close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Electric वाहनों के विस्तार पर TATA की नजर, निजी उपयोग को मिलेगा बढ़ावा

टाटा मोटर्स की सरकारी और टैक्सी कंपनियों के अलावा निजी उपयोग करने वालों के लिए भी ई-वाहन लाने की योजना है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने 89वें जिनेवा अंतरराष्ट्रीय मोटर शो में अलग से बातचीत में यह जानकारी दी. टाटा मोटर्स अभी घरेलू बाजार में ‘टिगॉर’ का ई-वाहन विकल्प बेचती है. इसमें अधिकतर की आपूर्ति सरकारी कंपनी ‘एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेस लिमिटेड’ का ऑर्डर पूरा करने के लिए होती है. कंपनी के इलेक्ट्रिक परिवहन कारोबार और कॉरपोरेट रणनीति के अध्यक्ष शैलेष चंद्र ने कहा कि कंपनी ने अपने ई-वाहनों की बिक्री के लिए बाजार पर ध्यान देने की रणनीति अपनायी है. कंपनी ने देशभर में 20-25 स्थानों पर इसकी बिक्री करने का तय किया है.

Electric वाहनों के विस्तार पर TATA की नजर, निजी उपयोग को मिलेगा बढ़ावा
देश में 20-25 जगहों पर टाटा इलेक्ट्रिक कार बेचेगी. (फाइल)

जिनेवा: टाटा मोटर्स की सरकारी और टैक्सी कंपनियों के अलावा निजी उपयोग करने वालों के लिए भी ई-वाहन लाने की योजना है. कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने 89वें जिनेवा अंतरराष्ट्रीय मोटर शो में अलग से बातचीत में यह जानकारी दी. टाटा मोटर्स अभी घरेलू बाजार में ‘टिगॉर’ का ई-वाहन विकल्प बेचती है. इसमें अधिकतर की आपूर्ति सरकारी कंपनी ‘एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेस लिमिटेड’ का ऑर्डर पूरा करने के लिए होती है. कंपनी के इलेक्ट्रिक परिवहन कारोबार और कॉरपोरेट रणनीति के अध्यक्ष शैलेष चंद्र ने कहा कि कंपनी ने अपने ई-वाहनों की बिक्री के लिए बाजार पर ध्यान देने की रणनीति अपनायी है. कंपनी ने देशभर में 20-25 स्थानों पर इसकी बिक्री करने का तय किया है.

उन्होंने कहा कि कम से कम अगले पांच सालों में ई वाहनों के लिए हम कोई अलग प्लेटफॉर्म विकसित करने पर विचार नहीं कर रहे हैं. आने वाले सालों में हम ऐसी कारें (ई-वाहन) लाएंगे जो टैक्सी बेड़ों, सरकारी अधिकारियों के लिए तो मुफीद होंगी. इसके बाद हम निजी उपयोग वाली ई-कारों पर ध्यान देंगे.

जल्द ही सड़कों पर दौड़ेगी इलेक्ट्रिक वैगन आर, Maruti ने शुरू की फिल्ड टेस्टिंग

पिछले दिनों एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि बैटरी से चलने वाले रिक्शा देश में इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने के काम में तेजी ला सकता है. ई-रिक्शा आसानी से हासिल होने वाली उपलब्धि है जिसके सहारा इलेक्ट्रिक वाहनों के चलन में तेजी लाई जा सकती है. कुछ शहरी इलाकों में शुरुआती और अंतिम छोर तक की परिवहन सेवा के रूप में ई-रिक्शा की "प्रासंगिकता" बेजोड़ है. डेलॉयट ने अपनी एक रिपोर्ट में यह बात कही है. 

(इनपुट-भाषा)