close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी सरकार में मुनाफ़ा दे रही है एयर इंडिया, 'नो फ्लाई लिस्ट' पूरे विश्व में अद्भुत: जयंत सिन्हा

मोदी सरकार में मुनाफ़ा दे रही है एयर इंडिया, 'नो फ्लाई लिस्ट' पूरे विश्व में अद्भुत: जयंत सिन्हा
रीज़नल चैनल्स के सीईओ जगदीश चंद्र के साथ उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा.

ज़ी मीडिया के ख़ास शो A DIALOGUE WITH JC में ज़ी रीज़नल चैनल्स के सीईओ और एक्ज़ीक्यूटिव डायरेक्टर जगदीश चंद्र के साथ इस बार रूबरू हुए उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा. हज़ारीबाग से पहली बार सांसद बने जयंत पिता यशवंत सिन्हा की विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं. राजनीति में आने से पहले वो 25 साल तक कॉरपोरेट जगत से जुड़े रहे. लेकिन अब मोदी कैबिनेट में पहले वित्त राज्यमंत्री और फिर बतौर उड्डयन राज्यमंत्री देश की सेवा कर रहे हैं. 

जगदीश चंद्र से ख़ास बातचीत में हाल ही में लॉन्च हुई उड़ान स्कीम पर जयंत सिन्हा ने कहा कि अभी रीज़नल कनेक्टिविटी के साथ 5 विमान कंपनियां जुड़ी हैं. जैसे जैसे डिमांड बढ़ेगी हर रूट पर इस स्कीम के तहत और विमान जोड़े जाएंगे. उन्होंने ख़ास तौर पर कहा कि इस स्कीम के लिए सभी राज्य सरकारों का उन्हें सहयोग मिल रहा है. जयंत सिन्हा ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट में नए एयरपोर्ट्स की बड़ी संभावनाएं हैं साथ ही उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि सिक्किम में पहली बार एयरपोर्ट बना है और गुवाहाटी में वो नया मल्टीमॉडल एयरपोर्ट बनवाने वाले हैं. 

एयर इंडिया की वित्तीय हालत पर जयंत ने कहा कि उसके कायाकल्प की तैयारी हो चुकी है. किराये की वृद्धि पर पूछे गए सवाल पर जयंत ने इस बढ़ोत्तरी का सबसे बड़ा कारण ईंधन की कीमत और सिक्योरिटी पर ख़र्च को बताया. दिल्ली और मुंबई में भीड़ भाड़ पर पूछे गए सवाल के जवाब में जयंत सिन्हा ने कहा कि दिल्ली में सुधार की गुंजाइश तो है लेकिन मुंबई में एक ही रवने होने की वजह से पूरे नेटवर्क पर दबाव है. इसी के साथ उन्होंने पश्चिमी यूपी में एक एयरपोर्ट को वक्त की ज़रूरत बताया और कहा कि इससे ना सिर्फ भीड़ भाड़ कम होगा बल्कि यहां के उद्योगों को भी फायदा होगा. सांसद गायकवाड़ जैसी घटनाएं भविष्य में ना हों इसलिए पहली बार उनका मंत्रालय सेफ्टी के लिहाज से भी नो फ्लाई लिस्ट तैयार कर रहा है. 

ख़ास बातचीत का वीडियो

उड्डयन राज्यमंत्री से जगदीश चंद्र ने सरकार के अगले दो साल के रौडमैप पर भी सवाल किया जिसपर सिन्हा ने कहा कि ग़रीबों को बेहतर सुविधाएं देना उनकी सरकार का लक्ष्य है. जयंत सिन्हा ने अपने क्षेत्र हजारीबाग में एयरपोर्ट बनवाने की बात कही साथ ही झारखंड सरकार की तारीफ़ करते हुए सिन्हा ने झारखंड में गांव-गाव बिजली और सड़क के साथ साथ डोभा निर्माण का भी जिक्र किया. 

जयंत सिन्हा ने विकास के मोदी मॉडल की चर्चा करते हुए इसे दूसरे विकासशील देशों के लिए मिसाल बताया. जयंत सिन्हा के मुताबिक देश में बीजेपी की लहर है. यूपी में जीत का श्रेय जयंत सिन्हा ने पीएम मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को दिया साथ ही केंद्र सरकार और राज्यों में बीजेपी सरकारों पर लोगों के बढ़ते भरोसे को जयंत सिन्हा ने मोमेंटम मोदी टर्म दिया और साफ़ कहा कि 2019 क्या 2034 तक कोई उनके इस मॉडल को टक्कर नहीं दे सकता. पेश हैं बातचीत के मुख्य अंश... 

