opinion

Opinion: विखंडित सोवियत संघ के पास कई सबक हैं आज के भारत के लिए

Opinion: विखंडित सोवियत संघ के पास कई सबक हैं आज के भारत के लिए

सोवियत गणराज्य जिस तरह से रूसी गणराज्य से ऐतिहासिक रूप से विलग थे, भारतीय राज्य भी भारतीय गणराज्य से उसी तरह विलग हैं. यहां सिर्फ इस बात को रेखांकित करने की कोशिश की जा रही है कि रूसी क्रांति के बाद जो सोवियत संघ था और आजादी के बाद जो भारत बना, उनकी समस्याओं का स्वरूप बहुत कुछ मिलता-जुलता है.

Sep 10, 2018, 12:53 PM IST
डियर जिंदगी: मन 'भारी' है...

डियर जिंदगी: मन 'भारी' है...

हमें हर दिन विचारों की स्‍कैनिंग के लिए एक पद्धति अपनानी चाहिए. दूसरे का विचार केवल विचार है! देखना होगा कि कहीं आप उसके किसी एजेंडे का हिस्‍सा तो बनने नहीं जा रहे.

Mar 22, 2018, 05:59 PM IST

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close