जब वित मंत्री बजट पेश कर रही होंगी, बैंक रहेंगे बंद, जानें क्या है मामला

बैंक यूनियनों ने एक बार फिर 31 जनवरी और 1 फरवरी को हड़ताल करने का फैसला किया है. 

जब वित मंत्री बजट पेश कर रही होंगी, बैंक रहेंगे बंद, जानें क्या है मामला
फाइल फोटो

नई दिल्ली: वित्त मंत्री के लिए तमाम दबाव के बीच बैंक कर्मचारियों का विरोध भी इस बार चुनौती होगी. 1 फरवरी को जब केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद के पटल में बजट पेश कर रही होंगी, उस वक्त देश के सभी बैंक कामकाज छोड़ विरोध प्रदर्शन कर रहे होंगे. बैंक यूनियनों ने एक बार फिर 31 जनवरी और 1 फरवरी को हड़ताल करने का फैसला किया है. 

फरवरी में 4 दिन बंद रहेंगे बैंक
बैंक यूनियन (एआईबीईए) के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने बताया कि हमने 31 जनवरी, 1 फरवरी, 12 13 और 14 मार्च को हड़ताल का आह्वान किया है और एक अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल का आह्वान किया है। हमने ढाई साल से इंडियन बैंक एसोसिशन - Indian Bank Association के साथ बातचीत की है। पिछली बार उन्होंने कहा था कि वेतन में बढ़ोतरी 10 फीसदी हो सकती है और अब वे वेतन में 12.25 फीसदी की वृद्धि की बात कह रहे हैं, जबकि हमारी मांग 20 फीसदी बढ़ोतरी की है। उन्हें देखना चाहिए कि महंगाई बढ़ी है और बैंक कर्मचारी पर कार्य का बोझ बढ़ा है, एनपीए की वसूली हो रही है।

8 जनवरी को कर चुके हैं देशव्यापी बंद
बताते चलें कि अपनी मांगों को लेकर 8 जनवरी को भी सभी बैंक यूनियनों ने देशव्यापी हड़ताल की थी. बैंक यूनियनों समेत देश के लगभग 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने भारत बंद किया था. 24 घंटे की अखिल भारतीय हड़ताल में में 25 करोड़ से ज्यादा लोगों के भाग लिया था. इसकी वजह से ज्यादातर सरकारी बैंकों में कामकाज प्रभावित रहा था.