प्रश्न 1- वित्त मंत्रालय से विमानन में आने को कुछ लोगों ने demotion की तरह देखा था... लेकिन आप कैसे हर स्थिति को अवसर में बदल कर देते हैं ?
 
उत्तर- विमानन मंत्रालय में आना एक शानदार मौका रहा... विमानन बुनियादी ढांचा का बहुत ज़रूरी सेक्टर है... इसलिए अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए एयर कनेक्टिविटी में सुधार बेहद जरूरी था... हमने तीन कामों पर ध्यान देना शुरू किया... पहला टीयर-3 और टीयर-4 शहरों को हवाई सेवा (air connectivity) से जोड़ना, दूसरा बड़े शहरों में हवाई सेवा (air connectivity) में सुधार लाना, यात्रियों को बेहतर सुविधाएं देना और तीसरा जल्द से जल्द नए-नए एयरपोर्ट टर्मिनल्स का निर्माण करवाना. विमानन में इन तीनों कामों को पूरा करना अपने आप में बड़ा मौका है.
 
प्रश्न 2- आप इस मंत्रालय में सबसे बड़ा योगदान क्या महसूस करते हैं ?
 
उत्तर- विमानन क्षेत्र में 75 साल में 75 हवाईअड्डे खुले थे, लेकिन हमने एक साल में 33 नए एयरपोर्ट शुरू किए हैं.... जो अपने-आप में बड़ी उपलब्धि है... शिमला के लोग एयरपोर्ट शुरु होने से बेहद उत्साहित हैं..
 
प्रश्न 3- लेकिन शिमला में तो सिर्फ एक ही फ्लाइट शुरू हुई है ...
 
उत्तर- जैसे-जैसे डिमांड बढ़ेगी और सवारियां आएंगी वहां हम और फ्लाइट्स जोड़ते चले जाएंगे.... सेक्टर की ग्रोथ हो रही है.... लेकिन अभी हमारे पास पायलट्स और प्लेन्स की कमी है... 
 
प्रश्न 4- 100 नए एयरपोर्ट्स आप बना रहे हैं... लेकिन क्या ये साल 2019 तक बनकर तैयार हो जाएंगे ?
 
उत्तर- हमारी कोशिश 40 से 50 को पूरा करने की है... देश में बहुत सारे हवाई पट्टी (Air Strips) हैं...उदाहरण के लिए डाल्टनगंज में 1 कि.मी. का रनवे है... और भी बहुत से रनवे हैं जो world war-2 और महाराजाओं के वक्त के हैं... इन्हें हम एयरपोर्ट की तरह विकसित कर सकते हैं..
 
प्रश्न 5-  क्षेत्रीय संयोजन (Regional Connectivity) में कौन से प्राइवेट एयरलाइन्स आपको सबसे ज्यादा स्पोर्ट कर रही हैं ?
 
उत्तर-  क्षेत्रीय संयोजन (Regional connectivity) में हमने पूरी एक इंडस्ट्री को तैयार किया है... कई शहरों में हवाई संयोजन (air connectivity) की मांग ज्यादा है... जिसे पूरा करने के लिए हमने 5 एयरलाइन्स को खड़ा किया है... इनमें एयर इंडिया की अनुषंगी (सब्सिडरी) एलायन्स एयर, स्पाइसजेट, एयर डेक्कन, ट्रू जेट और एयर ओडिशा शामिल हैं...  हमें उम्मीद है कि जल्द ही और भी एयरलाइन्स हमारे साथ जुड़ेंगी.
 
प्रश्न 6- राज्य सरकारों से कितना सहयोग मिल रहा है ?
 
उत्तर- 22 राज्य सरकारों ने विमानन एमओयू साइन कर लिया है... एमओयू के बाद टैक्स कम करने में, एयरपोर्ट पर सुविधाएं देने में और सब्सिडी पर टॉप-अप देने में राज्य सरकारें सहयोग करती हैं. हमारी कोशिश हर commissionerate को जोड़ने की है.... 
 
प्रश्न 7- प्रधानमंत्री की प्राथमिकता नॉर्थ ईस्ट है...इसके लिए आप क्या ख़ास कर रहे हैं ?
 
