प्रवीण कुमार

बीते दो दशक से पहले प्रिंट और वर्तमान में ऑनलाइन पत्रकारिता में सक्रिय. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय राजनीति व समसामयिक विषयों में गहरी रूचि. गंभीर विषयों पर लेखन कार्य.

आजाद भारत में गुलामी की जकड़न

आजादी! जी हां, एक ऐसा शब्द जो जीवन के हर पल को बेहतर बनाने की ताकत देता है इस उम्मीद के साथ कि हमारा जीवन बेहतर और ताकतवर होगा तो ही हम अपने परि

हंगामे पर संसद मौन क्यों?

मानसून सत्र 2015 के पहले हफ्ते में संसद के दोनों सदन लोकसभा और राज्यसभा में कोई कामकाज इसलिए नहीं हो सका। वजह यह बताई जा रही कि विपक्षी दल ललित गेट मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, राजस्थान की

व्यापमं घोटाला : सब-कुछ लुटा के होश में आए...

मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार के नाक तले व्यापमं घोटाला के व्यापक घटनाक्रम को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि 'सब कुछ लुटा के होश में आए तो क्या किया? दिन में अगर चिराग जलाए तो क्या किया?

वैश्विक महामंदी की आहट

साल 2008 की वैश्विक मंदी की सटीक भविष्‍यवाणी करने वाले अर्थशास्‍त्री और भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने दुनिया को चेतावनी दी है कि वैश्‍विक अर्थव्‍यवस्‍था के सामने 1930 जैसी महामंदी का

महंगाई की एक और नई किस्त

केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा आम बजट 2015-16 में प्रस्तावित सेवा कर में वृद्धि कल यानी एक जून 2015 से लागू हो रही है। इसके साथ ही वर्तमान में 12.36 फीसदी सेवा कर की दर बढ़कर 14 फीसदी हो जाएगी। महंगाई

राष्ट्रकवि दिनकर के बहाने सियासत

भगवान बुद्ध की धरती बिहार को लेकर एक बार फिर से सियासत गरमाने लगी है। सभी सियासी दल अपने-अपने तरीके से मौके और अवसर ढूंढने लगे हैं अपनी-अपनी राजनीति चमकाने के लिए। जी हां!

दरबार मूव : परंपरा की आड़ में बेड़ा गर्क

करीब डेढ़ सौ साल पुरानी डोगरा परंपरा (दरबार मूव) को बरकरार रखते हए जम्मू एवं कश्मीर सरकार एक बार फिर जम्मू में अपना कामकाज बंद कर अगले छह महीने के लिए श्रीनगर शिफ्ट हो गई है। राज्यपाल, मुख्यमंत्री,

'आप' का यह कैसा नेता-तंत्र?

बेहद अफसोस के साथ यह कहना पड़ रहा है कि आम आदमी पार्टी भी अब यह नहीं कह सकती कि वह अन्य सियासी दलों से अलग है। 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी की करारी हार के बाद बीते 10 महीनों में पार्टी की अंतरक

सूर्य नमस्कार पर ऐतराज क्यों?

मुसलमानों की सर्वोच्च संस्था ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना राबे हसनी नदवी का मानना है कि हिन्दुस्तान में मुस्लिम समुदाय को अब मजहबी आजादी की हिफाजत की जरूरत महसूस हो

बजट सत्र और सरकार की चुनौतियां

मोदी सरकार के आज से शुरू होने वाले पहले संपूर्ण बजट पर देश ही नहीं, दुनिया की भी नजर है। सोमवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित कर बजट सत्र का शुभारंभ करेंगे। देश में कर