जानिए कैसे उम्मीद से अधिक हो सकते है नोटबंदी के फायदे !

जानिए कैसे उम्मीद से अधिक हो सकते है नोटबंदी के फायदे !

नई दिल्लीः जानकारों का मानना है कि पिछले साल केंद्र की मोदी सरकार द्वारा की लिए गए नोटबंदी के फैसले का असर नेगिटिव होगा या पॉजिटिव यह हमें कुछ समय बाद ही पता चलेगा.

बैंकों में नकली करेंसी जमा होने का कोई रिकॉर्ड नहीं: रिजर्व बैंक

बैंकों में नकली करेंसी जमा होने का कोई रिकॉर्ड नहीं: रिजर्व बैंक

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि बैंकों में जमा किये गये 500, 1,000 रुपये के चलन से वापस लिये गये नोटों में नकली मुद्रा होने का कोई रिकार्ड नहीं है।

डीआरटी ने बैंकों से कहा- माल्या से 6,203 करोड़ रुपये की वसूली प्रक्रिया शुरू करें

डीआरटी ने बैंकों से कहा- माल्या से 6,203 करोड़ रुपये की वसूली प्रक्रिया शुरू करें

रिण वसूली न्यायाधिकरण (डीआरटी) ने आज भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले बैंक समूह के मामले में अपना आदेश सुनाते हुये बैंकों से कहा कि वह संकटग्रस्त उद्योगपति विजय माल्या और उनकी कंपनियों से किंगफिशर एयरलाइंस मामले में 6,203 करोड़ रुपये का कर्ज वसूलने की प्रक्रिया शुरू करें। इस राशि पर 11.5 प्रतिशत की सालाना दर से ब्याज भी लगाया जायेगा।

नोटबंदी के बाद जमा 3-4 लाख करोड़ की रकम में टैक्स चोरी का संदेह, IT कर रहा जांच

नोटबंदी के बाद जमा 3-4 लाख करोड़ की रकम में टैक्स चोरी का संदेह, IT कर रहा जांच

नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा की गई राशि की जांच पड़ताल में सरकार को करीब तीन से चार लाख करोड़ रुपये की आय में कर चोरी का पता चला है। यह राशि नोटबंदी के बाद 500, 1,000 रुपये के पुराने नोट जमा कराने की 50 दिन की अवधि में जमा कराई गई। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आयकर विभाग को इनकी जांच पड़ताल करने को कहा गया है जिसके बाद 3-4 लाख करोड़ रुपये की संदिग्ध कर- अपवंचना वाली राशि जमा कराने वालों को नोटिस भेजे जायेंगे।

बैंकों ने मानक ब्याज दरें घटायी: आवास, कंपनी कर्ज होगा सस्ता

बैंकों ने मानक ब्याज दरें घटायी: आवास, कंपनी कर्ज होगा सस्ता

सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के करीब आधे दर्जन बैंकों ने सोमवार को मानक ब्याज दर में 1.48 प्रतिशत तक की कटौती की। नोटबंदी के बाद जमा में वृद्धि के बाद बैंकों के इस कदम से मकान, गाड़ी और कंपनी कर्ज सस्ता होगा।

स्टेट बैंक ने ऋण पर ब्याज दर 0.9 प्रतिशत घटाई, अन्य बैंक भी सस्ता कर सकते हैं कर्ज

स्टेट बैंक ने ऋण पर ब्याज दर 0.9 प्रतिशत घटाई, अन्य बैंक भी सस्ता कर सकते हैं कर्ज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल बैंकों से गरीबों तथा निम्न मध्यम वर्ग को ऋण में प्राथमिकता देने को कहा था। इसके बाद देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) आज अपनी विभिन्न परिपक्वता अवधि की बेंचमार्क ऋण दरों में 0.9 प्रतिशत कटौती की घोषणा की। नई दरें आज से प्रभावी होंगी। माना जा रहा है कि अन्य बैंक भी ऐसा कदम उठा सकते हैं।

स्टेट बैंक की चेयरमैन अरुंधति भट्टाचार्य के मुताबिक, '30 दिसम्बर से आगे बढ़ सकती है लिमिटेट कैश निकालने की समय सीमा!'