उत्तर- दूसरे विश्वयुद्ध में यहां बहुत से रनवे बनाए गए थे...अब हमारी कोशिश है कि इनमें सबसे ठीक रनवे का नवनिर्माण किया जाये और वहीं एयरपोर्ट बनवा दें...हमने शिलांग में एयरपोर्ट का विस्तारीकरण किया है, सिक्किम के पैक्यांग में एयरपोर्ट बन रहा है... हम चाहते हैं कि, गुवाहाटी में एक नया एयरपोर्ट बने....जिसे AEROTROPOLIS के रुप में विकसित किया जाएगा... जहां मल्टीमॉडल कनेक्टीविटी यानी सड़क-ट्रेन,एयरपोर्ट और वॉटर-वे कनेक्शन हो... जिससे गुवाहाटी नॉर्थ ईस्ट का हब बन सके.
 
प्रश्न 8- एयर इडिया का फाइनेंशियल स्टेट्स क्या है ?
 
उत्तर- एयर इंडिया के हालात अब सुधर रहे हैं... पिछली सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र उद्योग (PUBLIC SECTOR ENTERPRISES) की हालत ख़राब कर दी थी... पिछले तीन साल से एयरइंडिया (AIR INDIA) परिचालन में मुनाफ़ा (OPERATIONAL PROFIT) दे रही है, लेकिन अभी भी एयर इंडिया पर 48 हजार करोड़ का ऋण है... हर साल 4 हजार करोड़ रुपये ब्याज देना पड़ रहा है... उसके चलते एयर लाइन्स घाटे में चल रही है... हमने रूपांतरणीय योजना (Transformational plan) तैयार किया है, जिसके तहत हम एयर इंडिया को टॉप इंटरनेशनल एयरलाइन्स की श्रेणी में लाने की कोशिश कर रहे हैं
 
प्रश्न 9- सुना है एयरपोर्ट की सुरक्षा ख़र्च (security cost) को वहन करने के लिए यात्री किराए में बढ़ोत्तरी होने वाली है ?
 
उत्तर- हवाई किराए (air fares) में ईधन, एयरपोर्ट चार्ज और सिक्योरिटी चार्ज के हिसाब से उतार-चढ़ाव होते रहते हैं... दिल्ली, मुम्बई, रांची हर एयरपोर्ट का सिक्योरिटी चार्ज अलग होता है... लेकिन हम गृह मंत्रायल से बात कर रहे हैं, ताकि एक एकीकृत सुरक्षा संरचना (unified security architecture) को विकसित किया जा सके... इससे सिक्योरिटी एजेंसी नेटवर्क पर नज़र रख सकेगी.
 
प्रश्न 10- नवी मुंबई के एयरपोर्ट का मुद्दा 10-12 साल से चल रहा है... आपका कहना है साल 2020 तक एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएगा ....क्या ऐसा हो पाएगा ?
 
उत्तर- हमने स्तरीय समतलीकरण (levelling) और जमीनी कार्य (ground work) पूरा कर लिया है... जीवीके को कॉट्रेक्ट दे दिया गया है... स्टेज 2 में पर्यावरणीय क्लिरन्स (environmental clearance) भी दिलवा दिया गया है... काम जोर शोर से चल रहा है... लेकिन यहां दो छोटे-2 पहाड़, एक नदी और समुद्र से नजदीकी काम को थोड़ा मुश्किल बना देते हैं... हमें उम्मीद है एक-डेढ़ साल में ये सब समतलीकरण का काम हो जाएगा.. जैसे ही हम एक रनवे और ट्रर्मिनल का काम पूरा कर लेंगे... इसका इस्तेमाल शुरू हो जायेगा
 
प्रश्न 11- यूपी के सीएम ने नोएडा के पास एयरपोर्ट बनाने की बात है... आपका क्या कहना है?
 
उत्तर- पश्चिमी उत्तर प्रदेश में नए एयरपोर्ट की जरूरत है... जो नोएडा, ग्रेटर नोएडा, मेरठ, मुजफ्फरनगर, आगरा और आसपास के शहरों को केटर कर सके... साथ ही यहां उद्योगों ने काफी विकास किया है... जिसे एयरपोर्ट खुलने से काफी फायदा होगा..
 
प्रश्न 12- एयरपोर्ट्स पर एयर यातायात नियंत्रण प्रणाली (Air Traffic Control system कैसे काम कर रहा है?
 
