VIDEO: दाएं हाथ से गेंद डाली और बाएं से लपका शानदार कैच, देखता रह गया बल्लेबाज

बारिश से बाधित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के एलिमिनेटर मैच में बुधवार देर रात हुए मुकाबले में एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में कोलकाता नाइट राइडर्स ने मौजूदा विजेता सनराइजर्स हैदराबाद को सात विकेट से हरा दिया. 

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: May 19, 2017, 05:08 PM IST
VIDEO: दाएं हाथ से गेंद डाली और बाएं से लपका शानदार कैच, देखता रह गया बल्लेबाज
नाथन कुल्टर नाइल ने अपनी ही गेंद पर पकड़ा ऐसा कैच, बल्लेबाज भी रह गया हैरान (PIC : IPL/BCCI)

नई दिल्ली : बारिश से बाधित इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के एलिमिनेटर मैच में बुधवार देर रात हुए मुकाबले में एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में कोलकाता नाइट राइडर्स ने मौजूदा विजेता सनराइजर्स हैदराबाद को सात विकेट से हरा दिया. 

इस मैच के नायक रहे- नाथन कुल्टर नाइल. चोट और दर्द के बावजूद एलिमिनेटर मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैदान पर उतरे. चोट के बाद कुछ मैच नहीं खेलने वाले नाइल ने शानदार वापसी की और 4 ओवर में सिर्फ 20 रन देकर 3 विकेट हासिल किए. इस प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड से भी नवाजा गया.

इस मैच के दौरान एक ऐसा नजारा भी देखने को मिला, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया. दरअसल, पारी के 19वें ओवर में नाइल की तीसरी गेंद पर क्रिस जॉर्डन गेंद को बल्ले से छू बैठे.

गेंद गेंदबाज नाइल की ओर हवा में उठ गई. इस दौरान नाइल ने फुर्ती दिखाते हुए गेंद को बाएं हाथ से गिरते हुए लपक लिया. इसके साथ ही हैदराबाद को छठा झटका लग गया. जॉर्डन पहली ही गेंद पर बिना खाता खोले पवेलियन चलते बने.

बता दें कि नाथन कुल्टर नाइल (20 रन पर तीन विकेट) और उमेश यादव (21 रन पर दो विकेट) की तूफानी गेंदबाजी से कोलकाता नाइट राइडर्स ने आईपीएल-10 के बारिश से प्रभावित एलिमिनेटर मुकाबले में गत चैंपियन सनराइजर्स हैदराबाद को डकवर्थ लुईस पद्धति के आधार पर सात विकेट से हराकर दूसरे क्वालीफायर में जगह बनाई जहां उसका सामना मुंबई इंडियंस से होगा.

कोलकाता ने पहले गेंदबाजी करते हुए हैदराबाद को निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 128 रनों पर ही रोक दिया था. उसे जीत के लिए 129 रनों का लक्ष्य मिला था, लेकिन पहली पारी के अंत होने तक बारिश ने दस्तक दी जो बाद में तेज हुई और इसी कारण दूसरी पारी समय से शुरू नहीं हो पाई. 

तकरीबन तीन घंटे से ज्यादा इंतजार के बाद बारिश थमी और कोलकाता को डकवर्थ लुइस नियम के हिसाब से छह ओवरों में 48 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला. इन छह ओवरों में दो ओवर पावर प्ले के थे. इस बदले हुए लक्ष्य को कोलकाता ने चार गेंद शेष रहते हुए तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया.