close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

निजी कार मालिक भी अब कर सकेंगे कार पूलिंग, सरकार ने तय की गाइडलाइन्स

अगर आप भी ऑफिस कार से अकेले जाते हैं और कार पूलिंग के बारे में सोचते हैं तो यह खबर आपके लिए है. सरकार ने कार पूलिंग के लिए गाइडलाइन्स तय कर दी हैं.

निजी कार मालिक भी अब कर सकेंगे कार पूलिंग, सरकार ने तय की गाइडलाइन्स

नई दिल्ली : अगर आप भी ऑफिस कार से अकेले जाते हैं और कार पूलिंग (Car Pooling) के बारे में सोचते हैं तो यह खबर आपके लिए है. सरकार ने कार पूलिंग के लिए गाइडलाइन्स तय कर दी हैं. इसके बाद अब निजी कार मालिक भी कार पूलिंग कर सकते हैं. शेयर्ड मोबिलिटी को बढ़ावा देकर सरकार का मकसद सड़कों पर बेतहाशा गाड़ियों की संख्या को कम करना है.

नो प्रॉफिट- नो लॉस पर लागू होगा नियम
कार पूलिंग को लेकर सड़क परिवहन मंत्रालय ने जरूरी दिशा-निर्देश (गाइडलाइंस) जारी कर दिए हैं. ड्रॉफ्ट में दी गई गाइडलाइंस के अनुसार कार पूलिंग नो प्रॉफिट- नो लॉस (कोई मुनाफा नहीं, कोई घाटा) नहीं के सिद्धांत पर होगा. यानी सिर्फ लागत का खर्च ही अन्य यात्री से वसूला जाएगा. निजी कार मालिक एक दिन में चार बार ही कार पूलिंग सेवा कर सकते हैं. जो निजी कार मालिक शेयर्ड कार पूलिंग सेवा देना चाहते हैं उन्हें know your कस्टमर्स (यात्री के बारे में जाने) का जरूरी नियम का पालन करना होगा.

KYC नॉर्म को भी पूरा करना होगा
एक मोबाइल एप के जरिये कार पूलिंग सेवा दी जाएगी. कार पूलिंग के लिए निजी कार मालिक को किसी भी राइड की पूरी जानकारी एप पर देनी होगी और साथ कि KYC नॉर्म को भी पूरा करना होगा. हालांकि क्विक राइड जैसे कार पूलिंग एप पहले से मौजूद है लेकिन कार पूलिंग को लेकर सही दिशा-निर्देश नहीं हैं. सरकार ने ड्रॉफ्ट गाइडलाइंस तैयार कर लिया है जिसे जल्द ही वेबसाइट पर लोगों के सुझाव या फीडबैक के लिए अपलोड किया जाएगा.

शेयर्ड मोबिलिटी के जरिये सरकार एक तीर से कई निशाने साधना चाह रही है. इससे सड़क पर गाड़ियों की भीड़ कम होने के साथ ही ट्रैफिक जाम की स्थिति से भी छुटकारा मिलेगा. साथ ही प्रदूषण के स्तर में भी कमी आएगी. सरकार शेयर्ड मोबिलिटी को सफल बनाने के लिए राज्यों की आमदनी भी इसके जरिये हो, इसका ध्यान रख रही है.

क्या है कार पूलिंग
दरअसल कार पूलिंग एक ऐसी व्‍यवस्‍था है जिसके माध्‍यम से लोग अपनी यात्रा के रास्ते में कुछ और लोगों को भी शामिल कर सकतें है और यात्रा के दौरान पेट्रोल आदि पर आने वाले खर्च को आपस में शेयर करके अपनी यात्रा को बेहतर और किफायती बना सकतें हैं. इसके तहत ओला- उबर की ही तरह अब निजी कार मालिक भी कार पूलिंग कर अन्य यात्रियों को अपने साथ ले जा सकते हैं.