स्टेट बैंक की चेयरमैन अरुंधति भट्टाचार्य के मुताबिक, '30 दिसम्बर से आगे बढ़ सकती है लिमिटेट कैश निकालने की समय सीमा!'

वैसे तो साफ है कि नोटबंदी के बाद चलन से बाहर हुए नोटों को जमा करने की समयसीमा 30 दिसंबर को खत्म हो रही है लेकिन बैंक से और एटीएम से लिमिटेट कैश निकालने की समय सीमा थोड़ी और बढ़ सकती है।

नोटबंदी: बैंकों से पैसे निकालने की सीमा जल्द बढ़ाई जा सकती है, अब तक 50 फीसदी नई करेंसी बाजार में आई

नोटबंदी: बैंकों से पैसे निकालने की सीमा जल्द बढ़ाई जा सकती है, अब तक 50 फीसदी नई करेंसी बाजार में आई

केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद सरकार पैसे निकालने की सीमा को जल्द बढ़ा सकती है। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक बैंकों से पैसे निकालने की सीमा जल्द बढ़ाई जा सकती है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक बैंकों से कैश निकासी की वर्तमान सीमा बढ़ाई जा सकती है। गौर हो कि इस समय यह सीमा 24 हजार रुपये है। इस समय बैंकों से एक सप्ताह में निर्धारित निकासी राशि 24 हजार रूपए है। 

तीन दिन की छुट्टी के बाद बैंकों को भारी भीड़ का अंदेशा

तीन दिन की छुट्टी के बाद बैंकों को भारी भीड़ का अंदेशा

बैंक उपभोक्ताओं का शाखओं को एटीएम के बाहर लाइनों में लगना बदस्तूर जा रही है वहीं तीन दिन की छुट्टी से पहले बैंकों को नकद की बड़ी मांग को पूरा करने में परेशानी का सामना करना पड़ा।कई स्थानों पर बैंक तीन दिन तक बंद रहेंगे। सोमवार को ईद-ए-मिलाद है।

500 रुपये के नोटों की बढ़ेगी तादाद, ATM से कैश निकालने की लिमिट बढ़ेगी!

500 रुपये के नोटों की बढ़ेगी तादाद, ATM से कैश निकालने की लिमिट बढ़ेगी!

दिसंबर महीने की शुरुआत में ही बैंकों के सामने नई चुनौती कर्मचारियों-नौकरीपेशा लोगों को सैलरी बांटने की है, हालांकि सरकार ने लोगों को सैलरी निकासी को लेकर कई विशेष इंतजाम किए हैं ताकि लोगों को दिक्‍कत न हो। सूत्रों के अनुसार, लोगों की मांग और बाजार में बड़े नोट के चलन में सहायक के तौर पर 500 नोटों की संख्‍या को जल्‍द बढ़ाने की तैयारी में है। साथ ही एटीएम से कैश निकासी की लिमिट भी बढ़ाने की तैयारी है।

नोटबंदी: बैंकों और एटीएम से सैलरी निकालने की दौड़ में जुटे लोग, सरकार ने किए विशेष इंतजाम

नोटबंदी: बैंकों और एटीएम से सैलरी निकालने की दौड़ में जुटे लोग, सरकार ने किए विशेष इंतजाम

दिसबंर महीने का गुरुवार को पहला दिन है। नोटबंदी के बीच वेतन निकालने के लिए बैंकों और एटीएम के बाहर भारी भीड़ जुट रही है। इस बीच, बैंकों ने सैलरी को लेकर कमर्चारियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए नकदी का विशेष बंदोबस्त करने की कोशिश की है। वहीं, सरकार ने लोगों को वेतन दिलाने को लेकर कई विशेष इंतजाम किए हैं। नवंबर महीने की सैलरी आने के बाद तनख्वाह निकालने की दौड़ में लगी जनता को सरकार ने भरोसा दिलाया है कि ज्यादा नकदी मुहैया करायी जाएगी।

नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा हुए 8.45 लाख करोड़ रुपये के पुराने नोट

नोटबंदी के बाद बैंकों में जमा हुए 8.45 लाख करोड़ रुपये के पुराने नोट

नोटबंदी के बाद बैंकों में 500 और 1,000 के पुराने नोटों में कुल 8.45 लाख करोड़ रुपये जमा हुए हैं या बदले गए हैं। यह आंकड़ा 27 नवंबर तक का है। रिजर्व बैंक ने एक बयान में यह जानकारी दी। केंद्रीय बैंक ने कहा कि इस दौरान बैंकों ने काउंटर तथा एटीएम के जरिये 2.16 करोड़ रुपये वितरित किए हैं।

'बैंकों, एटीएम से प्रति सप्ताह 24 हजार रूपए तक की रकम निकालना जारी रख सकते हैं लोग'

'बैंकों, एटीएम से प्रति सप्ताह 24 हजार रूपए तक की रकम निकालना जारी रख सकते हैं लोग'

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा कि लोग अपने बैंक खातों और एटीएम से हफ्ते में 24,000 रूपए तक की रकम निकालना जारी रख सकते हैं।

नोटबंदी: बढ़ सकती है पुराने नोटों के इस्‍तेमाल की मियाद, सरकार कर सकती है नया ऐलान

नोटबंदी: बढ़ सकती है पुराने नोटों के इस्‍तेमाल की मियाद, सरकार कर सकती है नया ऐलान

नोटबंदी पर लोगों को राहत देने के मद्देनजर केंद्र सरकार गुरुवार शाम तक नया ऐलान कर सकती है। सूत्रों के अनुसार, केंद्र सरकार पुराने नोटों के इस्‍तेमाल की मियाद बढ़ाने की तैयारी में है।  

आज आधी रात से कहीं नहीं चलेंगे 500-1000 रुपये के पुराने नोट, कल से सिर्फ बैंकों में जमा और बदले जाएंगे

आज आधी रात से कहीं नहीं चलेंगे 500-1000 रुपये के पुराने नोट, कल से सिर्फ बैंकों में जमा और बदले जाएंगे

पांच सौ रुपये एवं एक हजार रुपये के पुराने नोट केवल गुरुवार रात (24 नवंबर) तक ही जरूरी कामों के लिए उपयोग कर सकते हैं। आज आधी रात से पुराने नोटों का चलन बंद हो जाएगा। बंद हो चुके नोटों के चलन का आज आखिरी दिन है। शुक्रवार से केवल बैंकों में पुराने नोट बदले जाएंगे। पुराने नोटों को 30 दिसंबर तक बैंकों और पोस्‍ट ऑफिस में एक्‍सचेंज और जमा करा सकते हैं। आज रात से 500 और हजार के पुराने नोट इतिहास का हिस्सा हो जाएंगे। कुछ जरूरी सुविधाओं के लिए सरकार की तरफ से आज रात तक 500 और हजार के नोट दिए जाने की छूट दी गई थी।

नोटबंदी के बाद बैंकों में अबतक जमा हुए 5.12 लाख करोड़ रुपये, 33,000 करोड़ के नोट बदले गए

नोटबंदी के बाद बैंकों में अबतक जमा हुए 5.12 लाख करोड़ रुपये, 33,000 करोड़ के नोट बदले गए

सरकार द्वारा 500 और 1000 का नोट बंद करने के फैसले के बाद से बैंकों को 18 नवंबर तक 5.44 लाख करोड़ रुपये के पुराने नोट बदले या जमा किए हैं। रिजर्व बैंक ने आज बयान में कहा कि 10 से 18 नवंबर के दौरान बैंकों के काउंटर या एटीएम के जरिये 1,03,316 करोड़ रुपये वितरित किए गये।

