परोक्ष धूम्रपान से बच्चों में मोटापे का खतरा

परोक्ष धूम्रपान से बच्चों में मोटापे का खतरा

  एक ताजा अध्ययन के मुताबिक, धूम्रपान करने वाले परिजनों के बच्चे 10 वर्ष का होते-होते अन्य बच्चों की अपेक्षा चौड़ी कमर वाले हो जाते हैं तथा उनमें बॉडी मॉस इंडेक्स (बीएमआई) भी उच्चतर होता है। अध्ययन के मुताबिक, छोटे बच्चों के आस-पास धूम्रपान करना गर्मावस्था के दौरान धूम्रपान जितना ही हानिकारक होता है। अध्ययन के मुख्य लेखक एवं कनाडा के मॉण्ट्रियल विश्वविद्यालय की प्राध्यापक लिंडा पागानी ने कहा कि बच्चों के बीच धूम्रपान करने वाले परिजनों के बच्चों की कमर 10 वर्ष का होते-होते इसी अवस्था के अन्य बच्चों की अपेक्षा चौड़ी हो जाती है।