Jio ने अरबों के लोन के लिए इन बैंकों से किया करार, क्या है कंपनी की प्लानिंग

दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो ने 3,250 करोड़ रुपये के सावधिक समुराई ऋण जुटाने के लिए जापान के बैंकों के साथ करार किया है. समुराई ऋण ऐसे लोन को कहा जाता है जो जापानी बैंक कम ब्याज दर पर देते हैं.

Jio ने अरबों के लोन के लिए इन बैंकों से किया करार, क्या है कंपनी की प्लानिंग

नई दिल्ली : दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी रिलायंस जियो ने 3,250 करोड़ रुपये के सावधिक समुराई ऋण जुटाने के लिए जापान के बैंकों के साथ करार किया है. समुराई ऋण ऐसे लोन को कहा जाता है जो जापानी बैंक कम ब्याज दर पर देते हैं. कंपनी ने शुक्रवार को देर रात जारी बयान में कहा, ‘रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड ने करीब 53.5 अरब येन का सावधि ऋण जुटाने का करार किया है जो सात साल में परिपक्व होगा. इसके लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने गारंटी दी है और इसका इस्तेमाल रिलायंस जियो के पूंजीगत खर्चों की पूर्ति के लिए किया जाएगा.’

लोन की कुल राशि करीब 3,248 करोड़
60 पैसे प्रति येन की विनिमय दर पर लोन की कुल राशि करीब 3,248 करोड़ रुपये होगी. बयान में कहा गया, ‘यह किसी एशियाई कंपनी को दिया गया सबसे बड़ा समुराय ऋण है.’ कंपनी ने कहा है कि उसे यह रिण सुविधा मिजुहो बैंक लिमिटेड, एमयूएफजी बैंक लिमिटेड और सुमितोमो मित्सुई बैंकिंग कॉरपोरेशन की सिंगापुर शाखा से मिलेगी. इसके लिए ये बैंक जल्दी ही सामूहिक तालमेल बिठाएंगे.’

दो लाख करोड़ से ज्यादा का निवेश
कंपनी के निदेशक मंडल ने करीब 20 हजार करोड़ रुपये का ऋण जुटाने को पिछले ही महीने मंजूरी दी थी. कंपनी ने मोबाइल कारोबार में दो लाख करोड़ रुपये से अधिक निवेश किया है जिससे उसे 16.8 करोड़ उपभोक्ता मिले हैं. रिलायंस जियो इस समय 4G सेवाएं दे रही है. उसका कहना है कि वह भविष्य में अपने नेटवर्क को मोबाइल संचार की 5G और 6G प्रौद्योगिकी के लिए बहुत आसानी से उन्नत कर लेगी.

इससे पहले रिलायंस जियो के सिम कार्ड वाले लैपटॉप लॉन्च करने की खबरें मीडिया में चल रही हैं. हालांकि, जियो ने अभी तक इस खबर की पुष्टि नहीं की है. दरअसल, कंपनी अपना ऐवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) बढ़ाने की कोशिश कर रही है. उम्मीद है कि सिम कार्ड वाले लैपटॉप से जियो को अपना ARPU बढ़ाने में मदद मिलेगी. रिलायंस जियो ने पिछले साल ही अपना 4जी फीचर फोन लॉन्च किया था. जियो के लॉन्च से ही रिलायंस को तीसरी तिमाही में 500 करोड़ का मुनाफा हुआ था.

क्वालकॉम के साथ बनाएगी लैपटॉप
मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली जियो वाली अमेरिका की बड़ी चिप निर्माता कंपनी क्वालकॉम के साथ बातचीत कर रही है. ये लैपटॉप विंडोज 10 ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलेंगे और भारतीय बाजार के लिए इन्हें बिल्ट-इन सेल्युलर कनेक्शन के साथ लॉन्च किया जाएगा. क्वालकॉम पहले ही 4जी फीचर फोन के लिए जियो और रिलायंस रिटेल के साथ काम कर रही है.

सेल्युलर कनेक्टिविटी मिलेगी
क्वालकॉम टेक्नॉलजीज के प्रॉडक्ट मैनेजमेंट, सीनियर डायरेक्टर Miguel Nunes ने इकनॉमिक टाइम्स को बताया, 'हम जियो के साथ बातचीत कर रहे हैं. वो हमसे डिवाइस लेकर इसे डेटा और कॉन्टेंट के साथ जोड़ सकते हैं.' इसके अलावा, चिपनिर्माता Internet of Things (IoT) ब्रैंड स्मार्ट्रोन के साथ सेल्युलर कनेक्टिविटी वाले स्नैपड्रैगन 835 वाले लैपटॉप लाने पर भी बात कर रही है. स्मार्ट्रोन ने इस खबर की पुष्टि कर दी है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close