close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

वरुण गांधी ने लिखी किताब, भारत के किसानों के दर्द को किया बयां

भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी दिसंबर में एक किताब प्रकाशित करने जा रहे हैं, जिसका नाम 'रूरल मेनिफेस्टो' है.

वरुण गांधी ने लिखी किताब, भारत के किसानों के दर्द को किया बयां

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी दिसंबर में एक किताब प्रकाशित करने जा रहे हैं, जिसका नाम 'रूरल मेनिफेस्टो' है. यह किताब ग्रामीण अर्थव्यवस्था को आत्मनिर्भर बनाने पर ध्यान देने के लिए विकास नीति में संभावित समाधान सुझाएगी. नई दिल्ली स्थित रूपा प्रकाशन ने मंगलवार को यह जानकारी दी. प्रकाशक ने एक बयान में कहा, " 'रूरल मेनिफेस्टो' गांवों के संकट पर राष्ट्रीय परिचर्चा आयोजित करने का काम करेगी और गांव की अर्थव्यवस्था को खुद के बूते खड़ा रखने का संभावित समाधान सुझाएगी. " यह पुस्तक भारतीय ग्रामीण अर्थव्यवस्था के पहलुओं की जानकारी देगी.

इसमें लेखक ने हाशिये पर पड़े किसानों के संघर्ष पर प्रकाश डाला है और आजादी के छह दशक बाद भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था दिक्कत में क्यों है, इस सवाल का जवाब तलाशने का प्रयास किया. वरुण गांधी 2014 में सुल्तानपुर संसदीय क्षेत्र से चुने गए थे. वे साल 2008-11 तक भारतीय जनता पार्टी के सबसे कम उम्र के राष्ट्रीय सचिव रहे हैं और साल 2011-14 तक पार्टी के सबसे युवा राष्ट्रीय महासचिव रहे हैं. इसके अलावा वे राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य भी हैं.