इमरान सरकार का नवाज शरीफ-मरियम पर नरम रुख, पैरोल तीन दिन बढ़ाई

Zee News Desk Wed, 12 Sep 2018-3:49 pm,

नवाज की बीमार पत्नी कुलसुम का मंगलवार को लंदन के एक अस्पताल में निधन हो जाने के बाद तीनों को पैरोल पर आदियाला जेल से रिहा कर दिया गया था.

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान के पंजाब प्रांत की सरकार ने बुधवार को पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद कैप्‍टन (रिटायर्ड) मोहम्‍मद सफदर की पैरोल अवधि तीन दिन बढ़ाने का निर्णय लिया. नवाज की बीमार पत्नी कुलसुम का मंगलवार को लंदन के एक अस्पताल में निधन हो जाने के बाद तीनों को पैरोल पर आदियाला जेल से रिहा कर दिया गया था. उन्‍हें कुलसुम के अंतिम संस्‍कार में शामिल होने के लिए पहले 12 घंटे की पैरोल दी गई थी.


हम कानून का पालन कर रहे हैं-  उसमान बजदर
जियो न्यूज से बात करते हुए पंजाब प्रांत के मुख्‍यमंत्री उसमान बजदर ने कहा, नवाज, मरियत और सफदर की पैरोल अवधि तीन दिन के लिए बढ़ाई जा रही है. उन्‍होंने आगे कहा कि "हम तीनों को पैरोल पर रिहा करने को लेकर कानून का पालन कर रहे हैं." इसके अलावा, पंजाब के मुख्यमंत्री ने इस बात से इनकार कर दिया कि नवाज के जटी उमरा स्थित निवास को उप-जेल घोषित कर दिया गया है. 


कुलसुम शरीफ का पार्थिव शरीर लेने के लिए शहबाज लंदन रवाना
उधर, पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी एवं अपनी भाभी कुलसुम नवाज का पार्थिव शरीर लेने के लिए बुधवार को लंदन रवाना हो गए. कुलसुम का कैंसर से लंबी बीमारी के बाद मंगलवार रात निधन हो गया था. शहबाज यहां अल्लामा इकबाल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से लंदन के लिए रवाना हुए.


ये भी पढ़ें- VIDEO: जब पत्नी से विदा लेते वक्त नवाज शरीफ ने कहा, 'आंखें खोलो, कुलसुम'


जनाजे की नमाज गुरुवार दोपहर रीजेंट पार्क ईदगाह में अदा की जाएगी
जियो न्यूज की रिपोर्ट, के अनुसार बेगम कुलसुम के जनाजे की नमाज गुरुवार दोपहर रीजेंट पार्क ईदगाह में अदा की जाएगी. वहीं, कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद कुलसुम के शव को स्वदेश रवाना किया जाएगा. शरीफ परिवार ने कहा है कि उनको शुक्रवार को जाती उमरा में दफन किया जाएगा.


ये भी पढ़ें- इमरान सरकार का बड़ा फैसला, शरीफ, मरियम पाकिस्तान के बाहर नहीं जा सकेंगे


मंगलवार रात कैंसर से जंग हार गईं थीं कुलसुम
कुलसुम (68) मंगलवार रात कैंसर से जंग हार गईं. पिछले वर्ष उन्हें गले का कैंसर होने का पता चला था, जिससे बाद लंदन में उनकी कई बार सर्जरी की गई और कीमोथेरेपी दी गई. जून में हृदयघात होने के बाद से वह वेंटिलेटर पर थीं.


मैं बेहद दुखी हूं’’- मरियम
पाकिस्तान के रावलपिंडी स्थित अडियाला जेल में बंद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मोहम्मद सफदर को कुलसुम के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए 12 घंटे का पैरोल मिलने के बाद तीनों बुधवार तड़के लाहौर पहुंचे थे. नवाज, मरियम और कैप्टन (सेवानिवृत्त) मोहम्मद सफदर फिलहाल अपने जाती उमरा निवास में हैं जहां वह अपने परिजन तथा पार्टी नेताओं से मुलाकात कर रहे हैं. मां की मौत से गमजदा मरियम ने मंगलवार रात को कहा कि उन्हें इस बात का बेहद अफसोस है कि वह अपनी मां के अंतिम वक्त में उनके पास नहीं थीं. मरियम ने जियो न्यूज से कहा, ‘‘मां के निधन के बारे में जानने के बाद आज बेहद मुश्किल दिन है. यह बेहद कष्टदायी है कि मैं अपनी मां के पास नहीं थी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं बेहद दुखी हूं.’’

Outbrain

ZEENEWS TRENDING STORIES

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by Tapping this link