close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर को लेकर शाहिद अफरीदी ने फिर अलापा उल्टा राग, किताब में लिखी यह बात

अफरीदी की आत्मकथा का नाम ‘गेम चेंजर’ है, जिसमें उन्होंने अपनी जिंदगी, क्रिकेट से जुड़ी कई कहानियों को बयां किया है. 

कश्मीर को लेकर शाहिद अफरीदी ने फिर अलापा उल्टा राग, किताब में लिखी यह बात
शाहिद अफरीदी (फाइल फोट)

नई दिल्ली:  पाकिस्तान के विस्फोटक बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने अपनी आत्मकथा में कश्मीर को लेकर उल्टा राग अलापा है. उन्होंने  कहा कि 'कश्मीर कश्मीरियों का है. ना भारतीयों का और ना पाकिस्तानियों का. प्रथम एवं सर्वोच्च तथ्य यह है कि कश्मीर, कश्मीर के लोगों का है.'  बता दें कि यह एक अटल सच है कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है.  अफरीदी इससे पहले भी कश्मीर को लेकर विवादित बयान देते  रहे हैं.

पाकिस्तान के विस्फोटक बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने अपनी आत्मकथा में भारत पाकिस्तान से जुड़े कई मुद्दों पर अपनी राय जाहिर की है. अफरीदी ने कश्मीर, करतारपुर गलियारा, विंग कमांडर अभिनंदन का जिक्र भी अपनी आत्मकथा में किया है.  शाहिद अफरीदी का मानना है कि प्रधानमंत्री इमरान खान को कश्मीर का मुद्दा हल करने के लिए और कदम उठाने चाहिए.

आफरीदी की आत्मकथा का नाम है ‘गेम चेंजर’
अफरीदी ने अपनी आत्मकथा में अपने यह विचार व्यक्त किए हैं. हालांकि अफरीदी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री के बारे बयानबाजी करना आसान है और उनकी तरह काम करना कठिन. अफरीदी की आत्मकथा का नाम ‘गेम चेंजर’ है, जिसमें उन्होंने अपनी जिंदगी, क्रिकेट से जुड़ी कई कहानियों को बयां किया है.

और क्या लिखा है अफरीदी ने आत्मकथा में?
‘गेम चेंजर’ को अफरीदी ने पत्रकार वजाहत एस खान के साथ मिलकर लिखा है और ‘हार्परकॉलिन्स इंडिया इम्प्रिंट हॉर्पर स्पोर्ट्स’ ने इसे प्रकाशित किया है. अफरीदी ने कहा कि खान का नया पाकिस्तान, भारत के साथ जैसे संबंध बना रहा है वह उसके बड़े प्रशंसक हैं.

अफरीदी ने अपनी किताब में करतारपुर गलियारे, पाकिस्तान द्वारा भारतीय वायु सेना के पालयट अभिनंदन को वापस भारत को सौंपने जैसी घटनाओं का जिक्र भी किया है.