Air Vistara में नहीं होगी छंटनी, कंपनी ने दी सफाई, लेकिन सैलरी पर अब भी लटकी तलवार

टाटा समूह और सिंगापुर एयरलाइंस के स्वामित्व वाली एयरलाइंस कंपनी एयर विस्तारा ने ऐलान किया है कि फिलहाल कंपनी की तरफ से किसी भी कर्मचारी को निकाला नहीं गया है.

Air Vistara में नहीं होगी छंटनी, कंपनी ने दी सफाई, लेकिन सैलरी पर अब भी लटकी तलवार
फाइल फोटो

नई दिल्ली: टाटा समूह और सिंगापुर एयरलाइंस के स्वामित्व वाली एयरलाइन एयर विस्तारा (Air Vistara) ने ऐलान किया है कि फिलहाल कंपनी की तरफ से किसी भी कर्मचारी को निकाला नहीं गया है. इसके साथ ही कंपनी आगामी महीने से डेली फ्लाइट्स की संख्या भी बढ़ाने जा रही है. कंपनी जनवरी 2021 में सैलरी कटौती को लेकर के समीक्षा करेगी. 

दिसंबर 2020 तक सैलरी कटौती
विस्तारा के सीईओ लेस्ली थेंग ने कहा कि सभी नौकरियों को सुरक्षित रखने के इरादे से हमने कर्मचारियों के लेवल पर लागत में कमी लाने के लिए सैलरी में कटौती का कठिन फैसला किया था. यह कटौती दिसंबर, 2020 तक के लिये है. 

डेली फ्लाइट्स की संख्या में होगी बढ़ोतरी
कोरोना वायरस महामारी से पहले विस्तारा हर दिन 34 डेस्टिनेशंस के लिए 200 से ज्यादा फ्लाइट ऑपरेट कर रही थी. महामारी के बाद 25 मई से कंपनी ने फिर से परिचालन शुरू किया. फिलहाल कंपनी रोजाना 80 फ्लाइट्स का संचालन कर रही है. इसको अगले महीने से बढ़ाकर 100 किया जाएगा. 

 थेंग ने कहा घरेलू हवाई सफर शुरू होने के पहले कुछ सप्ताह में ज्यादातर दबी डिमांड देखने को मिली है. महामारी को काबू में करने के लिए लगाए गए ‘लॉकडाउन’ के चलते डोमेस्टिक फ्लाइट सर्विस 25 मार्च से 24 मई तक के लिए सस्पेंड थी. वहीं इंटरनेशनल फ्लाइट अभी भी सस्पेंड हैं. कुछ इंटरनेशनल फ्लाइट्स एयर बबल एग्रीमेंट के तहत ऑपरेट की जा रही हैं. इसके अलावा विमानन नियामक डीजीसीए की मंजूरी से कुछ फ्लाइट भारतीय आकाश में ऑपरेट हो रही हैं.

यहां के लिए शुरू होगी इंटरनेशनल फ्लाइट्स
एयर बबल के तहत कंपनी जल्द ही पेरिस और फ्रैंकफर्ट के लिये फ्लाइट्स शुरू करने की तैयारी में है. इससे पहले दिल्ली-मुंबई से दुबई और दिल्ली से लंदन के लिए स्पेशल फ्लाइट्स को कंपनी शुरू कर चुकी है. हालांकि डिमांड अब भी कोविड के पहले के लेवल के मुकाबले कम है. लेकिन इसमें लगातार सुधार हो रहा है जो एक पॉजिटिव संकेत है. कुछ रूट पर ट्रैफिक वन डायरेक्शनल है लेकिन बड़े महानगरों में डिमांड फिर से लौट रही है.

यह भी पढ़ेंः लगातार सातवें साल भारत का सबसे 'वैल्यूएबल ब्रांड' बना HDFC Bank, जानिए क्या रही वजह

ये भी देखें-