पाक आतंकवादी कसाब को मौत की सजा सुनाने वाले जज 21 अगस्त को होंगे रिटायर

पाक आतंकवादी कसाब को मौत की सजा सुनाने वाले जज 21 अगस्त को होंगे रिटायर

26/11 मुंबई आतंकवादी हमलों के दोषी पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल कसाब को मौत की सजा सुनाने वाले बंबई उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एम एल टहिलयानी 21 अगस्त को  28 सालों की विशिष्ट न्यायिक सेवा के बाद सेवानिृवत होने वाले हैं । न्यायमूर्ति टहलियानी 24 अगस्त को महाराष्ट्र के लोकायुक्त के तौर पर अपनी नई जिम्मेदारी संभालेंगे ।

आतंकी मामला: चार सालों में याकूब मेमन समेत तीन को फांसी दी गई

आतंकी मामला: चार सालों में याकूब मेमन समेत तीन को फांसी दी गई

मुंबई में 1993 के श्रृंखलाबद्ध बम धमाकों के सिलसिले में मौत की सजा पाने वाले एकमात्र दोषी याकूब मेमन को गुरुवार सुबह फांसी दे दी गई और इसके साथ ही वह पिछले चार सालों में आतंकी मामलों में ऐसा तीसरा दोषी बन गया जिसे फांसी दी गई। याकूब मेमन को आज नागपुर केंद्रीय कारागार में फांसी दी गई जिसका आज 53वां जन्मदिन था।

कसाब ने कभी भी बिरयानी की मांग नहीं की थी और ना ही सरकार ने परोसी थी: उज्ज्वल निकम

कसाब ने कभी भी बिरयानी की मांग नहीं की थी और ना ही सरकार ने परोसी थी: उज्ज्वल निकम

मुंबई 26/11 हमला मामले के सार्वजनिक अभियोजक उज्ज्वल निकम ने दावा किया कि हमले के दोषी अजमल कसाब के जेल में बिरयानी मांगने की बात झूठ है और इसे आतंकी के पक्ष में बनायी जा रही एक भावनात्मक लहर को रोकने के लिए गढ़ा गया था।

कसाब पर सूचना ‘लीक’ करने के लिए महाराष्ट्र के गृहमंत्री को हटाने की मांग

शिवसेना के विधान परिषद सदस्य अनिल परब ने महाराष्ट्र के राज्यपाल के. शंकरनारायणन से मांग की है कि वह मुंबई हमलों के आतंकी अजमल कसाब के जेल के समय और यरवदा जेल में उसे दफनाए जाने के बारे में ‘ब्यौरे का खुलासा’ करने के लिए राज्य के गृहमंत्री आर आर पाटिल को राज्य मंत्रिमंडल से बर्खास्त करें ।

कसाब के `भूत` से अब जुंदाल को मिलेगा छुटकारा

मुंबई हमले का आरोपी लश्कर आतंकी अबू जुंदाल को अब कुछ दिनों में आर्थर रोड जेल से नवी मुंबई की तलोजा जेल में भेज दिया जाएगा।

आतंकी जुंदाल की नौटंकी, कसाब के `भूत` से लगा डर

मुंबई पर साल 2008 में हुए हमले के साजिशकर्ता आतंकी अबु जुंदाल की अब एक और नौटंकी सामने आई है। उसे कसाब के `भूत` से जेल के भीतर डर लग रहा है।

कसाब से संबंधित जानकारी का खुलासा नहीं

महाराष्ट्र सरकार, पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब से सम्बंधित जानकारी का खुलासा नहीं करेगी। महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि इससे देश की सम्प्रभुता तथा रणनीतिक हितों को नुकसान हो सकता है।

कसाब को दफनाने में सबसे कम हुआ खर्च

मुंबई हमलों के मामले में दोषी ठहराये गए अजमल कसाब को मुंबई की आर्थर रोड जेल और पुणे की यरवदा जेल में रखने पर उसके भोजन, कपड़े, दवाओं और सुरक्षा पर महाराष्ट्र तथा केंद्र सरकार ने 28.46 करोड़ रुपये खर्च किये।

सईद ने कसाब के लिए ‘नमाज-ए-जनाजा’ पढ़ी

मुंबई पर आतंकवादी हमले में गिरफ्तार एकमात्र आतंकवादी अजमल कसाब के ‘नमाज-ए-जनाजा’ में लश्कर-ए-तय्यबा के संस्थापक हाफिज मोहम्मद सईद के नेतृत्व में हजारों लोगों ने हिस्सा लिया। गौरतलब है कि कसाब को इस हफ्ते की शुरूआत में फांसी दी गई थी।

'कसाब मामले को सरबजीत से नहीं जोड़ेगा पाक'

