Suvigya Jain

मज़दूर दिवस पर विशेष: बेरोज़गारी बनाम श्रम के घंटे

मज़दूर दिवस पर विशेष: बेरोज़गारी बनाम श्रम के घंटे

अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर मज़दूरों की बातें की जाती हैं. कुछ साल से आज के दिन को मनाने के लिए एक विषय भी घोषित किया जाने लगा था. लेकिन हर साल यह विषय घोषित हो नहीं पाता.

पृथ्वी दिवस : कई मोर्चों पर जूझ रही है पृथ्वी

पृथ्वी दिवस : कई मोर्चों पर जूझ रही है पृथ्वी

पृथ्वी की रचना और इसका रचानाकाल आज भी कुतूहल का विषय है. कोई 500 वर्ष पहले ही हम वैज्ञानिक ढंग से पर्यवेक्षण करने लायक हो पाए. हालांकि पृथ्वी की उम्र के अनुमान पहले भी लगाए गए.

बात उठी एक आदिवासी गांव के संपूर्ण अध्ययन की

बात उठी एक आदिवासी गांव के संपूर्ण अध्ययन की

प्रबंधन प्रौद्योगिकी की विशेषज्ञ होने के नाते एक बहुत ही सनसनीखेज काम का प्रस्ताव मेरे सामने आया.

Opinion : नकदी की समस्या को 'अचानक' कहना कितना सही?

Opinion : नकदी की समस्या को 'अचानक' कहना कितना सही?

एटीएम में नकदी की कमी की खबरें सनसनीखेज हैं. मीडिया में जितनी खबरें हैं उन्हें देखकर तो नहीं लगता कि अफरातफरी जैसा माहौल है, लेकिन समस्या तो गंभीर है ही.

Zee Analysis: सौ बात की एक बात, स्वास्थ्य पर खर्च कितना?

Zee Analysis: सौ बात की एक बात, स्वास्थ्य पर खर्च कितना?

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर हर देश अपने स्वास्थ्य की समीक्षा करता है. विश्व समुदाय के सदस्य होने के नाते हमें भी करना चाहिए. वैसे ये काम छोटा-मोटा काम नहीं है.

बॉल टेंपरिंग : क्या माफी का ऐसा दुर्लभ रूप देखा है?

बॉल टेंपरिंग : क्या माफी का ऐसा दुर्लभ रूप देखा है?

क्रिकेटर स्टीव स्मिथ ने शुक्रवार को सिसकते हुए माफी मांगी. करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों के लिए यह करुण दृश्य था. स्मिथ को फूटफूट कर रोते देख उनके प्रशंसक भी रोते दिखे. घटना ही वैसी थी.

जैन परंपरा में सम्‍यक ज्ञान का आशय

जैन परंपरा में सम्‍यक ज्ञान का आशय

लगभग हर धर्म में भक्ति और पूजा पाठ की प्रवृत्ति बढ़ रही है. जबकि हर धर्म के पास अपना अपना एक नैतिक पाठ भी होता है. इसी नैतिक पाठ में ज्ञान होता है.

विश्व खुशहाली दिवस पर क्या बात करें?

विश्व खुशहाली दिवस पर क्या बात करें?

आज विश्व खुशहाली दिवस है. संयुक्त राष्ट्र्र के सदस्य देश होने के नाते हमें भी इस दिवस पर खुशहाली की चर्चा करनी चाहिए. हालांकि मुख्यधारा के मीडिया में होती दिख नहीं रही है.

एक नज़र महिला दिवस के इतिहास पर

एक नज़र महिला दिवस के इतिहास पर

महिलाओं के पास भी अपना एक दिवस है. हर साल आठ मार्च को आजकल अंतरराष्ट्रीय दिवस मनाया जाता है. हम भी अपने देश में जहां-तहां आज के दिन समारोह आयोजित करते हैं.

चुनावी मुद्दों की शर्तें : क्या 2019 का मुख्य मुद्दा किसान होगा?

चुनावी मुद्दों की शर्तें : क्या 2019 का मुख्य मुद्दा किसान होगा?

सबसे रोमांचकारी भविष्य की अटकलें होती हैं. अगले लोकसभा चुनाव की भविष्यवाणी भी रोचक हो सकती है.