अगर उत्तर कोरिया ने अमेरिका के खिलाफ कार्रवाई की तो किम जोंग को पछताना पड़ेगा: ट्रंप

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने टि्वटर पर अपने 3 करोड़ 55 लाख फॉलोवर्स से कहा कि अगर उत्तर कोरिया ‘‘मूर्खतापूर्ण’’ कार्रवाई करता है तो परमाणु संपन्न देश के खिलाफ सैन्य विकल्प तैयार हैं.

अंतिम अपडेट: रविवार अगस्त 13, 2017 - 12:43 AM IST
अगर उत्तर कोरिया ने अमेरिका के खिलाफ कार्रवाई की तो किम जोंग को पछताना पड़ेगा: ट्रंप
डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के खिलाफ अपने रुख को सही ठहराया. (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उन्होंने गुआम या अमेरिका के किसी अन्य क्षेत्र के खिलाफ कोई प्रतिकूल कार्रवाई की उन्हें ‘‘सच में पछताना’’ पड़ेगा. ट्रंप ने न्यू जर्सी के बेडमिंस्टर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगर वह (किम जोंग-उन) खुल्लमखुल्ला धमकी देते हैं जैसा कि वह और उनका परिवार कई वर्षों से दे रहा है या वह गुआम या अमेरिकी क्षेत्र या अमेरिका के किसी सहयोगी के क्षेत्र के संबंध में कुछ करते हैं तो उन्हें सच में इस पर पछताना होगा और उन्हें जल्द ही पछताना होगा.’’ ट्रंप बेडमिंस्टर में अपने घर में गर्मियों की छुट्टियां बिता रहे हैं.

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ने टि्वटर पर अपने 3 करोड़ 55 लाख फॉलोवर्स से कहा कि अगर उत्तर कोरिया ‘‘मूर्खतापूर्ण’’ कार्रवाई करता है तो परमाणु संपन्न देश के खिलाफ सैन्य विकल्प तैयार हैं. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, ‘‘अगर उत्तर कोरिया मूर्खतापूर्ण तरीके से पेश आता है तो सैन्य हल पूरी तरह से तैयार हैं. उम्मीद करता हूं कि (उत्तर कोरियाई नेता) किम जोंग उन दूसरा रास्ता ढूंढ लेंगे.’’ ट्रंप ने उत्तर कोरिया के खिलाफ अपने रुख को सही ठहराया और दावा किया कि अमेरिकी लोग उनकी टिप्पणियों से खुश हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे आलोचक ऐसा कह रहे हैं क्योंकि यह मैं हूं. अगर कोई और ऐसे ही शब्द बोलता जो मैंने बोले तो वे कहते कि यह अच्छा बयान है, क्या शानदार बयान है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं आपको बता दूं, इस देश में करोड़ों लोग हैं जो मेरे बयानों से खुश हैं क्योंकि वे कहते हैं कि आखिरकार हमारे पास ऐसा राष्ट्रपति है जो हमारे देश, हमारे दोस्तों और हमारे सहयोगियों के लिए खड़ा रहता है. यह व्यक्ति जो भी कर रहा है उससे पीछे नहीं हटेगा. मेरा विश्वास कीजिए.’’

गुआम में सैन्य समाधानों पर अपने ट्वीट के बारे में ट्रंप ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह बहुत स्पष्ट है. हम उस पर बहुत सावधानीपूर्वक विचार कर रहे हैं और मुझे उम्मीद है कि वे जो मैंने कहा उसकी गंभीरता को समझने की कोशिश करेंगे और मैंने वही कहा जो मैं मानता हूं.’’ उन्होंने कहा कि वह उत्तर कोरिया के साथ पिछले रास्ते से चर्चा करने के बारे में बात नहीं करना चाहते जैसा कि कुछ मीडिया रिपोर्टों में कहा जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘‘हम पिछले रास्ते से चर्चा करने के बारे में बात नहीं करता चाहते. हम एक ऐसे देश के बारे में बात करना चाहते हैं जो कई वर्षों, असल में दशकों से दुर्व्यवहार कर रहा है और वे इस मुद्दे पर बात नहीं करना चाहते और मेरे पास इसके अलावा कोई विकल्प नहीं है और मैं इस पर बात कर रहा हूं.’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘हम या तो जल्द ही बहुत, बहुत सफल होंगे या हम जल्द ही अलग तरीके से बहुत, बहुत सफल होने जा रहे हैं.’’