पाकिस्तान के आंतरिक सुरक्षा मंत्री रहमान मलिक ने कहा है कि पाकिस्तान आमिर अजमल कसाब के फांसी के मुद्दे को सरबजीत के साथ नहीं जोड़ेगा।

26/11 हमला: चार साल बाद भी कई सवाल अनुत्‍तरित

पाकिस्तान के अग्रणी समाचारपत्र `डॉन` ने गुरुवार को कहा कि अजमल आमिर कसाब को फांसी दिए जाने की घटना ने संवेदनहीन होकर सुनियोजित ढंग से किए गए जनसंहार की यादें ताजा कर दीं, जिसके कारण पाकिस्तान और भारत के बीच ईंट की दीवार खड़ी हो गई।

कसाब को फांसी पीड़ितों के लिए राहत: अमिताभ

बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन मानते हैं कि पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब को फांसी दिया जाना 26/11 के पीड़ितों के लिए राहत है।

बक्सर की रस्सी से मिली कसाब को फांसी

बक्सर जेल के अधिकारियों और कैदियों को इस बात का भरोसा है कि बक्सर जेल में बनी विशेष ‘मनीला रस्सी’ से ही मुंबई पर आतंकवादी हमले के दोषी अजमल कसाब को बुधवार को पुणे के यरवदा जेल में फांसी दी गई।

कसाब की चाची को भतीजे के आतंकी कारनामों पर गर्व, मांगा शव

देश की वाणिज्यिक राजधानी मुंबई पर साल 2008 में हुए आतंकी हमले के करीब चार साल बाद बुधवार सुबह पाकिस्‍तानी आतंकी आमिर अजमल कसाब को पूणे के यरवदा केंद्रीय कारागार में फांसी पर लटका दिया गया। फांसी पर लटकाए जाने से पहले कसाब को काफी पछतावा था, जोकि उसके अंतिम बोल में दिखे। लेकिन इसके उलट कसाब की चाची को अपने भतीजे कसाब के कारनामे पर गर्व है।

कसाब ने गरीबी के चलते पकड़ी जुर्म की राह

ईद के मौके पर पिता द्वारा नए कपड़े नहीं खरीद पाने से उपजे रोष के कारण अजमल आमिर कसाब ने घर छोड़ दिया, अपराध का रास्ता अपना लिया, जेल गया और आखिर में भारत में मिली मौत की सजा।

पाक तालिबान की भारत को चेतावनी, मांगा कसाब का शव

आतंकी संगठन पाक तालिबान ने गुरुवार को आमिर अजमल कसाब को फांसी दिए जाने का बदला लेने के लिए भारतीय लोगों और ठिकानों पर हमला करने की धमकी दी है।

कसाब मामले में हुई पारदर्शी सुनवाई : अमेरिका

अमेरिका ने कहा कि मुम्बई आतंकवादी हमले के एकमात्र जीवित बचे आतंकवादी अजमल आमिर कसाब के मामले में कानूनी प्रक्रिया के तहत पूर्ण रूप से पारदर्शी तरीके से सुनवायी हुई।

अफजल गुरु के नाम आई रस्सी से कसाब को दी गई फांसी

पुणे की यरवदा जेल में पाकिस्तानी आतंकी आमिर अजमल कसाब को जिस रस्सी से फांसी दी गई वह संसद हमले के अभियुक्त अफजल गुरु के लिए इस्तेमाल की जानी थी यानी इस रस्सी को अफजल गुरु को फांसी देने के लिये लाया गया था।

कसाब को फांसी पर चढ़ाए जाने से पहले ...।

26/11 मुंबई हमले के आतंकी आमिर अजमल कसाब को फांसी दे दी गई है। लेकिन कसाब की फांसी से पहले के कुछ घंटे पहले वह शांत हो गया था।

कसाब को फांसी तक पहुंचाने वाली बच्ची

मुम्बई में 26 नवम्बर 2008 को हुए आतंकवादी हमले के गुनाहगार अजमल आमिर कसाब को गोली चलाते देखने वाली चश्मदीद गवाह राजस्थान के पाली जिले की सुमेरपुर की रहने वाली कक्षा नौ की बच्ची देविका का कहना है कि वह आईपीएस अफसर बनकर हजारों आतंकवादियों को मारना चाहती है ।

चार साल में कसाब पर 30 करोड़ रूपये खर्च

केंद्र और महाराष्ट्र सरकार ने अजमल कसाब को मुंबई के आर्थर रोड केंद्रीय कारागार में रखे जाने के दौरान उसे भोजन, सुरक्षा, दवा और कपड़े मुहैया करने पर करीब 29.5 करोड़ रूपये खर्च किए।



लाइव स्कोर कार्ड