एयरटेल, वोडाफोन और जियो ने TRAI को दिया कॉल ट्रैफिक का ब्यौरा

भारती एयरटेल, वोडाफोन और रिलायंस जियो सहित विभिन्न दूरसंचार कंपनियों ने अपने अपने नेटवर्क से आने जाने वाली कॉल का ब्यौरा दूरसंचार नियामक ट्राई को सौंप दिया है। ट्राई को इस डेटा से कंपनियों के नेटवर्क पर विषम ट्रैफिक सहित अन्य तथ्यों के विश्लेषण में मदद मिलेगी। नियामक इंटरकनेक्शन उपयोग शुल्क (आईयूसी) के संबंध में अपने परामर्श पत्र के तहत यह कदम उठा रहा है।

एयरटेल, वोडाफोन और जियो ने TRAI को दिया कॉल ट्रैफिक का ब्यौरा

नयी दिल्ली: भारती एयरटेल, वोडाफोन और रिलायंस जियो सहित विभिन्न दूरसंचार कंपनियों ने अपने अपने नेटवर्क से आने जाने वाली कॉल का ब्यौरा दूरसंचार नियामक ट्राई को सौंप दिया है। ट्राई को इस डेटा से कंपनियों के नेटवर्क पर विषम ट्रैफिक सहित अन्य तथ्यों के विश्लेषण में मदद मिलेगी। नियामक इंटरकनेक्शन उपयोग शुल्क (आईयूसी) के संबंध में अपने परामर्श पत्र के तहत यह कदम उठा रहा है।

सूत्रों ने बताया, ‘भारती एयरटेल, वोडाफोन, रिलायंस जियो, बीएसएनएल व एमटीएनएल ने इनकमिंग व आउटगोइंग कालों का ब्यौरा ट्राई को दाखिल कर दिया है। नियामक आईयूसी को लेकर अपने परामर्श पत्र के संबंध में नेटवर्क पर आने वाली और नेटवर्ट से की जाने वाली काल में विषमता का विश्लेषण कर सकेगा।’ 

हालांकि कंपनियों के इस आंकड़ों का उक्त दूरसंचार कंपनियों के बीच इंटरनकनेक्शन को लेकर जारी मौजूदा झगड़े से कोई लेना देना नहीं है। उल्लेखनीय है कि इंटरनेक्शन के मुद्दे को लेकर नयी कंपनी रिलांयस जियो की मौजूदा कंपनियों (जिनमें एयरटेल, वोडाफोन व आइडिया सेल्यूलर शामिल हैं) के साथ खींचतान चल रही है। नियामक ने उक्त कंपनियों को यह ब्यौरा देने के लिए 16 सितंबर तक का समय दिया था। ट्राई ने इंटरकनेक्शन उपयोग शुल्क की समीक्षा के लिए परामर्श पत्र पिछले महीने जारी किया था।