close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोहन भागवत से मिलेंगे नितिन गडकरी, संजय राउत ने कहा- CM शिवसेना का ही होगा

इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि बीजेपी गवर्नर से मिलने जा रही है तो ये अच्छी बात है. अगर वे बहुमत साबित कर पाएं तो हमारी शुभकामनाएं हैं.

मोहन भागवत से मिलेंगे नितिन गडकरी, संजय राउत ने कहा- CM शिवसेना का ही होगा

मुंबई: महाराष्‍ट्र (Maharashtra Assembly Elections 2019) में जारी सियासी गतिरोध के बीच सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आज आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत से मुलाकात करेंगे. नितिन गडकरी और मोहन भागवत नागपुर में आज एक पुस्‍तक विमोचन कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. सूत्रों का कहना है कि इससे पहले आरएसएस नेता भैय्याजी जोशी ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से बात की है. इस बीच महाराष्‍ट्र बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्‍व में पार्टी के वरिष्‍ठ नेता राज्‍यपाल से आज दोपहर दो बजे मुलाकात करेंगे. वैसे पहले ये मुलाकात सुबह 11:30 बजे होनी थी लेकिन बाद में अचानक समय में परिवर्तन किया गया. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी राज्‍यपाल से मुलाकात जरूर करेगी लेकिन सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करेगी. 

इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि बीजेपी गवर्नर से मिलने जा रही है तो ये अच्छी बात है. अगर वे बहुमत साबित कर पाएं तो हमारी शुभकामनाएं हैं. वैसे महाराष्‍ट्र में अगला मुख्‍यमंत्री शिवसेना का होगा. शिवसेना का अगला कदम क्‍या होगा वह आज उद्धव ठाकरे अपने विधायकों को बताएंगे. इसके साथ ही संजय राउत ने आरएसएस की मध्‍यस्‍थता संबंधी खबरों को खारिज करते हुए कहा कि संघ से इस मुद्दे पर कोई बात नहीं हुई है.

ऐसी भी खबरें आ रही थीं कि शिवसेना को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है. इसलिए शिवसेना सूत्रों के हवाले से खबर आई थी कि आज मातोश्री पर विधायक दल की मीटिंग के बाद शिवसेना के सभी विधायकों को किसी खास जगह शिफ्ट किया जाएगा. इन खबरों को खारिज करते हुए संजय राउत ने परोक्ष रूप से बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि यदि किसी में हिम्‍मत हो तो वह हमारे विधायकों को तोड़ कर दिखाए. हम अपने विधायकों को किसी अन्‍य जगह शिफ्ट नहीं करेंगे. मैं उनको ऐसा करने की चुनौती देता हूं. उनको इसके नतीजे भुगतने होंगे. हालांकि इसके साथ ही जोड़ा कि कुछ अन्‍य दलों के नेताओं ने अपनी पार्टी के विधायकों के संबंध में इस तरह की आशंका जाहिर की है. ऐसे मामलों में देखा गया है कि सत्‍ताधारी दल हॉर्स ट्रेडिंग और दबाव की रणनीति का इस्‍तेमाल करता है. लेकिन जैसा कर्नाटक और गोवा में देखने को मिला वैसा यहां कुछ भी घटित नहीं होने दिया जाएगा.

इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि संजय राउत बयानबाज़ी नहीं करते. पार्टी की भूमिका लेकर सामने आते हैं. मैं पार्टी के लिए काम करता हूं. महाराष्‍ट्र के लिए काम करता हूं. महाराष्‍ट्र में डेंगू मच्छर घुसे हैं. हम राज्य को स्वस्थ रखना चाहते हैं. किसी को होटल ले जाने की जरूरत नहीं है. हमारे विधायक पक्के निष्ठावान हैं जो अफवाहें फैला रहा है वह अपने विधायक बचाए.

राज्‍य के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बारे में संजय राउत ने कहा कि उनसे अच्छे संबंध हैं. बीजेपी विधायक दल के नेता फडणवीस हैं, उनसे कोई व्यक्तिगत झगड़ा नहीं है उनसे धर्म-अधर्म की लड़ाई है.

(इनपुट: नित्‍यानंद शर्मा के साथ)

ये भी देखें...