close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका के साथ व्यापार संतुलन के लिये और आयात करेगा चीन

चीन के एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को कहा कि हम द्विपक्षीय व्यापार को संतुलित करने के लिये अमेरिका से और वस्तुओं का आयात करेंगे. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यह प्रमुख मांग है.

अमेरिका के साथ व्यापार संतुलन के लिये और आयात करेगा चीन

बीजिंग : चीन के एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को कहा कि हम द्विपक्षीय व्यापार को संतुलित करने के लिये अमेरिका से और वस्तुओं का आयात करेंगे. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यह प्रमुख मांग है. दोनों देशों के बीच व्यापार युद्ध समाप्त करने के लिये व्यापार सौदे की रूपरेखा को अंतिम रूप देने को लेकर अगले महीने होने वाली महत्वपूर्ण बैठक से पहले अधिकारी ने यह बात कही.

चीनी आयात पर शुल्क बढ़ाकर 25 प्रतिशत किया
ट्रंप यह मांग कर रहे हैं कि चीन 375 अरब डॉलर का व्यापार घाटा कम करे और बौद्धिक संपदा अधिकारों (आईपीआर) संरक्षण करे तथा अमेरिकी वस्तुओं का आयात बढ़ाये. वह पहले ही अमेरिका को किये जाने वाले 250 अरब डॉलर मूल्य के चीनी निर्यात पर शुल्क बढ़ा चुके हैं. और 200 अरब डॉलर मूल्य के चीनी आयात पर शुल्क बढ़ाकर 25 प्रतिशत किया है. दोनों देश मामले को सुलझाने के लिये बातचीत कर रहे हैं.

व्हाइट हाउस ने हाल ही में कहा कि चीन के उप-प्रधानमंत्री लिऊ ही तथा अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि राबर्ट लाइटहाइजर और वित्त मंत्री स्टीवन न्यूचिन के बीच बैठक अप्रैल में वाशिंगटन में होगी. लिऊ चीन की तरफ से मुख्य वार्ताकार हैं. बातचीत से पहले उप-प्रधानमंत्री तथा पोलित ब्यूरो स्थायी समिति के सदस्य हान झेंग ने बीजिंग में रविवार को चीनी विकास मंच से कहा कि चीन आयात बढ़ाने की दिशा में काम करेगा और अमेरिका के साथ व्यापार को संतुलित करेगा.

हान ने विदेशी व्यापार प्रतिनिधियों तथा अमेरिका एवं अन्य देशों के पूर्व अधिकारियों के समक्ष कहा कि उनकी सरकार समान अवसर को लेकर प्रतिबद्ध है. हांगकांग का अखबार साऊथ 'चाइना मार्निंग पोस्ट' की रिपोर्ट के अनुसार, 'हमारा लक्ष्य व्यापार अधिशेष करना नहीं है. वास्तव में हम व्यापार संतुलन को लेकर आयात बढ़ाना चाहते हैं.'