IAAF विश्व चैंपियनशिप: 4 x 400 रिले टीम स्पर्धा में खिताबी दौड़ से भारत बाहर

पुरुषों की चार गुणा चार सौ रिले टीम स्पर्धा में भी भारतीय टीम अपनी हीट में तीन मिनट 2.80 सेकेन्ड के समय के साथ पांचवें स्थान और कुल 16 टीमों में दसवें स्थान पर रही. टीम महज एक सेकेन्ड से भी कम समय से फाइनल में जगह बनाने से चूक गयी.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | अंतिम अपडेट: शनिवार अगस्त 12, 2017 - 10:12 PM IST
IAAF विश्व चैंपियनशिप: 4 x 400 रिले टीम स्पर्धा में खिताबी दौड़ से भारत बाहर
चार गुणा 400 मीटर रिले फाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाली स्पेन की टीम. (PHOTO : European Athletics/Twitter)

लंदन: एशियाई चैंपियन भारत की महिला चार गुणा 400 मीटर रिले टीम को लेन तोड़ने के कारण अयोग्य घोषित किया गया, जबकि पुरुष टीम 10वें स्थान पर रहते हुए शनिवार (12 अगस्त) को यहां विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप से बाहर हो गई जिससे इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में भारत का निराशाजनक प्रदर्शन जारी रहा. भारतीय महिलाओं की टीम में जिस्ना मैथ्यू, एमआर पूवम्मा, अनिल्डा थॉमस और निर्मला शेरोन शामिल थी जो तीन मिनट 28.62 सेकेन्ड के समय के साथ अपनी हीट में सातवें स्थान पर रही. लेन तेड़ने के कारण टीम को अयोग्य घोषित कर दिया गया. अगर उन्हें आयोग्य घोषित नहीं भी किया जाता तो भी महिलओं की टीम फाइनल में नहीं पहुंचती. भारत की तरफ से दौड़ की शुरुआत करने वाली जिस्ना 250 मीटर की दूरी तय करने के बाद दूसरे खिलाड़ी की लेन में चली गयी जिसके बाद उन्हें आईएएएफ प्रतियोगिता के नियम 163.3(ए) के तहत अयोग्य करार दिया गया.

एशियाई चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली यह टीम अपनी हीट में सातवें स्थान पर रही और सभी टीमों के बीच कुल 12वें स्थान पर रही. टूर्नामेंट के फाइनल में दोनों हीट की शीर्ष तीन-तीन टीमों के अलवा अगला सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली दो टीमें शामिल हैं. इस स्पर्धा में अमेरिका, जमैका, ब्रिटेन, नाइजीरिया, जर्मनी, पोलैंड, बोत्सवाना और फ्रांस की टीमों ने क्वालीफाई किया है. पुरुषों की चार गुणा चार सौ रिले टीम स्पर्धा में भी भारतीय टीम अपनी हीट में तीन मिनट 2.80 सेकेन्ड के समय के साथ पांचवें स्थान और कुल 16 टीमों में दसवें स्थान पर रही. टीम महज एक सेकेन्ड से भी कम समय से फाइनल में जगह बनाने से चूक गयी, फाइनल में क्वालीफाई करने वाली आखिरी टीम क्यूबा के धावकों ने तीन मिनट 01.88 सेकेन्ड का समय लिया था.

एशियाई चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाले कुन्हु मुहम्मद, अमोज जैकब, मुहम्मद अनस और राजीव अरोकिया की टीम यहां कोई करिश्मा करने में नाकाम रहीं. रेस के बाद अपने प्रदर्शन पर संतुष्टि जताते हुये अरोकिया ने कहा, ‘यह सत्र का हमारा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है, हम और अच्छा कर सकते थे, लेकिन दूसरे धावकों के पीछे दौड़ने के कारण बेटन देने में ज्यादा समय लग गया. एशियाई चैंपियनशिप में हम शुरुआत से बढ़त बनाये हुये थे और वहां बेटन आसानी से दूसरे खिलाड़ी को दे पा रहे थे.' रविवार (13 अगस्त) को होने वाले फाइनल के लिये क्वालीफाई करने के मामले में अमेरिका (दो मिनट 59.23 सेकेन्ड), त्रिनिदाद एंड टोबैगो (दो मिनट 59.35 सेकेन्ड) और बेल्जियम (दो मिनट 59.47 सेकेन्ड) शीर्ष तीन टीमें रहीं. इनके अलावा ब्रिटेन, फ्रांस, स्पेन, पोलैंड और क्यूबा ने भी फाइनल में अपनी जगह पक्की की.