close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ट्रेड वार के बीच अमेरिका के लिए चीन के रुख में नरमी, लिया यह फैसला

America-China Trade War : अमेरिका और चीन के बीच लंबे समय से चल रहे ट्रेड वार में चीन की तरफ से कुछ नरम रुख दिखाई दिया. चीन ने अमेरिका के प्रोडक्ट की 16 कैटेगरी के ऊपर लगे शुल्क को हटाने बुधवार को घोषणा की.

ट्रेड वार के बीच अमेरिका के लिए चीन के रुख में नरमी, लिया यह फैसला

नई दिल्ली : अमेरिका और चीन के बीच लंबे समय से चल रहे ट्रेड वार में चीन की तरफ से कुछ नरम रुख दिखाई दिया. चीन ने अमेरिका के प्रोडक्ट की 16 कैटेगरी के ऊपर लगे शुल्क को हटाने बुधवार को घोषणा की. आपको बता दें दोनों देश एक साल से भी ज्यादा से ट्रेड वार में शामिल हैं और एक-दूसरे के सैंकड़ों अरब डॉलर के सामान पर शुल्क लगा चुके हैं. चीन की तरफ से यह घोषणा उस समय की गई जब अमेरिका के साथ अगले महीने नए दौर की व्यापारिक वार्ता होने वाली है.

17 सितंबर से प्रभावी होगी छूट
सीमा शुल्क आयोग के अनुसार, यह छूट 17 सितंबर से प्रभावी होगी. छूट की समयसीमा एक साल बाद समाप्त हो जाएगी. आयोग ने शुल्क के दायरे से निकलने वाले प्रोडक्ट की दो लिस्ट जारी की. इनमें समुद्री खाद्य उत्पाद और कैंसर के रोकथाम की दवाएं शामिल हैं. यह पहला मौका है जब चीन ने कुछ प्रोडक्ट से शुल्क हटाने की घोषणा की है. छूट पाने वाले अन्य उत्पादों में अल्फाल्फा पैलेट (एक प्रकार का पशु चारा), मछलियों का चारा, चिकित्सकीय लिनियर एक्सेलेरेटर आदि शामिल हैं.

ट्रंप का दावा, चीन को 30 लाख नौकरियों का नुकसान
इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया कि उनके प्रशासन द्वारा चीन से आयात होने वाले सामान पर लगाए गए शुल्क के कारण चीन को खरबों डॉलर और 30 लाख नौकरियों का नुकसान हुआ है. ट्रंप ने कहा कि चीन के खिलाफ अमेरिका बहुत अच्छा कर रहा है.

ट्रंप ने मीडिया से यह भी कहा कि इससे हमने खरबों डॉलर कमाए हैं और चीन ने कई खरबों डॉलर खो दिए हैं. इसके साथ ही चीन ने 30 लाख नौकरियां भी गवां दी, इसमें ऐसी कंपनियों का भी योगदान है जिन्होंने चीन छोड़ दिया और अपना निवेश दूसरी जगह ले गए.