17 साल पुराने हत्या के मामले में आरोपी दो भारतीयों को प्रत्यर्पित करेगा कनाडा

परिवार वाले एक गरीब रिक्शा चालक से युवती के शादी करने का विरोध कर रहे थे. 

भाषा | अंतिम अपडेट: Sep 9, 2017, 03:31 PM IST
17 साल पुराने हत्या के मामले में आरोपी दो भारतीयों को प्रत्यर्पित करेगा कनाडा
(प्रतीकात्मक फोटो)

मॉन्ट्रियल : कनाडा के सर्वोच्च न्यायालय ने कहा है कि झूठी शान की खातिर की गई हत्या के 17 साल पुराने एक मामले में कथित भूमिका को लेकर दो नागरिकों को भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है. जसविंदर कौर सिद्धू की हत्या के सिलसिले में सुरजीत सिंह बदेशा (72) और मलकीत कौर सिद्धू (67) वांछित हैं. हत्या के समय जसविंदर 25 साल की थी.

दोनों संदिग्ध भारतीय मूल के कनाडाई नागिरक हैं और पुरूष और महिला क्रमश: पीड़िता के मामा और मां हैं. जसविंदर कौर सिद्धू का शव जून 2000 में भारत के पंजाब राज्य में मिला था और उसका गला कटा हुआ था.

भारतीय अभियोजकों का कहना है कि उसकी मां और मामा ने झूठी शान की खातिर योजनाबद्ध तरीके से पीड़िता की हत्या करवा दी थी . वे एक गरीब रिक्शा चालक से युवती के शादी करने का विरोध कर रहे थे. युवती ने अपनी शादी को एक साल तक गोपनीय रखा था. अपने परिवार को अपनी शादी के बारे में बताने के बाद पीड़िता अपने पति मिठू सिद्धू के पास कनाडा से भारत आ गयी.

दंपत्ति पर जून 2000 में पंजाब के संगरूर के निकट एक गांव में हमला किया गया. उसके पति की बुरी तरह पिटाई की गयी जबकि सिद्धू को अगवा कर लिया गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गयी.