उत्तर- एयर यातायात प्रबंधन (Air traffic management) में मुंबई एयरपोर्ट दुनिया के टॉप एयरपोर्ट्स में आता है... UK का गेटविक एयरपोर्ट दुनिया का सबसे सक्षम एयरपोर्ट (efficient airport) है... यहां एक घंटे में 50 से ज्यादा फ्लाइट्स टेक ऑफ और लैंड करती हैं... हमारे मुंबई एयरपोर्ट पर ये संख्या करीब 48 पर पहुंच गई है... जो बताता है कि ये काफी सक्षम एयरपोर्ट (efficient airport) है... दिल्ली एयरपोर्ट पर भी काफी काम किया गया है... Air Traffic Control system,  Air traffic management & Safety पर हमारा सबसे ज्यादा ध्यान है..
 
प्रश्न 13- आए दिन हम सुनते हैं कि आकाश में विमान टकराते हुए बचे...तो एयर ट्रैफिक कंट्रोल फिर कैसे?
 
उत्तर-  'हम लोगों ने अध्ययन (स्टडी) किया है सुरक्षा युक्तिपूर्वक (safety strategically) जो है वो यात्रियों की संख्या number of passengers, number of movment, उड़ान भरने की संख्या (taking off), उड़ान उतरने की संख्या (landing) इसको हम युक्तिपूर्वक (strategically) देखें तो कोई खास अंतर नहीं आया है. लेकिन कोई दुर्घटना होती है तो मीडिया में जोर-शोर से चलाया जाता है तब लोगों को लगता है कि बहुत कुछ गड़बड़ हो गया है लेकिन हम युक्तिपूर्वक विश्लेषण (strategically analyse) करें तो ऐसा नहीं लगता कि कुछ बदला है.'
 
प्रश्न 13- हवाई भीड़ भाड़ (air congestion) का क्या करेंगे खासतौर से मुम्बई-दिल्ली में?
 
उत्तर- 'मुम्बई में एक ही रन-वे है जिसकी वजह से भीड़ भाड़ (congestion) की परेशानी हो रही है दिल्ली में दूसरी समस्या है वहां तीन रन-वे हैं लेकिन वहां एक डिफेंस का एयर स्पेस है और एक वीआईपी एरिया के कारण वहां जहाज नहीं जा सकते. जिसकी वजह से भीड़ भाड़ होती है'
 
प्रश्न 14- पिछले दिनों मुम्बई के सासंद ने एयर-इंडिया के स्टाफ को चप्पलों से मारा... एयर-इंडिया ने उसे बैन कर दिया फिर बैन हटा दिया... एयर-इंडिया के लोग महसूस करते हैं की राजनीति के अंदर दबाव आदर और गरिमा से समझौता करना पड़ता है?
 
उत्तर- 'जो हम लोगों ने कदम लिया है वो पूरे विश्व में अद्भुत है. कई देशों में no fly list है लेकिन वो सिर्फ आतंकवादी हमले या खतरे के समय के लिए हैं, लेकिन पैसेंजर द्वारा दुर्व्यवहार के लिए पूरे विश्व में नहीं है जिसे हम लोगों ने चालू किया है. तो आगे कोई ऐसी घटना घटेगी तो हम संभाल सकते हैं.'
 
प्रश्न 15-  No fly list कानून कब तक बन जायेगा?

उत्तर- '3-4 हफ्ते लगेंगे उसके बाद हम ये कानून बना देंगे'
 
प्रश्न 16- क्या विज़न है 2 साल के लिए इस मंत्रालय में?
 
उत्तर- 'हमारी सरकार गरीबों की सरकार है हमारी कोशिश है कि हम गरीबों को  जो सुविधा दें वो भरपूर हो.. इसमें बहुत से काम हो चुके हैं... विद्युतीकरण, सड़कों का काम, एयर कनेक्टीविटी ये सभी सुविधाएं हम 2 साल में लोगों को देना चाहते हैं. दूसरा लक्ष्य है बिजनेस को साधन देना जिससे कंपनी का अच्छा ग्रोथ हो और सबको रोज़गार मिले. तीसरा सबसे महत्वपूर्ण काले धन और कर संग्रहण (Tax collection) पर ध्यान देकर हम इसे बढ़ाएं. हम लोग नकदी अर्थव्यवस्था (कैश इकोनॉमी) को कम कर रहे हैं और फॉर्मल इकोनॉमी को प्रोत्साहन दे रहे है. नोटबंदी (Demonetisation) और जीएसटी (GST) के द्वारा किया है.'
 
