गैस डिस्ट्रीब्यूशन लाइसेंस के लिए बोली लगाने वालों में IOC, BPCL, अडाणी आगे

सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन के तहत रिटेल मार्केटिंग लाइसेंस के लिए अडाणी ग्रुप और IOC ने बढ़-चढ़ कर बोली लगाई है.

गैस डिस्ट्रीब्यूशन लाइसेंस के लिए बोली लगाने वालों में IOC, BPCL, अडाणी आगे
86 शहरों में CNG और घरेलू गैस के लिए बोलियां मंगाई गई हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: शहरी गैस वितरण (सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन) के लिये आयोजित सबसे बड़े बोली दौर के तहत खुदरा विपणन लाइसेंस (रिटेल मार्केटिंग लाइसेंस) पाने के लिए बोली लगाने में IOC और BPCL जैसी सार्वजनिक ईंधन विपणन कंपनियां तथा निजी क्षेत्र का अडाणी समूह अग्रणी बनकर उभरे हैं. CGD के नौंवें चरण में 86 शहरों में वाहनों के लिए सीएनजी तथा घरों में पाइपलाइन के जरिये रसोई गैस की आपूर्ति के लिए बोलियां मंगायी गयी हैं. इसमें आईओसी ने 34 शहरों के लिए अकेले तथा 20 शहरों के लिए अडाणी गैस लिमिटेड की भागीदारी में बोलियां लगायी हैं.

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड द्वारा दी गयी सूचनाओं के अनुसार, अडाणी गैस लिमिटेड ने 32 शहरों के लिए अकेले बोलियां पेश की हैं. बीपीसीएल की सहयोगी इकाई भारत गैस रिसोर्सेज लिमिटेड ने 53 शहरों तथा गेल गैस लिमिटेड ने 34 शहरों के लिए बोलियां सौंपीं हैं. टोरेंट गैस लिमिटेड ने 31 शहरों तथा गुजरात गैस लिमिटेड ने 21 क्षेत्रों के लिए बोलियां लगायी हैं. इनके अलावा पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड ने सात शहरों के लिए तथा इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने 11 शहरों के लिए बोलियां सौंपीं हैं. कुल 86 शहरों के लिए 400 बोलियां मिली हैं. 

GAIL में 26-26 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीद सकती है आईओसी, बीपीसीएल

आठ शहर ऐसे भी रहे हैं जिनके लिए महज एक ही बोली मिली है. इनमें आईओसी ने बिहार के औरंगाबाद और मध्यप्रदेश के रीवा के लिए , अडाणी गैस लिमिटेड ने ओडिशा के बालासोर के लिए , गेल गैस ने ओडिशा के गंगन के लिए , भारत गैस रिसोर्सेज ने कर्नाटक के बीदर एवं उत्तर प्रदेश के अमेठी के लिए , आईओसी - अडाणी ने इलाहाबाद के लिए और गुजरात गैस ने गुजरात के नर्मदा के लिए बोलियां पेश की हैं. 

वियतनाम में पैर पसारने की तैयारी में IOC, बिन सोन रिफाइनरी में हिस्सेदारी के लिए लगाई बोली

श्रीकाकुलम - विशाखापत्तनम - विजयनगरम के लिए सर्वाधिक 15 बोलियां मिली हैं. बोली लगाने वाली अन्य कंपनियों में एस्सेल इंफ्राप्रोजेक्ट्स लिमिटेड , महानगर गैस लिमिटेड , एच - एनर्जी , यूनिसन एनवाइरो प्राइवेट लिमिटेड , आईएमसी लिमिटेड , असम गैस , थिंक गैस इंवेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड , एजीएंडपी एलएनजी मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड , आईआरएम एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड और एनर्टेक फ्युएल सॉल्युशंस प्राइवेट लिमिटेड शामिल हैं.