विलुप्त होने की कगार पर पहुंचे रैट कंगारू, 30 साल में घटी इतनी आबादी

ऑस्ट्रेलिया में प्रजाति संरक्षण के लिए डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के वरिष्ठ प्रबंधक टिम क्रोनिन ने कहा, ‘‘जलवायु परिवर्तन के कारण हमें पता है कि जल्द ही जंगलों में बड़े पैमाने पर आग लग सकती है.’’ 

विलुप्त होने की कगार पर पहुंचे रैट कंगारू, 30 साल में घटी इतनी आबादी
फाइल फोटो

सिडनी : ऑस्ट्रेलिया में कुकुरमुत्ता खाने वाले रैट कंगारूओं की संख्या में काफी कमी आई है और अगर इस प्रजाति को तुरंत नहीं बचाया गया तो यह विलुप्त हो सकती है. बुधवार को जारी एक रिपोर्ट में यह चेतावनी दी गई.

वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड ने कहा कि उत्तरी क्वीन्सलैंड राज्य के शुष्क तटीय ऊष्णकटिबंध में रैट कंगारू की केवल दो आबादियां बची हुई हैं. इनकी संख्या करीब 2500 है जो 30 वर्ष पहले की आबादी से 70 फीसदी कम है. खरगोश के आकार के रैट कंगारूओं को जंगली बिल्लियों, जमीन का सफाया किए जाने और जंगलों में आग लगने से खतरा उत्पन्न हो गया है. क्वीन्सलैंड में जलवायु परिवर्तन के कारण अक्सर ऐसी घटनाएं देखने को मिलती हैं.

ऑस्ट्रेलिया में प्रजाति संरक्षण के लिए डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के वरिष्ठ प्रबंधक टिम क्रोनिन ने कहा, ‘‘जलवायु परिवर्तन के कारण हमें पता है कि जल्द ही जंगलों में बड़े पैमाने पर आग लग सकती है.’’ 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close