बांग्लादेश ने तीन धर्मार्थ संस्थाओं को रोहिंग्याओं को दान देने से रोका

सत्तारूढ़ आवामी लीग के सांसद महजबीन खालिद ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय धर्मार्थ संस्थान मुस्लिम एड, इस्लामिक रिलीफ और बांग्लादेश स्थित अल्लामा फजलुल्लाह फाउंडेशन को कॉक्स बाजार जिले में रोहिंग्या शरणार्थी शिविर के लिए काली सूची में डाल दिया गया है. 

भाषा | Updated: Oct 12, 2017, 05:50 PM IST
बांग्लादेश ने तीन धर्मार्थ संस्थाओं को रोहिंग्याओं को दान देने से रोका
तीन संस्थाओं को कॉक्स बाजार जिले में रोहिंग्या शरणार्थी शिविर के लिए काली सूची में डाल दिया गया है. (file)

ढाका : बांग्लादेश ने तीन इस्लामिक धर्मार्थ संस्थाओं को रोहिंग्या शरणार्थियों के साथ काम करने पर रोक लगा दी है. सत्तारूढ़ आवामी लीग के सांसद महजबीन खालिद ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय धर्मार्थ संस्थान मुस्लिम एड, इस्लामिक रिलीफ और बांग्लादेश स्थित अल्लामा फजलुल्लाह फाउंडेशन को कॉक्स बाजार जिले में रोहिंग्या शरणार्थी शिविर के लिए काली सूची में डाल दिया गया है. 

यह भी पढ़ें : रोहिंग्या संकट पर यूरोपीय संघ म्यांमार के सैन्य प्रमुखों से संबंध खत्म करेगा

विदेश मामलों की स्थायी संसदीय समिति के सदस्य खालिद ने कहा कि इन संस्थाओं पर कोई विशिष्ट आरोप नहीं लगाए गए थे. उन्होंने बताया कि ऐसी चिंता व्यक्त की गई थी कि सीमावर्ती इलाकों के शिविरों में रहने वाले विस्थापित मुसलमानों को कट्टरपंथ की तरफ धकेला जा सकता है.