मुश्किलों के भंवर में फंसते धोनी

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में सुप्रीम कोर्ट की ओर से बने पैनल का फैसला आते ही क्रिकेट जगत ही नहीं, देश भर में सनसनी फैल गई। क्रिकेट फैंस की नजरें त्वरित समाचार माध्यमों न्यूज चैनलों, फेसबुक, ट्विटर और इंटरनेट के जरिये गुगल सर्च इंजन पर आ टिकीं। देश भर में जो जहां थे वहीं इस खबर को जानने के लिए उत्सुक होने लगे, आखिर क्या फैसला आया? मैंने भी टीवी ऑन किया। न्यूज चैनल के एंकर अपने ही अंदाज में कह रहे थे आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग पर बनाई गई कमेटी ने बड़ा फैसला सुनाया। उसके बाद मेरी नजरें टीवी पर ठहर गईं। मैं विस्तार से न्यूज सुनने लगा। न्यूज में बताया गया कि सुप्रीम कोर्ट के पैनल ने चेन्नई सुपरकिंग्स के मालिक गुरुनाथ मयप्पन को सट्टेबाजी में शामिल बताते हुए, उन पर आजीवन बैन लगाया है। वहीं राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा को भी इस मामले में दोषी बताते हुए उन पर भी आजीवन पाबंदी लगाई है। साथ ही एंकर ने बताया चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स टीम पर 2 साल का बैन लगाने की सिफारिश की गई है। टीम पर बैन की खबर सुनते ही मैं सोचने लगा अब धोनी का क्या होगा?

अजिंक्य रहाणे बन पाएंगे धोनी?

जिम्बाब्वे दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया है। इस बार टीम इंडिया की कमान दुनिया के सबसे सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी की जगह अजिंक्य रहाणे को सौंपी गई है। रहाणे पहली बार टीम इंडिया के कप्तान बने हैं। टीम इंडिया इस दौरे में तीन वनडे और दो टी20 मैच खेलेगी। बांग्लादेश के हाथों पहली बार वनडे सीरीज हारने के बाद धोनी की कप्तानी पर सवाल उठने लगे थे। हालांकि अधिकांश क्रिकेट विशेषज्ञों और पूर्व खिलाड़ियों धोनी समर्थन में उतर आए। लेकिन बीसीसीआई ने उन्हें आराम देकर जिम्बाब्वे दौरे के लिए रहाणे को चांस दिया। अब सवाल यह उठता है कि क्या रहाणे मैदान पर धोनी जैसी कप्तानी का मिसाल पेश कर पाएंगे?  

एक बार फिर विश्व विजेता बनेगी टीम इंडिया! एक बार फिर विश्व विजेता बनेगी टीम इंडिया!

क्रिकेट विश्व कप 2015 अब अंतिम चरण में पहुंच चुका है। क्रिकेट प्रेमियों की निगाहें अपने चहेते टीमों और खिलाड़ियों पर टिकी हैं। भारत जहां क्रिकेट खेल ही नहीं एक धर्म भी है, जो प्रत्येक भारतवासियों के नस-नस में बसता है। ऐसे में भारतीय क्रिकेट टीम के प्रदर्शन पर करोड़ों फैंस की नजरें जमी है। भारत सेमीफाइनल में पहुंच चुका है। जिसका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम से है और यह टूर्नामेंट उसी के घरेलू मैदान में खेला जा रहा है। एक सवाल बार-बार मन में आता है। क्या धोनी की अगुवाई वाली यह टीम एक बार फिर विश्व विजेता बन पाएगी, लेकिन धोनी एंड कंपनी पर सुबहा करना नाइंसाफी होगी क्यों इस टीम ने इस विश्व कप में जो किया वह आज तक नहीं हो पाया था। टीम इंडिया अभी तक लगातार सभी सातों मैच जीत चुकी है। इसे साफ पता चलता है कि टीम इंडिया बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फिल्डिंग में अन्य टीमों से बेहतर है।



लाइव स्कोर कार्ड