध्यक्ष बीटी ने माफी मांगते हुए कहा, ‘हमने गलती कर दी.’ ओलंपिक और राष्ट्रमंडल खेलों के समापन समारोह उद्घाटन समारोह की तुलना में अधिक सहज होते हैं जिसमें खिलाड़ियों और उनकी उपलब्धियों के जश्न पर अधिक ध्यान दिया जाता है.

लेकिन आयोजकों ने समारोह की शुरुआत से पहले ही खिलाड़ियों को करारा स्टेडियम में प्रवेश कराने का फैसला किया जिससे टीवी दर्शकों को उन्हें देखने का मौका नहीं मिला. बीटी ने सोमवार को कई ट्वीट करके कहा कि समारोह उस तरह नहीं हो पाया, जिस तरह की आयोजकों ने योजना बनाई थी.

राष्ट्रमंडल खेलों में भारतीय पदक विजेताओं को आईओए ने दी बधाई
आस्ट्रेलिया में हुए 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में देश के लिए पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को भारतीय ओलम्पिक महासंघ (आईओए) ने बधाई दी. सोमवार को आईओए अध्यक्ष डॉ. नरिंदर बत्रा ने पदक विजेताओं की सराहना कर उन्हें बधाई दी.  आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चार से 15 अप्रैल तक आयोजित हुए इन खेलों भारतीय दल ने कुल 66 पदक जीते, जिसमें 26 स्वर्ण, 20 रजत और इतने ही कांस्य पदक शामिल हैं. इसके अलावा, इसमें भारतीय खिलाड़ियों ने 11 रिकॉर्ड भी बनाए.