प्रश्न 17- नोटबंदी के बाद से नं.2 खत्म हो गया है?
 
उत्तर- 'नोटबंदी के द्वारा देश में एक बहुत बड़ा संदेश गया है कि आप कैश में जो कर रहें हैं वो गलत है देश के विरुद्ध है अगर हमें देश को आगे ले जाना है तो सब कुछ डिजिटल करना पड़ेगा. सब कुछ जीएसटी (वस्तु व सेवा कर) के द्वारा करना पड़ेगा तभी हमारा देश आधुनिक और शक्तिशाली बन सकता है'
 
प्रश्न 18- आप झारखण्ड और हज़ारीबाग के लिए क्या कर रहे हैं?
 
उत्तर- 'हजारीबाग के लिए हम एक नया एयरपोर्ट बनवा रहे हैं. जैसे ही भूमि अधिग्रहण हो जायेगा हम लोग एयरपोर्ट का काम चालू करा देंगे.'
 
प्रश्न 19- मोमेंटम झारखण्ड में हजारीबाग के लिए कोई प्रस्ताव आया?
 
उत्तर- 'एनटीपीसी का पतरातू में 24 हजार करोड़ का निवेश होने वाला है.. 4000 मेगा वॉट का पावर प्लांट बनने वाला है जो पूरे देश में बहुत विशाल प्लांट होगा. पतरातू बिजली का केन्द्र बिन्दू बनने वाला है मेडिकल कॉलेज आ रहा है. एग्रीकल्चर रिसर्च यूनिवर्सिटी बनाने वाले हैं.'
 
प्रश्न 20- आपके मित्र रघुवर दास कैसा काम कर रहे हैं?
 
उत्तर- 'वहां सड़कों का जाल बन चुका है, ट्रांसफर्मर की किल्लत दूर हो गई है, हर गांव में बिजली पहुंच रही है. पानी के लिए डोभा का निर्माण किया है. मोमेंटम झारखण्ड के द्वारा जो इंडस्ट्रीज आनी थी वो आ रही हैं. हमारा स्टेट जीडीपी आज के समय में देश के सबसे टॉप स्टेट्स में से एक है'
 
प्रश्न 21- झारखण्ड में लोग कहते हैं कि राजनीतिक तौर पर 'सब कुछ नहीं' है ये सीनेरियो क्या है?
 
उत्तर- 'सीएनटी और एसपीटी वाले मामले में लोगों ने काफी बहस किया, चर्चा की जो झारखण्ड के विकास के लिए अनिवार्य था. लेकिन उस पर हमारे ठोस कदम लेने पर जनता ने उसका स्वागत किया है और विकास के लिए बहुत लाभ मिलेगा'
 
प्रश्न 22- कुछ लोग कहते हैं कि झगड़े से दूर रह कर आपने वहां की राजनीति में दिलचस्पी थोड़ी कम ली?
 

उत्तर- 'झारखण्ड के लिए जो भी कुछ करने की ज़रूरत है वो मैं करने के लिए तैयार हूं.'
 
प्रश्न 23- ग्लोबल ऑर्डर बना रहे हैं?
 
उत्तर- 'बिलकुल हो रहा है हम लोग कम नैचुरल रिसोर्स उपयोग कर के बहुत ही टिकाऊ तरीके से हमारे देश का विकास कर रहे हैं'
 
प्रश्न 24- सुप्रीम कोर्ट में जो मुद्दा चल रहा है आधार कार्ड, पैन कार्ड ये सब क्या है?
 
उत्तर- 'आधार कार्ड के बिना आपकी यूनीक पहचान नहीं बन सकती यूनीक पहचना हमें बहुत से कारण के लिए चाहिए. लेकिन हमें लोगों की निजता के बारे में भी सोचना है जिस पर अच्छी चर्चा चल रही है और हमें पूरा भरोसा है कि इसका एक अच्छा समाधान होगा और जब होगा तो इससे देश को बहुत फायदा होगा.'
 
प्रश्न 25- ख़राब कर्ज़ (Bad loan) को संभालने के लिए जो नया अध्यादेश (ऑर्डिनेन्स) आया है इसका क्या असर (इम्पैक्ट) होगा?
 