बैंकों से शादियों के लिये अगले सप्ताह से मिल सकती है नकद राशि

बैंकों से शादियों के लिये अगले सप्ताह से मिल सकती है नकद राशि

बैंकों से शादी-ब्याह के लिये ढाई लाख रुपये तक की नकदी निकासी अगले सप्ताह से शुरू हो सकती है। इस बारे में रिजर्व बैंक से संचालन संबंधी दिशानिर्देश प्राप्त होने के बाद अगले सप्ताह से अमल हो सकता है। हालांकि, केन्द्र सरकार ने इसी सप्ताह शादियों के लिये ढाई लाख रुपये देने के निर्देश जारी कर दिये थे।

बैंकों में पुराने 500 और 1000 के नोट बदलने पर लग सकती है रोक, केवल अकाउंट में जमा करा पायेंगे!

बैंकों में पुराने 500 और 1000 के नोट बदलने पर लग सकती है रोक, केवल अकाउंट में जमा करा पायेंगे!

सरकार नोटबंदी के बाद पुराने नोटों को बदलकर नये नोट लेने की सुविधा को धीरे धीरे बंद कर सकती है। ऐसे नोट रखने वालों से अपनी राशि सीधे बैंक खातों में जमा करवाने को कहा जा सकता है। सरकार फिलहाल ऐसा सोच रही है। सूत्रों ने कहा कि बाजार में नकदी उपलब्धता का इच्छित स्तर हासिल होने के मद्देनजर सरकार इस बारे में विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि नोट बदलने की सुविधा तो बाजार में नकदी उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए दी गई थी।

नोट बदलवाने को लेकर PM मोदी का बीजेपी सांसदों को निर्देश- बैंकों, एटीएम के बाहर खड़े लोगों की मदद करें

नोट बदलवाने को लेकर PM मोदी का बीजेपी सांसदों को निर्देश- बैंकों, एटीएम के बाहर खड़े लोगों की मदद करें

केंद्र सरकार की ओर से 500 और एक हजार रुपये के नोट का चलन बंद किए जाने के बाद बैंकों एवं एटीएम में कैश और नोट बदलवाने को लेकर लोगों को हो रही मुश्किलों के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बीजेपी सांसदों को निर्देश जारी किया है।

नोटबंदी: कैश को लेकर आज से नए नियम; बैंकों से केवल 2000 रुपये के नोट ही बदल सकेंगे, 2500 पेट्रोल पंपों पर कार्ड से पाएं नकदी

नोटबंदी: कैश को लेकर आज से नए नियम; बैंकों से केवल 2000 रुपये के नोट ही बदल सकेंगे, 2500 पेट्रोल पंपों पर कार्ड से पाएं नकदी

देशभर में नकदी की कमी से जूझ रहे लोगों के लिए कैश लेने के नए नियम शुक्रवार से लागू हो गए हैं। सरकार के नए आदेश के बाद बैंकों से नोट बदलवाने की सीमा 4500 से घटाकर 2000 रुपए कर दी गई है। यानी शुक्रवार से 2000 रुपये ही बैंकों से बदल सकेंगे।

बैंकों में नोट बदलने वालों को स्‍याही लगाने पर चुनाव आयोग ने जताया ऐतराज, वित्‍त मंत्रालय को लिखी चिट्ठी

बैंकों में नोट बदलने वालों को स्‍याही लगाने पर चुनाव आयोग ने जताया ऐतराज, वित्‍त मंत्रालय को लिखी चिट्ठी

बैंकों में पुराने नोट बदल रहे लोगों की उंगलियों पर अमिट स्याही के इस्‍तेमाल को लेकर अब पेंच फंस गया है। बैंकों में नोट बदलने पर स्‍याही लगाने पर चुनाव आयोग ने ऐतराज जताया है और इस संबंध में चुनाव आयोग ने वित्‍त मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है।