ED दफ्तर पहुंची चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर, 1875 करोड़ लोन मामले में पूछताछ

जानकारी के मुताबिक दोनों से 11 बजे के आसपास पूछताछ शुरू की जाएगी.

ED दफ्तर पहुंची चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर, 1875 करोड़ लोन मामले में पूछताछ
ED ने पहले समन जारी किया था. (फोटो साभार ANI)

नई दिल्ली: ICICI बैंक की पूर्व CEO और मैनेजिंग डायरेक्टर चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर को ED (Enforcement Directorate) की तरफ से समन जारी किया गया था. समन जारी होने के बाद दोनों आज ED के दिल्ली स्थित ऑफिस पहुंचे हैं, जहां उनसे वीडियोकॉन को लोन दिए जाने के मामले में पूछताछ की जाएगी.

 

 

यह मामला वीडियोकॉन ग्रुप को 1875 करोड़ रुपये लोन देने से जुड़ा है. ICICI ने 2009-2011 के बीच कंपनी को ये लोन जारी किए थे. चंदा कोचर उस समय बैंक की प्रमुख थीं. ED इस मामले की जांच कर रही है कि इस लोन को देने में किसी तरह का भ्रष्टाचार तो नहीं हुआ था. PMLA के तहत मामले की जांच हो रही है.

कोचर दंपति से पिछले महीने मुंबई में कई बार पूछताछ हुई थी. वे दिल्ली में ईडी के समक्ष पहली बार पेश हुए. ईडी ने मार्च में अपनी जांच के तहत कोचर के आवास तथा कार्यालय परिसरों की सिलसिलेवार तलाशी ली थी और चंदा तथा उनके पति दीपक कोचर के साथ-साथ वीडियोकॉन समूह के प्रमोटर वेणुगोपाल धूत से पूछताछ भी की थी. वीडियोकॉन प्रमुख वेणुगोपाल धूत ने कथित रूप से दीपक की कंपनी न्यूपावर रीन्यूवेबल्स लिमिटेड में अपनी कंपनी सुप्रीम इनर्जी के माध्यम से निवेश किया था जिसके बदले में चंदा कोचर आईसीआईसीआई बैंक से ऋण को मंजूरी दिला दें.

वीडियोकॉन समूह को दिए गए कुल 40,000 करोड़ रुपये के ऋण में से 3,250 करोड़ रुपये का ऋण आईसीआईसीआई बैंक द्वारा दिया गया था और आईसीआईसीआई के ऋण का बड़ा हिस्सा 2017 के अंत तक बकाया था. बैंक ने बकाया ऋण के 2,810 करोड़ रुपये को गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) घोषित कर दिया था.