उत्तर- 'ख़राब कर्ज़ की संख्या बढ़ते-बढ़ते अब 10 लाख करोड़ हो गई है इसको हम लोगों को कम करना है, ये हमारी अर्थव्यवस्था पर एक बहुत बड़ा बोझ बन कर बैठा हुआ है'
 
प्रश्न 26-  उत्तर प्रदेश में आप लोगों ने क्या चमत्कार किया?
 
उत्तर- 'जनता भाजपा और प्रधानमंत्री को चाहती है और हम जो विकास की राजनीति कर रहे हैं, ईमानदारी की राजनीति कर रहे हैं, जनता वो ही चाहती है और योगी जी कर के भी दिखा रहे हैं... उनका एक लक्ष्य है उत्तर प्रदेश का विकास'
 
प्रश्न 27- उत्तर प्रदेश में जो अप्रत्याशित जीत हुई है वो प्रधानमंत्रई की इमेज थी या अमित शाह का होमर्वक था या कॉकटेल?
 
उत्तर- 'प्रधानमंत्री जी की छवि और अमित शाह जी की सोच, प्लानिंग तो बेमिसाल है ही इसके अलावा स्थानीय नेता योगी जी, राजनाथ जी का योगदान भी शानदार रहा इसके अलावा वहां के कार्यकर्ता ने बेजोड़ मेहनत की'
 
प्रश्न 28- अभी अमित शाह त्रिपुरा में हैं क्या लगता है सरकार बनेगी?
 
उत्तर- 'पूरे देश में भाजपा की लहर है माननीय प्रधानमंत्री जी की लहर है. हमारी राजनीति पर मुहर लग गई है और वो विकास का मुहर है, ईमानदारी का मुहर है, मेहनत का मुहर है. आप बाकी राज्य का ट्रैक रिकॉर्ड देख लें जहां हमारी सरकार है तब आपको पता चलेगा कि जनता कमल का बटन क्यों दबाती है.'
 
प्रश्न 29- आमतौर पर 3 साल के बाद सत्ता विरोधी लहर (anti incumbency) फैक्टर काम करता है लेकिन मोदी जी के मामले में विपरीत हो रहा है... आप इस विरोधाभास को कैसे देखते हैं
 
उत्तर- 'जैसे-जैसे लोग उनके विज़न के बारे में जानने लगे वैसे-वैसे लोगों का विश्वास उन पर बढ़ता चला गया मोमेंटम बढ़ता चला गया.'
 
प्रश्न 30- क्या लगता है नरेन्द्र मोदी और अमित शाह का जो कॉम्बिनेशन है उसे लेकर पश्चिम बंगाल, उड़ीशा, केरल यहां भी सरकार बनाएंगे?
 
उत्तर- 'जहां-जहां हमें मौका मिलेगा वहां-वहां हम जीत के दिखाएंगे'
 
प्रश्न 31- अभी जो गोवा में हुआ, मणिपुर में, गुजरात में होने वाला है, तो लोग कहते हैं, बीजेपी अपना चाल चरित्र छोड़कर जोड़ तोड़ की पार्टी बनती जा रही है
 
उत्तर- जो भी विधायक चुनके आते हैं, वो तय करते हैं कि कौन सी सरकार बनेगी.. चाहे आप गोवा को देख लें, मणिपुर को देख लें.. वहां विधायकों ने तय किया, सरकार किसकी बनेगी..
 
प्रश्न 32- राष्ट्रपति चुनाव के लिए कोई सर्वसम्मत उम्मीदवार
 
उत्तर- हम लोगों की विचारधारा है, हमारे नेता हैं, जो सबके प्यारे हैं.. सब लोग उनको चाहते हैं.. सब लोग उनका काम देख रहे हैं.. ये एक तरफ और दूसरी तरफ जो खिचड़ी बन रही है.. तो ये सब देखते हुए आपको पता है कि जनता किसे मतदान करेगी..
 
प्रश्न 33- राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति चुनाव आपकी पार्टी जीतने जा रही है
 
उत्तर- बिल्कुल, जो आंकड़े हैं वो ही आपको बता देते हैं.. 
 
प्रश्न 34- कुल मिलाकर 2019 के बाद भी एक और 5 साल के कार्यकाल की तैयारी है?
 
उत्तर- आप 2034 की बात कीजिए तो हम लोग चर्चा कर सकते हैं..