बैंक ऑफ बड़ौदा होगा मालामाल, मोदी सरकार देगी 5,042 करोड़ रुपये, बनेगा देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक

 बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ देना बैंक और विजया बैंक के विलय की योजना एक अप्रैल से अस्तित्व में आ जाएगी.

बैंक ऑफ बड़ौदा होगा मालामाल, मोदी सरकार देगी 5,042 करोड़ रुपये, बनेगा देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक
(फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली : सरकार ने बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) में विजया बैंक और देना बैंक के विलय से पहले उसमें (बीओबी) 5,042 करोड़ रुपये की पूंजी डालने का फैसला किया है. बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ देना बैंक और विजया बैंक के विलय की योजना एक अप्रैल से अस्तित्व में आ जाएगी.

बैंक ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि वित्त मंत्रालय ने बुधवार को अधिसूचना के माध्यम से बैंक ऑफ बड़ौदा में 5,042 करोड़ रुपये की पूंजी डालने की फैसले की जानकारी दी.

बीओबी ने कहा, "बैंक के इक्विटी शेयरों (विशेष प्रतिभूति/बॉन्ड) के तरजीही आवंटन के जरिए पूंजी डाली जाएगी. यह सरकार के निवेश के रूप में होगा." 

विलय की योजना के मुताबिक, विजया बैंक के शेयरधारकों को प्रति 1000 शेयरों के लिए बैंक ऑफ बड़ौदा के 402 शेयर मिलेंगे. वहीं, देना बैंक के शेयरधारकों को 1,000 शेयरों के बदले में बीओबी के 110 शेयर मिलेंगे.


फाइल फोटो

सरकार ने पिछले साल सितंबर में बीओबी के साथ विजया बैंक और देना बैंक के विलय की घोषणा की थी. इसका उद्देश्य भारतीय स्टेट बैंक और आईसीआईसीआई बैंक के बाद तीसरा सबसे बड़ा बैंक बनाना है.