सूफी दरगाह पर हमले के बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने 100 आतंकियों को किया ढेर

सिंध के सहवान में लाल शहबाज कलंदर सूफी दरगाह पर आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर द्वारा खुद को उड़ा लेने से हुए विस्फोट के एक दिन बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की देशभर में की गई कार्रवाई में आज 24 से अधिक आतंकवादी मारे गए। इस आत्मघाती हमले में 76 लोगों की मौत हो गई थी। पैरामिलिट्री सिंध रेंजर्स ने आज बताया कि दक्षिणी प्रांत में रातभर चले उनके अभियानों में 18 आतंकवादी मारे मारे गए।

Updated: Feb 17, 2017, 11:26 PM IST
सूफी दरगाह पर हमले के बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने 100 आतंकियों को किया ढेर

इस्लामाबाद : पाकिस्तानी प्रांत सिंध के सहवान में लाल शाहबाज कलंदर सूफी दरगाह पर आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए विस्फोट के एक दिन बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की कार्रवाई में 100 से अधिक आतंकवादी मारे गए।

सेना की मीडिया इकाई आईएसपीआर ने कहा कि बीती रात से बड़ी संख्या में संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। बयान में यह नहीं स्पष्ट नहीं किया गया है कि आतंकवादी कहां मारे गए अथवा कहां से गिरफ्तार किए गए। उसने कहा कि विवरण साझा किया गया जाएगा। दरगाह पर हुए आत्मघाती हमले में 88 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 250 लोग घायल हो गए थे।

सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने लोगों को विश्वास दिलाया कि ‘दुश्मनी के एजेंडा को सफल नहीं होने दिया जाएगा चाहे इसके लिए कोई भी कीमत चुकानी पड़े।’ अधिकारियों ने बताया कि आगामी दिनों में कार्रवाई और तेज कर दी जाएगी क्योंकि सरकार ने आतंकवाद का सफाया करने का संकल्प लिया है।

पाकिस्तान में सप्ताहांत से हुए कम से कम आठ आतंकवादी हमलों के बाद संघीय एवं प्रांतीय सरकारों ने एक साथ कार्रवाई शुरू की है। प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अध्यक्षता वाली एक उच्च स्तरीय बैठक में इस सप्ताह इस बात पर सहमति जताई गई कि राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा करने वाले आतंकवादियों को ‘मिटा दिया’ जाना चाहिए।

अधिकारियों ने बताया कि दरगाह में हुए विस्फोट में घायल हुए कई लोगों की हालत नाजुक है और उन्हें कराची के अस्पताल में ले जाया जाएगा। सेना ने कहा कि सशस्त्र बल सभी आवश्यक संसाधनों की मदद से बचाव एवं राहत कार्य कर रहे हैं। पाकिस्तानी सेना एवं रेंजर्स ने इसमें मदद की। सिंध में शिया दरगाह पर हुए हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली है। दरगाह को सील कर दिया गया है। पुलिस ने प्रारंभिक सबूत एकत्र कर लिए हैं और सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली है।