VIDEO : बर्फ की सफेद चादर से ढका केदारनाथ धाम, बर्फबारी से कश्‍मीर घाटी भी हुई और खूबसूरत

जम्‍मू-कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में शनिवार को हुई है बर्फबारी. 

VIDEO : बर्फ की सफेद चादर से ढका केदारनाथ धाम, बर्फबारी से कश्‍मीर घाटी भी हुई और खूबसूरत
शनिवार को केदार घाटी में हुई बर्फबारी. फोटो ANI

नई दिल्ली : नवंबर शुरू होते ही ठंड ने दस्‍तक दे दी है. इसी के साथ ही जम्‍मू और कश्‍मीर, उत्‍तराखंड और हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी भी शुरू हो गई है. शनिवार को उत्‍तराखंड स्थित चार धाम में से एक केदारनाथ मंदिर में भारी बर्फबारी हुई. बर्फबारी के कारण पूरी केदार घाटी सफेद चादर से ढक गई है.

 

इसके चलते केदारनाथ मंदिर में दर्शन को पहुंचने वाले भक्‍तों को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा. बताया जा रहा है कि केदारघाटी का मौसम शुक्रवार तक साफ था. केदारनाथ घाटी के अलावा उत्‍तराखंड में स्थित यमुनोत्री में भी बर्फबारी हुई है.


शनिवार को यमुनोत्री में भी बर्फबारी हुई. फोटो ANI 

वहीं शनिवार को जम्‍मू और कश्‍मीर में भी बर्फबारी हुई. जम्‍मू-कश्‍मीर के श्रीनगर में शनिवार सुबह हल्‍की बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश हुई. इससे यहां पहुंचने वाले सैलानी काफी खुश हो गए. हालांकि बर्फबारी के साथ ही यहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई है.

 

वहीं जम्मू एवं कश्मीर के ऊपरी इलाकों में भी शनिवार को ताजा बर्फबारी हुई, जबकि मैदानी इलाकों में भारी बारिश हुई. मौसम विभाग ने यह जानकारी दी. विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि पिछले 12 घंटों के दौरान जोजिला दर्रा, द्रास, कारगिल, सोनमर्ग, पहलगाम और गुलमर्ग में ताजा बर्फबारी हुई है. उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान घाटी और जम्मू संभाग के मैदानी इलाकों में बारिश जारी रही."

snowfall in jammu kashmir
पहलगाम में भी हुई बर्फबारी. फोटो ANI 

जम्‍मू और कश्‍मीर में मौसम में शनिवार से सुधार होने की उम्मीद है. गुलमर्ग और पहलगाम पहाड़ी स्टेशनों में पर्यटक बर्फबारी के चलते बेहद खुश थे. एक पर्यटक सुजीत कुमार ने कहा कि गुलमर्ग की मेरी यात्रा इससे बेहतर नहीं हो सकती थी. मैं बर्फबारी देखने आया था और यहां बर्फबारी हो रही है. ऊपरी इलाकों में बर्फबारी के चलते घाटी के मैदानी इलाकों में ठंडी हवाएं चल रही हैं और रात के तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close