close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोवा विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस के खाते में पणजी विधानसभा सीट, अन्य तीन BJP को

पणजी विधानसभा सीट पर उपचुनाव इस सीट से विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के चलते कराना जरूरी हो गया था.

गोवा विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस के खाते में पणजी विधानसभा सीट, अन्य तीन BJP को

पणजी: भाजपा के पास पिछले 25 सालों से रही पणजी विधानसभा सीट पर गुरुवार को कांग्रेस ने जीत दर्ज की. मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद खाली हुई इस सीट पर उपचुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी अतनासिओ मोनसेरात ने जीत दर्ज की है. हालांकि तीन अन्य विधानसभा सीटों शिरोडा, मापुसा और मांद्रेम पर उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की.

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि पणजी में मोनसेरात को 8,748 वोट मिले जबकि भाजपा के सिद्धार्थ कुंकोलियंकर को 6,990 वोट मिले.

गोवा आरएसएस के पूर्व प्रमुख और गोवा सुरक्षा मंच के प्रत्याशी सुभाष वेलिंगकर 560 वोटों के साथ तीसरे नंबर पर रहे जबकि 436 वोटों के साथ आप के वाल्मीकि नाईक चौथे नंबर पर रहे.

पणजी विधानसभा सीट पर उपचुनाव इस सीट से विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के गत मार्च में निधन के चलते कराना जरूरी हो गया था. वहीं भाजपा विधायक फ्रांसिस डिसूजा के निधन के कारण मापूसा में उपचुनाव कराया गया.

शिरोडा और मांद्रेम सीट कांग्रेस के वर्तमान विधायकों के इस्तीफे के कारण खाली हुई थी, जिससे यहां उपचुनाव कराया गया. 2017 विधानसभा चुनाव में कुंकोलियंकर ने मोनसेरात को करीब 1600 वोट से हराया था.

परिणाम आने के बाद कुंकोलियंकर ने कहा कि उन्होंने जनता का फैसला स्वीकार कर लिया है और सीट बरकरार नहीं रख पाने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं से खेद जताया है. यद्यपि मोनसेरात ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि पर्रिकर के नहीं रहने से भाजपा ‘‘असहाय’’ हो गई है.

मापुसा में दिवंगत फ्रांसिस डिसूजा के पुत्र एवं भाजपा उम्मीदवार जोशुआ डिसूजा ने कांग्रेस उम्मीदवार सुधीर कंदोलकर को 1151 वोटों से हराया.

एक निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि शिरोडा में भाजपा उम्मीदवार सुभाष शिरोडकर ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के दीपक धावलिकर को मात्र 66 वोट से हराया.

शिरोडकर 2017 विधानसभा चुनाव में इस सीट से कांग्रेस के टिकट पर जीते थे. उन्होंने गत वर्ष अक्तूबर में इस्तीफा दे दिया था .

अधिकारी ने कहा कि जीत का अंतर कम रहने के बावजूद धावलिकर ने पुनर्मतगणना की मांग से इनकार कर दिया. कांग्रेस उम्मीदवार महादेव नाइक तीसरे नम्बर पर रहे और उन्हें 2402 वोट मिले.

मांद्रेम में भाजपा उम्मीदवार दयानंद सोप्ते इस सीट पर 3943 वोट से जीते. वह कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हुए थे. सोप्ते को 13,168 वोट मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी एवं निर्दलीय उम्मीदवार जीत अरोलकर को 9,225 वोट मिले. कांग्रेस उम्मीदवार बाबी बाघकर को 4,221 वोट मिले.

(इनपुट-भाषा)